अयोध्या में बनेगा राम लला का भव्य मंदिर और हिंदुस्तान की सबसे बड़ी मस्जिद

अयोध्या में बनेगा भव्य राम मंदिर और हिंदुस्तान की सबसे बड़ी मस्जिद

नई दिल्ली। सर्वोच्च न्यायालय का बहुप्रतीक्षित फैसला आ गया है। अंततः न्यायपालिका ने स्वीकार कर लिया है, की अयोध्या का विवादित स्थल ही रामलला का जन्म स्थल है और यह सारी जगह रामलला के मंदिर निर्माण हेतु प्रदान कर दी गई है। आदेश के अनुसार यह कार्य केंद्र सरकार को सौंपा गया है, कि वह तीन महीनों में नियम निर्माण करें। ट्रस्ट बनाएं और मंदिर के निर्माण के कार्य को नियमानुसार संचालित करें ।

वहीं दूसरी ओर भारतीय संविधान की संप्रभुता और धर्मनिरपेक्षता के सिद्धांतों का अनुकरण करते हुए माननीय सर्वोच्च न्यायालय ने मुस्लिम समुदाय सुन्नी वक्फ बोर्ड को वैकल्पिक 5 एकड़ की जगह प्रदान कर मस्जिद निर्माण करने के लिए भी निर्देश जारी किए हैं ।साथ ही निर्मोही अखाड़े का सेवा करने संबंधी दावा खारिज कर मुख्य विवाद में उन्हें हिस्सा नहीं माना है। इसी तरह न्यायालय ने शिया र्बोर्ड का भी दावा खारिज कर दिया है ।सुन्नी वक्त बोर्ड के अधिवक्ता ने माननीय सर्वोच्च न्यायालय के इस निर्णय का स्वागत किया है और माना है, कि इस्लाम भी श्री राम के अस्तित्व को मान्यता देता है। और बड़े हर्ष प्रकट करते हुए कहा है ,कि भारत की सबसे बड़ी मस्जिद का निर्माण अयोध्या में होगा ।कुल मिलाकर सभी पक्षों ने माननीय सर्वोच्च न्यायालय के इस निर्णय का स्वागत किया है और इस तरह एक बड़ा विवाद का निर्णय हो जाने से भारतवर्ष में अमन चैन का माहौल बन गया है । सभी धर्म और संप्रदाय के लोगों ने इस अवसर पर जिस तरह अमन और चैन का संकल्प लिया है और न्यायालय के निर्णय को हृदय से स्वीकार किया है, वह समूचे विश्व के लिए एक मिसाल बन गया है ।

Related posts

Leave a Comment