ऐसे है मुख्यमंत्री कमलनाथ

बिजली का बिल देखकर एक दूसरे से कानाफूसी करने लगे उपभोक्ता ,………..
क्या इस महीने रीडिंग नहीं हुई है??
क्या आप के घर भी इतना ही बिजली का बिल आया है??
आखिर क्या हुआ इस बार की बिजली के बिल में जो उपभोक्ताओं के बीच संशय बना हुआ है??
…………..
असल बात यह है कि विद्युत उपभोक्ताओं को 100 यूनिट के भीतर खपत करने पर 50 से ₹85 तक के बिजली बिल जारी किए गए हैं ।
इतने कम बिजली का बिल आने पर उपभोक्ताओं में संशय हो गया है कि इस बार रिडिंग हुई है या नहीं??

हालांकि 150 से अधिक बिजली खपत करने वाले उपभोक्ताओं को पुरानी दर पर ही बिजली बिल प्रदान किए गए हैं, जो थोड़ी निराशा की स्थिति में हैं .
हम आपको बताना चाहेंगे कि जिले में केवल 33000 उपभोक्ता इस योजना के दायरे में नहीं है. बिजली विभाग के अधिकारियों ने जानकारी देते हुए बताया कि इस बार उपभोक्ताओं को ₹400 से कम बिजली बिल प्रदान करना है .इस माह से इंदिरा गृह ज्योति योजना लागू कर दी गई है जिसमें अब लाभार्थियों की संख्या 300000 से अधिक हो गई है .

इंदिरा गृह ज्योति योजना में 150 यूनिट से कम बिजली खपत करने वाले सभी उपभोक्ताओं को इसमें शामिल किया गया है विद्युत वितरण कंपनी द्वारा जिले के 70 हज़ार किसानों के बिजली का बिल आधा करने की योजना का लाभ मिलने लगा है ।इस योजना में आने वाले समय में स्थाई कनेक्शन धारियों को भी शामिल कर लिया जाएगा।इंदिरा गृह ज्योति योजना अप्रैल में ही प्रारंभ कर दी गई है जिसके तहत आने वाले किसानों को बिजली बिल आधा चुकाना होगा। योजना में शामिल जिले के किसानों को 92% राशि सब्सिडी के रूप में मिल रही है जिसने 3 हॉर्स पावर में 1050 ,5 हॉर्स पावर में 1750 रुपए और 10 हॉर्स पावर कनेक्शन में महज ₹ 3000 बिजली बिल देना होगा ।
जबकि सरकार द्वारा 58378 पर सब्सिडी प्रदान की जाएगी। बिजली विभाग योजना का लाभ अधिक से अधिक पहुंचाने के लिए जागरूकता अभियान भी चला रहा है जिससे पिछले 2 माह में 15 सौ से अधिक उपभोक्ताओं को भार में वृद्धि का फॉर्म भरवाया गया है। अब नए भार के अनुरूप बिल प्रदान करने के लिए जागरूक किया जा रहा है।
तो अब आप भी कानाफूसी और संशय की स्थिति को खत्म करें और इंदिरा गृह ज्योति योजना का लाभ उठाएं

Related posts

Leave a Comment