क्या सच में तंत्र मंत्र ने ली एडीजे और उनके बेटे की जान जानिए पूरा सच

26 जुलाई की रात अचानक एडीजे महेंद्र त्रिपाठी और उनके बेटे की घर में ही बनी रोटी खाने से मौत हो गई, जहां एक और यह बात भी निकल कर सामने आई कि उस रात घर में बनी रोटी केवल डेटा और एडीजी ने ही खाई थी पत्नी ने केवल दाल चावल सब्जी ही खाया था एडीजे महेंद्र त्रिपाठी और उनके 25 वर्षीय युवा बेटे को पहले तो डॉक्टर ने यह बताया कि मामला फूड प्वाइजनिंग का है लेकिन बाद धीरे-धीरे तंत्र-मंत्र तक पहुंची जिसमें उनकी करीबी बताए जाने वाली महिला का नाम सामने आया यह पूरा मामला मध्यप्रदेश के बैतूल जिले का है जिसके तार पूर्व में छिंदवाड़ा में पदस्थ रहे महेंद्र त्रिपाठी की मौत का कनेक्शन छिंदवाड़ा जिले से भी जुड़े हुए पाए गए हाईप्रोफाइल मामला होने के कारण पुलिस लगातार खोजबीन में लगी रही महिला को पकड़ने जब पुलिस छिंदवाड़ा के हाउसिंग बोर्ड कॉलोनी स्थित उसके मकान पर पहुंची तो महिला वहां से गायब थी महिला के मकान के पास से एक कुत्ता भी मरा हुआ पाया गया पता चला कि वह कुत्ता भी इस मौत की कड़ी को सुलझाने में सहायक हो सकता है क्योंकि उसकी मौत का कारण भी खाने से संबंधित ही था बहरहाल बड़ी मशक्कत के बाद पुलिस ने उस संदिग्ध महिला को रीवा से पकड़ा और उसके बाद जो खुलासा हुआ वह आपके सामने इस प्रकार है

एडीजे महेंद्र त्रिपाठी और बेटे अभियनराज की मौत पर सनसनीखेज खुलासा।

बैतूल पुलिस ने किया खुलासा।

26 तारीख को संदिग्ध पाइजनिंग से हुई थी मौत।

परिचित महिला संध्या सिंह और तांत्रिक समेत छह आरोपी गिरफ्तार।

परिवार में कलह कलेस सुधारने दिया था तंत्र वाला आटा।

सर्किट हाउस के पास संध्या ने दिया था आटा।

यही आटा खाने से हुई मौत।जिसमे मिला था जहर
हत्या की वजह — एडीजे और संध्या के बीच रुपयो के लेने से हुआ था विवाद।
एडीजे घर से आटा ले गए वही आटा तंत्र क्रिया कर घर मे वापस लाया गया।जिसकी रोटी बनाकर खाई गयी।

Related posts

Leave a Comment