जज ने चोर को सुनाई सजा, दोषी ने की ऐसी हरकत

एक चोर को अपनी सजा सुनना इतना नागवार गुजरा की गुस्से में उसने जज पर ही चप्पल फेंक दी। हालांकि एक चप्पल फेंकने के बाद भी उसका गुस्सा शांत नहीं हुआ और उसने जज पर दूसरी चप्पल फेंकने की कोशिश की।

मुंबई में एक चोर को अपनी सजा सुनना इतना नागवार गुजरा की गुस्से में उसने जज पर ही चप्पल फेंक दी। हालांकि एक चप्पल फेंकने के बाद भी उसका गुस्सा शांत नहीं हुआ और उसने जज पर दूसरी चप्पल फेंकने की कोशिश की। लेकिन तब तक वहां मौजूद पुलिसकर्मियों ने उसे पकड़ लिया।
कहां का है मामला: दरअसल पूरा मामला मुंबई के भिवंडी का है। जहां भिवंडी पुलिस स्टेशन इलाके में हुई 2 सेंधमारी में अशरफ अंसारी पिछले 14 महीने से जेल में था। जिसके बाद कोर्ट में न्यायधीश जे एस पठान ने उसे 6 महीने और जेल सहित आर्थिक दंड़ की सजा सुनाई। इस पर दोषी ने न्याय की गुहार लगाते हुए जज से कहा कि वो अपना जुर्म स्वीकार कर चुका है। इसके साथ ही पिछले 14 महीने से जेल में है। इसलिए उस माफ कर दिया जाए। लेकिन न्यायधीश ने उसकी अर्जी ठुकरा दी। जिसके बाद दोषी ने गुस्से में जज पर ही चप्पल फेंक दी।

भिवंडी बार असोसिएशन ने की निंदा: इस पूरी घटना को लेकर भिवंडी बार असोसिएशन ने कड़ी निंदा की और बुधवार को करीब 500 वकीलों ने न तो कोट पहना और न ही न्यायालय में काम काज किया। वहीं ऐडवोकेट अंसारी ने बताया कि बार असोसिएशन ने भिवंडी के पुलिस स्टेशन में ज्ञापन देकर सुरक्षा की मांग की है।

क्या है वकीलों की मांग: ज्ञापन में मांग देते हुए वकीलों ने कहा कि न्यायधीश सहित न्यायालय परिसर की सुरक्षा व्यवस्था बढ़ाई जाए। न्यायालय सहित न्यायालय परिसर में पुलिसकर्मी वर्दी में रहें, चप्पल फेंकने वाली आरोपी पर चार्जशीट दाखिल हो, लापरवाह पुलिसकर्मियों पर जांच करवाई जाए, साथ ही कोई भी आरोपी केस नहीं लड़ेगा।

Related posts

Leave a Comment