दुर्गा सप्तशती अध्याय 1 हिंदी अनुवाद

दुर्गा सप्तशती एक महान एवं महत्वपूर्ण ग्रंथ है। इसकी पठन और श्रवण से अद्भुत लाभ प्राप्त होते हैं। साधक पर देवी कृपा होती है ।और साधक जो चाहता है ,वही प्राप्त करता है ।सारी साधनाओ का मुख्य बिंदु और आयाम  ध्यान की एकाग्रता और चित्त की निर्मलता है। इसे ध्यान पूर्वक सुने और स्वयं के कल्याण एवं उन्नति का एक रास्ता प्रशस्त करने का अवसर प्राप्त करें। दुर्गा सप्तशती का प्रथम अध्याय का हिंदी दुर्लभ अनुवाद प्रस्तुत है ,जोकि यथारूप तथा शुद्ध रूप से प्रस्तुत है। सुने

Related posts

Leave a Comment