नई पहल, पक्‍का बिल ले, तो मिलेगा कैश इनाम

छिंदवाड़ा न्‍यूज 4 इंडिया। वाणज्यिक कर विभाग ने टैक्‍स चोरी पर रोक लगाने ने लिए मप्र बिल संग्रहण व पुरस्‍कार योजना 2018 प्रारंभ की है। इस अनूठी योजना से सीधे ही आम उपभोक्‍ता को माल खरीदने के समय दुकानदार से पक्‍का बिल लेना होगा और इस बिल को वाधिज्यिक कर विभाग के पोर्टल पर अपलोड करना होगा। कम्‍प्‍यूटर से रेंडमली विजयी उपभोक्‍ता को नकदी रकम इनाम के रूप में आए बिलो से विभाग संबंधित दुकानों के रिटर्न को क्रॉस चेक कर टैक्‍सचारी रोकने का काम करेगा। इस योजना में शामिल होने के लिए उपभोक्‍ता को 200 रूपए से ज्‍यादा की खरीदी के बिल को उपभोक्‍ता विभाग के पोर्टल www.mptaxgov.in (क्रय-विक्रय) अपलोड कॉलम में क्लिक कर अपलोड करना होगा। हर तीन माह में कम्‍प्‍यूटर से रेंडम आधार पर विजयी उपभोक्‍ता का नाम आएगा।

वाणिज्यिक कर विभाग ने टैक्‍स चोरी रोकने अपनाया अनोखा तरीका

10 से 3 हजार रू. तक मिलेगा इनाम

पहले पांच विजेता को दस-दस हजार का, द्वितीय पुरस्‍कार में दस विजेताओं को पांच-पांच हजार का और तीसरे पुरस्‍कार में 15 विजेताओं को तीन-तीन हजार रूपए मिलेंगे।

इससे सीधे उपभोक्‍ता से जुड़ाव होगा: विभाग की ओर से टैक्‍स चोरी को रोकने के लिए इस योजना को प्रारंभ किया गया है। इससे सीधे ही आम उपभोक्‍ता से जुड़ाव हो सकेगा। मप्रबिल संग्रहण व पुरस्‍कार योजना 2018 का नोटिफिकेशन जारी हो गया है।

Related posts

Leave a Comment