वैवाहिक कार्यक्रमों के लिये प्रतिबंधात्मक आदेश जारी

धारा 144 के अंतर्गत जिले में वैवाहिक कार्यक्रमों के लिये प्रतिबंधात्मक आदेश जारी

छिन्दवाड़ा/ 29 मई 2020/ कलेक्टर एवं जिला दंडाधिकारी श्री सौरभ कुमार सुमन द्वारा कोरोना वायरस के संक्रमण को रोकने, जनसामान्य के स्वास्थ्य व लोकशांति को बनाये रखने एवं लोकहित की दृष्टि से दंड प्रक्रिया संहिता 1973 की धारा 144 के अंतर्गत जिले की समस्त राजस्व सीमाओं में आगामी आदेश तक वैवाहिक कार्यक्रमों के लिये प्रतिबंधात्मक आदेश जारी किये गये है । इस आदेश का उल्लंघन पाये जाने पर वर एवं वधू पक्ष के माता-पिता के विरूध्द प्रकरण पंजीबध्द कर भारतीय दंड संहिता की धारा 188 के अंतर्गत कार्यवाही की जायेगी ।


कलेक्टर एवं जिला दंडाधिकारी श्री सुमन ने बताया कि दंड प्रक्रिया संहिता 1973 की धारा 144 के अंतर्गत 19 मई 2020 को संपूर्ण छिन्दवाड़ा जिले की राजस्व सीमाओं में आगामी आदेश तक के लिये प्रतिबंधात्मक आदेश जारी किये गये है, किंतु यह संज्ञान में आया है कि वैवाहिक कार्यक्रमों में अधिक लोग उपस्थित हो रहे है और सोशल डिस्टेंसिंग का पालन नहीं कर रहे है जिससे जिले में कोरोना वायरस की फैलाव की स्थिति उत्पन्न हो रही है और इससे मानव जीवन के स्वास्थ्य पर प्रतिकूल प्रभाव पड़ने की संभावना को देखते हुये प्रतिबंधात्मक आदेश जारी किये गये हैं । जारी प्रतिबंधात्मक आदेश के अंतर्गत वैवाहिक कार्यक्रम में वर एवं वधू पक्ष से 25-25 व्यक्ति अर्थात कुल 50 व्यक्ति ही उपस्थित रह सकेंगे । इन 50 व्यक्तियों में पंडित, नाई आदि भी सम्मिलित रहेंगे । वैवाहिक कार्यक्रम की पूर्व सूचना संबंधित क्षेत्र के अनुविभागीय दंडाधिकारी और थाना प्रभारी को निर्धारित प्रारूप में प्रस्तुत कर अनुविभागीय दंडाधिकारी से अनुमति प्राप्त करना अनिवार्य है । मुख्य वैवाहिक कार्यक्रम के अतिरिक्त अन्य छोटे-छोटे कार्यक्रमों में 10 से अधिक व्यक्ति उपस्थित नहीं रह सकेंगे । यह आदेश आम जनता को संबोधित है और चूंकि वर्तमान में ऐसी परिस्थितियां नहीं है और न ही यह संभव है कि इस आदेश की पूर्व सूचना प्रत्येक व्यक्ति को दी जाये, इसलिये यह आदेश एक पक्षीय पारित किया गया है ।

Related posts

Leave a Comment