हार्टअटैक से बचने खायें ये 5 चीजें

आजकल दिल की बीमारियों के मरीजों की संख्या बहुत बढ़ गई है।
दिल की बीमारियों का सीधा संबंध कोलेस्ट्रॉल से है।
शरीर में गुड कोलेस्ट्रॉल और बैड कोलेस्ट्रॉल दोनों पाए जाते हैं।

शरीर में बहुत सी बीमारियां और समस्याएं हमारी लाइफस्टाइल और खान-पान के कारण होती हैं। आजकल दिल की बीमारियों के मरीजों की संख्या बहुत बढ़ गई है। दिल की बीमारियों का सीधा संबंध कोलेस्ट्रॉल से है। कोलेस्ट्रॉल एक वसायुक्त तत्व है और इसे लिवर उत्पन्न होता है। ये शरीर के लिए जरूरी है और इसे सही तरीके से काम करने में मदद करता है। लेकिन कोलेस्ट्रॉल बढ़ जाने से हार्ट अटैक और स्ट्रोक का खतरा बढ़ जाता है। शरीर में गुड कोलेस्ट्रॉल और बैड कोलेस्ट्रॉल दोनों पाए जाते हैं। अपने खान-पान में थोड़े से बदलावों से आप शरीर में बैड कोलेस्ट्रॉल की मात्रा को घटाकर गुड कोलेस्ट्रॉल की मात्रा को बढ़ा सकते हैं।

ऑलिव ऑयल
कोलेस्ट्रॉल सबसे ज्यादा तेल की वजह से बढ़ता है और घर पर खाना के साथ-साथ बाहर खाई जाने वाली भी ज्यादातर चीजें तेल में बनाई गई होती हैं। इससे बचने के लिए आप अपने घर के खाने को बनाने के लिए ऑलिव ऑयल यानि जैतून के तेल का इस्तेमाल कर सकते हैं। ऑलिव ऑयल के इस्तेमाल से सामान्य तेल की अपेक्षा 8 प्रतिशत तक कोलेस्ट्रॉल कम किया जा सकता है। इसके साथ ही ये शरीर के बैड कोलेस्ट्रॉल के लेवल को कम करता है और हाई ब्लड प्रेशर और शरीर में शुगर लेवल को कंट्रोल करता है। अगर आपका कोलेस्ट्रॉल बहुत ज्यादा बढ़ गया है तो उबला हुआ खाना खाना आपके लिए बेहतर होगा।
ओट्स
ओट्स जई से बनते हैं और आजकल हेल्दी रहने और कोलेस्ट्रॉल लेवल को घटाने के लिए ब्रेकफास्ट में खूब खाए जाते हैं। ओट्स में फाइबर की मात्रा प्रचुर होती है और इसमें बीटा ग्लूकॉन भी पाया जाता है जो आंतों की सफाई करता है और कब्ज से राहत दिलाता है। रोजाना नाश्ते में ओट्स खाने से शरीर के खराब कोलेस्ट्रॉल यानि एलडीएल को लगभग 6 प्रतिशत तक घटाया जा सकता है।

फाइबरयुक्त आहार
फाइबर शरीर के लिए बेहद जरूरी होते हैं। ये शरीर में बैड कोलेस्ट्रॉल को कम करते हैं और गुड कोलेस्ट्रॉल को बढ़ाने में मदद करते हैं। इसके साथ-साथ फाइबर युक्त आहार से आंतों में चिपकी गंदगी साफ हो जाती है और कब्ज नहीं होता है। एक सामान्य व्यक्ति को कम से कम 20 ग्राम फाइबर रोज लेना चाहिए। अगर आप रोज के आहार में 10-15 ग्राम फाइबर भी लेते हैं तो आपके शरीर का बैड कोलेस्ट्रॉल लेवल कम रहेगा। फाइबर के लिए आप हरी सब्जियां, समूचे फल, कॉर्न, दलिया आदि खा सकते हैं। इसके अलावा रोटी बनाने वाले आटे को चालने की बजाय चोकर सहित बनाएं। आटे के छिलके में भी खूब फाइबर होता है।
सोयाबीन
सोयाबीन भी शरीर के एलडीएल यानि खराब कोलेस्ट्रॉल के लेवल को घटाता है। सोयाबीन से बनी चीजें जैसे सोया मिल्क, दही, सोया टोफू, सोया चंक्स आदि चीजों को अपने दैनिक आहार में शामिल करें। ये लिवर को दुरुस्त रखते हैं और शरीर में गुड कोलेस्ट्रॉल के लेवल को बढ़ाते भी हैं। रोजाना इस्तेमाल से शरीर के बैड कोलेस्ट्रॉल को 6% तक कम किया सकता है।

ड्राई फ्रूट्स
ड्राई फ्रूट्स खाने से भी शरीर के बैड कोलेस्ट्रॉल का लेवल कम होता है और गुड कोलेस्ट्रॉल बढ़ता है। ड्राई फ्रूट्स में भी भरपूर फाइबर होता है इसलिए इसे खाने से पेट की समस्याएं और दिल की बीमारियां दूर रहती हैं। इसके अलावा अलग-अलग ड्राई फ्रूट्स से हमें ढेर सारे विटामिन्स, मिनरल्स और एंटीऑक्सिडेंट्स मिलते हैं जो शरीर को गंभीर रोगों से बचाते हैं। कोलेस्ट्रॉल को मैनेज करने के लिए आप बादाम, पिस्ता, काजू और अखरोट खा सकते हैं। इसके अलावा सूखा नारियल भी आपकी सेहत के लिए बेहद फायदेमंद होता है।

Related posts

Leave a Comment