15 August2019

यू तो, स्वाधीनता प्रकृति के समस्त जीव धारियों को जान से भी प्यारी होती है ।इस तथ्य को शायद हमसे बेहतर कोई ना समझ सके, क्योंकि लाखों शहीदों की शहादत और कुर्बानी के फल स्वरुप भारत में 15 अगस्त 1947 को बमुश्किल स्वाधीनता हासिल की। हमें फिर आगे संविधान मिला, मौलिक अधिकार मिले, और मौलिक कर्तव्य भी। पर हमने सतत रूप से अपने अधिकारों का दावा तो किया , पर कर्तव्य विस्मित ही रखे।हमारी संचेतना जितनी कर्तव्य के निर्वहन के प्रति सजग होना चाहिए , ना रह सकी । जिसका, नतीजा विकास की अपेक्षित दर का प्राप्त नहीं होना रहा ।

Bhopal

स्वाधीनता दिवस में हम राष्ट्र के विकास के लिए एक मील का पत्थर साबित हो सकें और कर्तव्यों के साथ-साथ ही अधिकारियों का दावा करें, तो राष्ट्र विकास निश्चित है ।15 अगस्त 2019 को इसी संकल्प के साथ कश्मीर से लेकर कन्याकुमारी तक धूमधाम से स्वाधीनता दिवस सारे देश मे आयोजित किया गया । स्मरण रहे, अधिकारों के साथ-साथ कर्तव्य का निर्माण भी करना है।

पेश है कुछ खास झलकियां

 

Related posts

Leave a Comment