राष्ट्रीय खबर

जिंदा जलाने की कोशिश

जिंदा जलाने की कोशिश

मुख्य समाचार, राष्ट्रीय खबर
श्रीनगर न्‍यूज 4 इंडिया। दक्षिण जम्‍मू-कश्‍मीर में लोगों के लगातार विरोध से आतंकी संगठन हिजबुल मु‍जाहिद्दीन बौखला गया है और घाटी में विरोध करने वालों को निशाना बना रहा है। 17 अक्‍टूबर को उसने पूर्व पंचायत सदस्‍य और पीडीपी नेता मोहम्‍मद रमजान शेख की हत्‍या इसी आतंक संगठन ने कर दी थी । शेख के परिजनों ने स्‍थानीय लोगों की मदद से एक आतंकी को मार गिराया था। जम्‍मू-कश्‍मीर के डीजीपी एस पी वैद ने कहा, दक्षिण कश्‍मीर में आतंकी संगठन हिजबुल मुहाजिद्दीन के समर्थकों ने शोपियां जिले के हुमहुना इलाके में पीडीपी नेता रमजान शेख के घर पर 17 अक्‍टूबर को दो बारा हमला किया।
गृहमंत्री को पुलिस जवानों ने किया सलामी देने से इंकार

गृहमंत्री को पुलिस जवानों ने किया सलामी देने से इंकार

मुख्य समाचार, राष्ट्रीय खबर
जोधपुर न्‍यूज 4 इंडिया। जोधपुर में 16 अक्‍टूबर को पुलिस जवानों ने केंद्रीय गृहमंत्री राजनाथ सिंह को सलामी देने से इंकार कर दिया। 8 जवानों को प्रोटोकाल के तहत उन्‍हें सलामी देने जाना था, लेकिन इन जवानों ने सामूहिक अवकाश पर होने का हवाला देते हुए सलामी के लिए जाने से इंकार कर दिया। इसके बाद अधिकारियों ने दूसरी टीम भेजी। उस टीम ने गृहमंत्री राजनाथ सिंह को सलामी दी। सिंह संक्षिप्‍त दौरे पर जोधपुर आए थे। ऐसी ही स्थिति जोधपुर विजिट पर आए एडीजी एमएल लाठर के लिए भी रही। दरअसल राजस्‍थान में पुलिसकर्मी वेतन कटौती की मांग को लेकर विरोध कर रहे हैं। पुलिसकर्मी अलग-अलग तरीके से विरोध कर रहे हैं। पिछले दिनों जयपुर जिले के रायसर में चौकी प्रभारी और 5 कांस्‍टेबलों ने सिर मुंडाकर विरोध किया था।
चार साल बाद रिहा हुए

चार साल बाद रिहा हुए

मुख्य समाचार, राष्ट्रीय खबर
गाजियाबाद न्‍यूज 4 इंडिया। आरूषि-हेमराज मर्डर में इलाहाबाद हाईकोर्ट से बरी तलवार दंपत्ति 16 अक्‍टूबर को शाम पांच बजे डासना जेल से रिहा हो गए। डॉ. राजेश तलवार और डॉ. नूपुर तलवार करीब चार साल से जेल में रहे। दोनों पुलिस सुरक्षा में नोएडा के जलवायु विहार में नूपुर के माता-पिता के घर पहुंचे। नूपुर की मां ने उनकी आरती उतारी। इस दौरान नूपुर भावुक हो गईं। तलवार दंपत्ति ने मीडिया से कोई बात नहीं की। बेटी आरूषि और नौकर हेमराज की हत्‍या के मामले में तलवार दंपत्ति नवंबर 2013 से डासना जेल में बंद थे
कुछ नहीं सूझा तो विकास को ही गाली देने गले

कुछ नहीं सूझा तो विकास को ही गाली देने गले

मुख्य समाचार, राष्ट्रीय खबर
गांधीनगर न्‍यूज 4 इंडिया। प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी 16 अक्‍टूबर को भाजपा के गौरव महासम्‍मेलन में कांग्रेस उपाध्‍यक्ष राहुल के विकास पागल हो गया है वाले बयान पर जमकर हमला किया। कहा, इन्‍हें एक ही चीज की आदत लगी है, भ्रष्‍टाचार की। उनकी सरकारें, नेता ओर परिवार सब भ्रष्‍टाचार में डूबे हैं। पार्टी के मुखिया जमानत पर चल रहे हैं। गुजरात चुनाव की घोषणा से पहले हुई रेली में मोदी ने कहा, जिस पार्टी ने एक परिवार से इतने नेता दिए, इतने प्रधानमंत्री दिए, उस पार्टी की भाषा इतनी नीचे गिर गई। मोदी ने कहा, कांग्रेस को गुजरात और गुजरातियों से नफरत है1 जब मैं सीएम था, तब कांग्रेसियों ने कैसे-कैसे षड्यंत्र किए। इनकी सरकार राजनीति आंदोलन करने वाले बीजेपी कार्यकर्ताओं को जेल में डाल देती थी। मेरी इच्‍छा है कि कांग्रेस कभी विकास के मुद्दे पर चुनाव लड़े। लेकिन वह सांप्रदायिक तनाव, लोगों को भड़काना, जातिवादी
वॉट्सएप पर अश्‍लील फोटो मांगे

वॉट्सएप पर अश्‍लील फोटो मांगे

मुख्य समाचार, राष्ट्रीय खबर
सूरत न्‍यूज 4 इंडिया। ब्रहाचर्य का दावा करने वाले जैन मुनि शांतिसागर ने सुख-शांति के पाठ के बहाने पीडि़ता के निर्वस्‍त्र फोटो वॉट्सएप पर मंगवाए थे। पीडि़ता ने लीगल काउंसलर, गाइलेकोलॉजिस्‍ट के माध्‍यम से यह बात बताई। पीडि़ता ने बताया कि मां-बाप के सुख, सफलता जैसी बातों का नाम लेकर शांतिसागर ने उसे डराया और जबरन संबंध बनाने पर मजबूर किया। 31 मार्च को मांडवी में पहली बार मैं परिवार के साथ आचार्य शांतिसागर से मिली। प्रवचन से हम सब मंत्रमुग्‍ध हो गए। उनसे शिष्‍य बनाने का आग्रह किया। फिर धार्मिक शिक्षा शुरू की। धीरे-धीरे शांतिसागर मुझे एसएमएस और वॉट्सएप करने लगे। सुख और सफलता के लिए जप करने को कहा। बीच-बीच में फोन भी करते। दो माह पहले शांतिसागर ने फोन कर कहा, ‘तुम्‍हारी सुख-शांति के लिए जाप करना है। तुम्‍हारे फोटो भेजो।‘ मैंने वॉट्सएप कर दिए। दोबार फोन कर उन्‍होंने कहा, मुझे दोस्‍त समझना।
बाबा बोले सहमति से हुआ यौनाचार

बाबा बोले सहमति से हुआ यौनाचार

मुख्य समाचार, राष्ट्रीय खबर
जैन समाज ने किया कृत्य की निंदा सूरत न्यूज 4 इंडिया। 19 साल की लड़की से दुष्कर्म के आरोपी जैन मुनि आचार्य शांति सागर (49) ने दावा किया है कि उन्हें फंसाया गया है। मेउिकल के दौरान उन्होंने डॉक्टर से कहा, मैं लड़की को 5-6 महीने से पहचानता हूं वह पहली बार मिलने के लिए सपरिवार सूरत आई थी। टीमलियावाड नानपुरा धर्मशाला में लड़की की रजामंदी से 1 अक्टूबर को संबंध बनाए। जीवन में पहली बार ऐसा किया। यह बात डॉक्टर ने मेडिको लीगल केस रजिस्टर में दर्ज की है, ऐसा क्यों किय इस पर मुनि ने सिर झुका लिया। 14 अक्टूबर रात गिरफ्तारी के बाद 10 से 11.45 बजे तक मुनि का मेडिकल हुआ। इस दौरान जरूरी सैंपल नहीं लिया जा सका। डॉक्टरों ने कहा कि मुनि तनाव में हैं। पुलिस उन्हें जांच के लिए दोबारा लेकर आए। सूत्रों के अनुसार मामला संवदेनशील होने के चलते पुलिस फारेंसिक जांच करवाने की भी तैयारी कर रही है। ऋषभचंद्र
अमित शाह ने ली राज्यपालों की क्लास

अमित शाह ने ली राज्यपालों की क्लास

मुख्य समाचार, राष्ट्रीय खबर
नई दिल्ली न्यूज 4 इंडिया। राष्ट्रपति रामनाथ कोविंद द्वारा बुलाए गए राज्यपालों के दो दिवसीय सम्मेलन के समापन के बाद 13 अक्टूबर को भाजपा के राष्ट्रीय अध्यक्ष अमित शाह ने राज्यपालों की अलग से बैठक बुलाकर उनके साथ चर्चा की। अमित शाह ने पार्टी स्तर पर राज्यपालों की बुलाई बैठक को संबोधित करते हुए उन पर केंद्र सरकार के कार्यक्रमों को जल्द से जल्द लागू करने का दबाव बनाया। के जी मार्ग पर स्थित नए महाराष्ट्र सदन में हुई यह करीब शाम पौने पांच बजे तक चली।
संगीतकार टी एम कृष्णा को इंदिरा गांधी एकता पुरस्कर

संगीतकार टी एम कृष्णा को इंदिरा गांधी एकता पुरस्कर

मनोरंजन, मुख्य समाचार, राष्ट्रीय खबर
नई दिल्ली न्यूज 4 इंडिया। कर्नाटक शैली के प्रसिद्ध संगीतकार टीएम कृष्णा को 30 वां इंदिरा गांधी राष्ट्रीय एकता पुरस्कार मिलेगा। कांग्रेस अध्यक्ष सोनिया गांधी 31 अक्टूबर को इंदिरा गांधी के शहीदी दिवस पर उन्हें सम्मानित करेंगी। पुरस्कार के तहत 10 लाख रूपए नगद और प्रशस्ति पत्र मिलेगा।
बदल गई पहचान

बदल गई पहचान

उत्तर प्रदेश, मुख्य समाचार, राष्ट्रीय खबर
बदल गया मुगलसराय स्टेशन का नाम, अब यह होगी पहचान मुगलसराय। उत्तर प्रदेश के मुगलसराय जंक्शन का नाम आखिरकार बदल ही दिया गया। अब इसे जनसंघ नेता पं. दीनदयाल उपाध्याय के नाम से जाना जाएगा। यूपी सरकार ने नाम बदलने को लेकर एक प्रस्ताव केंद्र सरकार के पास भेजा था जिसे अगस्त में ही मंजूरी मिल गई थी। इसके बाद अब दिल्ली से हावड़ा के बीच पड़ने वाला यूपी का यह प्रमुख रेलवे स्टेशन पं. दीन दयाल उपाध्याय स्टेशन के नाम से जाना जाएगा।
पटाखों का धर्म

पटाखों का धर्म

मुख्य समाचार, राष्ट्रीय खबर
      विशेष आलेख-सारिका श्रीवास्तव विधि संपादक एवं एडवोकेट (हाईकोर्ट, जबलपुर) नई दिल्ली न्यूज 4 इंडिया। जस्टिस साहब ने हमें प्रदूषण से बचाने की चिंता की और एतिहासिक फैसला दिया। पर हमें दुख है लोगों ने इसे धर्म से जोड़कर तीखी प्रतिक्रियायें अभिव्यक्त की। धार्मिक इतिहास के अवलोकन से ज्ञात हुआ, कि दीवाली प्रकाश का पर्व है। अंधकार पर प्रकाश की विजय का। असत्य पर सत्य की विजय का। यदि ऐतिहासिक पृष्ठभूमि का अवलोकन करें तो दीवाली दियों का उत्सव है। पर अफसोस इसे हमने शोर, प्रदूषण और शांति पर कुठाराघात बना दिया। दिव्य अध्यात्मिक साधनाओं की दीवाली पर महत्वता तो अब समाज से लुप्त हो रही है। अंधी दौड़ में मिल रही है पर्यावरण को ऐसी चुनौति जो हमारे लिये एक प्रश्नचिन्हन बन गई है। क्या पटाखों से हमारा धर्म जुड़ा है। दुख है कि लोग पटाखों पर रोक के हमारे आदेश को सांप