[10:10 PM, 12/7/2017] News4indai: राष्ट्रीय खबर | News 4 India

राष्ट्रीय खबर

अब खाकी के साथ काला कोट भी पहनेगें ,नई भूमिका में पुलिस

अब खाकी के साथ काला कोट भी पहनेगें ,नई भूमिका में पुलिस

मुख्य समाचार, राष्ट्रीय खबर
साइबर सिटी गुरुग्राम में पुलिस ने आपराधियों को जल्द सजा दिलाने और पीड़ित को न्याय दिलाने के लिए प्रॉसिक्यूशन सेल का गठन किया है. पुलिस के मुताबिक प्रॉसिक्यूशन सेल जघन्य अपराध में शामिल अपराधियों के खिलाफ पैरवी करेगा. दरअसल, सबूत और गवाह के अभाव में जघन्य अपराध में शामिल आरोपियों को भी जमानत मिल जाती है. ऐसे में आरोपी जेल से बाहर आकर न सिर्फ जांच को प्रभावित करते हैं, बल्कि वारदातों को भी अंजाम देते हैं. इस समस्या से निपटने के लिए गुरुग्राम पुलिस ने प्रॉसिक्यूशन सेल का गठन किया है, जिसमे सब इंस्पेक्टर और इंस्पेक्टर रैंक के अधिकारी शामिल हैं. इतना ही नहीं, इस सेल को एसीपी क्राइम मॉनिटर करेंगे. पुलिस को आपने वारदात के बाद क्रिमिनल को खोजते बहुत देखा होगा, लेकिन अब पुलिस आरोपी को पकड़ने से लेकर कोर्ट में पैरवी तक करती नजर आएगी. केस का जांच अधिकारी कोर्ट में पैरवी करते नजर आता है, लेकिन
दिनदहाड़े विद्यालय में घुसकर शिक्षक को मारी गोली, मची अफरा-तफरी

दिनदहाड़े विद्यालय में घुसकर शिक्षक को मारी गोली, मची अफरा-तफरी

मुख्य समाचार, राष्ट्रीय खबर
सासाराम । बिहार के रोहतास के शिवसागर थाना क्षेत्र के कैथी मध्य विद्यालय में गुरुवार को दोपहर अपराधियों ने शिक्षक ताज मोहम्मद को गोली मारकर गंभीर रूप से जख्मी कर दिया। गोली शिक्षक की गर्दन में लगी है। शिक्षक को स्थानीय लोगों व शिक्षकों के सहयोग से सदर अस्पताल लाया गया, जहां चिकित्सकों ने प्रारंभिक इलाज के बाद रेफर कर दिया। पुलिस घटना की तहकीकात कर रही है। सदर एसडीपीओ आलोक रंजन ने बताया कि कैथी मध्य विद्यालय के नियोजित शिक्षक ताज मोहम्मद को अपराधियों ने उस समय गोली मार दी जब वे मध्याह्न अवकाश के दौरान डेढ़ बजे विद्यालय परिसर में टहल रहे थे। बाइक सवार दो अपराधियों ने उनकी गर्दन में गोली मार दी। एसडीपीओ ने कहा कि पुलिस घटना की सभी ङ्क्षबदुओं पर जांच शुरू कर दी है। हालांकि शिक्षक व परिजन किसी के नाम का खुलासा नहीं कर रहे हैं। प्रत्यक्षदर्शी प्रभारी प्रधानाध्यापक मो. अख्तर ने बताया कि दो
सिविल मौत का कारण बन सकता है ये…….

सिविल मौत का कारण बन सकता है ये…….

मुख्य समाचार, राष्ट्रीय खबर
नई दिल्‍ली न्‍यूज 4 इंडिया। आधार की वैधानिकता और अनिवार्यता को लेकर सुप्रीम कोर्ट की पांच जजों की संविधान पी‍ठ ने 17 जनवरी से सुनवाई शुरू की। दीवान ने अपनी दलीलें रखीं। सुप्रीम कोर्ट इस मामले में दायर 27 याचिकाओं की एक साथ सुनवाई कर रहा है। इस दौरा जस्टिस डीवाई चंद्रचूड़ ने पूछा क्‍या इस बात का ख्‍याल रखा जा सकता है कि जिस मकसद से डाटा लिया गया है उसका इस्‍तेमाल सिर्फ उसी काम के लिए हो। सुप्रीम कोर्ट का सवाल- क्‍या आप यह कहना चाहते हैं कि 2009 से 2016 के बीच का डाटा नष्‍ट कर दिया जाए। याचिकाकर्ता के वकील का जवाब- सही प्रिंट न आने की वहज से 6.2 करोड़ बायोमीट्रिक नष्‍ट कर दिए गए ये लोग आत्‍मा या बेईमान नहीं थे (चीफ जस्टिस दीपक मिश्रा की अध्‍यक्षता में जस्टिस एएस खानविलकर, जस्टिस चंद्रचूड़ जस्टिस एके सिकरी और जस्टिस अशोक भूषण की संविधान पीठ ने सुनवाई शुरू की। सरकार की ओर से अटॉर्
अब तक दुनिया दो आई के बारे में जानती है अब जाना होगा तीसरे आई के बारे मे

अब तक दुनिया दो आई के बारे में जानती है अब जाना होगा तीसरे आई के बारे मे

मुख्य समाचार, राष्ट्रीय खबर
अहमदाबाद न्‍यूज 4 इंडिया। प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने इजरायली प्रधानमंत्री बेंजामिन नेतन्‍याहू और उनकी पत्‍नी सारा का 17 जनवरी को अहमदाबाद एयरपोर्ट पर स्‍वागत किया। दोनों देशों के नेताओं ने एयरपोर्ट से साबरमती आश्रम तक आठ किमी लंबा रोड शो किया। इस दौरान एयरपोर्ट पर कलाकारों ने भारतीय संस्‍कृति को प्रस्‍तुत किया। पीएम मोदी ने नेतन्‍याहू और उनकी पत्‍नी को उनके सभी झांकियों की पूरी जानकारी दी। नेतन्‍याहू और उनकी पत्‍नी ने इसका काफी लुफ्त उठाया और कलाकरों के पास जाकर फोटो भी खिंचवाई। इसके बाद साबरमती आश्रम पहुंचने पर बापू की मूर्ति पर फूल चढ़ाकर श्रद्धांजलि देने के साथ ही नेतन्‍याहू और उनकी पत्‍नी ने चरखा चलाया। दोनों देशों के प्रधानमंत्री साथ में पतंगबाजी करने में भी पीछे नहीं रहे। इससे पहले 13 सितंबर2017 को मोदी ने बुलेट ट्रेन परियोजना के काम का उद्घाटन करने आए जापानी प्रधानमंत्री के सा
प्रायोजित आतंकवाद ज्यादा खतरनाक

प्रायोजित आतंकवाद ज्यादा खतरनाक

मुख्य समाचार, राष्ट्रीय खबर
नई दिल्‍ली न्‍यूज 4 इंडिया। विदेश मंत्री सुषमा स्‍वराज 17 जनवरी को रायसीना संवाद में आतंकवाद का मुद्दा उठाया। उन्‍होंने कहा, डिजिटल युग में आतंकवाद सबसे बड़ी समस्‍या है यह समस्‍या तब और भयानक और खतरनाक हो जाती है, जब देशों की सरकारें इसे प्रायोजित करती हैं। विदेश मंत्री का इशारा पाकिस्‍तान की ओर था। विदेश मंत्री ने हाल में हुए आतंकी हमलों का जिक्र करते हुए कहा कि आतंकवाद आज भी सभी प्रकार की समस्‍याओं की जड़ है। उन्‍होंने कहा कि आतंकवाद के खिलाफ हमारे प्रयास लगातार बढ़े हैं सुषमा ने कहा कि आतंकवाद के प्रति कतई बर्दाश्‍त नहीं करने का रवैया जरूरी है उन्‍होंने कहा कि आतंकवाद की समस्‍या कहीं भी समाजों को आतंकित कर सकती है।
तीन राज्यों में 18 फरवरी से विधान सभा चुनाव,  की घोषणा

तीन राज्यों में 18 फरवरी से विधान सभा चुनाव, की घोषणा

मुख्य समाचार, राष्ट्रीय खबर
  नई दिल्ली न्‍यूज 4 इंडिया । चुनाव आयोग आज पूर्वोत्तर के तीन राज्यों- त्रिपुरा, मेघालय और नागालैंड में होने वाले विधानसभा चुनावों की तारीखों का ऐलान किया. मुख्य चुनाव आयुक्त एके ज्योति ने गुरुवार को प्रेस कांफ्रेंस कर बताया कि तीनों राज्यों में दो चरण में होंगे चुनाव. त्रिपुरा में पहले चरण के लिए 18 फरवरी को चुनाव होगा. मेघालय और नागालैंड में 27 फरवरी को वोटिंग होगी. 3 मार्च को तीनों राज्यों के नतीजे आएंगे. कहां किसकी है सरकार? नागालैंड में नागा पीपुल्स फ्रंट की सरकार है. इस सरकार को बीजेपी का सपोर्ट है. मेघालय में कांग्रेस की सरकार है और त्रिपुरा में माकपा की अगुवाई वाला वाममोर्चा राज्य में 1993 से सत्ता में है. 2013 में 28 फरवरी को आए थे रिजल्ट बता दें, 2013 में त्रिपुरा में 14 फरवरी को जबकि मेघालय व नागालैंड में 23 फरवरी को वोट डाले गए थे. वहीं, परिणाम 28 फरवरी
64 साल पुरानी व्यवस्था खत्म

64 साल पुरानी व्यवस्था खत्म

मुख्य समाचार, राष्ट्रीय खबर
नई दिल्‍ली न्‍यूज 4 इंडिया। हज यात्रा पर जाने वाले यात्रियों को इस साल से अब कोई सब्सिडी नहीं मिलेगी। सरकार ने 16 जनवरी को हज सब्सिडी दिए जाने की 64 साल पुरानी व्‍यवस्‍था को खत्‍म करने का ऐलान किया है। सरकार के अनुसार यह फैसला तुष्टिकरण के बगैर अल्‍पसंख्‍यकों को सशक्‍त करने के उसके एजेंडे का एक हिस्‍सा है। केंद्रीयमंत्री मुख्‍तार अब्‍बास नकवी ने 16 जनवरी को कहा कि सब्सिउी का पैसा मुस्लिम समाज, विशेषकर मुस्लिम लड़कियों और महिलाओं के शैक्षणिक सशक्तिकरण पर खर्च किया जायेगा। अभी शिक्षा में मुस्लिम समाज पिछड़ा हुआ है। सब्सिडी खत्‍म करने से 1.75 लाख हज यात्री प्रभावित होंगे। सरकार ने यह निर्णय सुप्रीम कोर्ट के 2012 में दिए फैसले के मद्देनजर लिया है। सुप्रीम कोर्ट ने 2022 तक हज सब्सिडी खत्‍म करने को कहा था नकवी ने कहा कि सब्सिडी से मुसलमानों को नहीं एयर इंडिया और दूसरी एजेंसियों को फायदा ह
कुछ भी छिपाएं नहीं साझा करें 

कुछ भी छिपाएं नहीं साझा करें 

मुख्य समाचार, राष्ट्रीय खबर
नई दिल्‍ली न्‍यूज 4 इंडिया। महाराष्‍ट्र सरकार ने 16 जनवरी को सुप्रीम कोर्ट में विशेष सीबीआई जज बीएच लोया की मौत संबंधी कागज सील लिफाफे में दाखिल किए। कोर्ट ने इस मामले में याचिकाकर्ताओं को सभी दस्‍तावेज देने के निर्देश दिए। कोट्र ने इस पर 7 दिन बाद सुनवाई की बात कही लेकिन डेट तय नहीं की। महाराष्‍ट्र सरकार की ओर से पेश हरीश साल्‍वे ने कोर्ट में कहा, कुछ दस्‍तावेज संवेदनशील हैं1 इनको याचिकाकर्ता किसी से साझा न करें। इस पर कोर्ट ने कहा, यह ऐसा मामला है जहाँ उन्‍हें सब कुछ पता होना चाहिए। कुछ भी छिपाएं नहीं जानकारियों को साझा करें। इस पर साल्‍वे ने कहा खुद उन्‍होंने भी इन पेपर्स को नहीं देखा है इस पर कोर्ट ने कहा आप इसे पढ़ें। जस्टिस अरूण मिश्रा ने कहा, कागजों को साझा करने में आपत्तिनहीं होनी चाहिए। इस पर साल्‍वे ने कहा, उनके पास कॉपी है जिसे वो याचिकाकर्ताओं की ओर से पेश अधिवक्‍ता पल्‍लव
नई शुरुआत ,एंथम हुआ लॉन्च

नई शुरुआत ,एंथम हुआ लॉन्च

मुख्य समाचार, राष्ट्रीय खबर
नई दिल्‍ली न्‍यूज 4 इंडिया। खेलों में व्‍यापक प्रतिभागिता को बढ़ावा देने तथा उत्‍कृष्‍टता का विकास करने के लिए युवा मामले एवं खेल मंत्रालय ने 15 जनवरी को एक समारोह में खेलो इंडिया स्‍कूल गेम्‍स-2018 के कार्यक्रम की घोषणा की। स्‍टार स्‍पोर्ट्स की साझेदारी वाले समारोह में खेल मंत्री राज्‍यवर्धन सिंह राठौर और स्‍टार इंडिया के प्रबंध निदेशक संजय गुप्‍ता ने खेलो इंडिया एंथम भी लांच किया खेलो इंडिया स्‍कूल गेम्‍स के पहले संस्‍करण की शुरूआत 31 जनवरी से होगी1
90 हजार नौकरियां खतरे में

90 हजार नौकरियां खतरे में

मुख्य समाचार, राष्ट्रीय खबर
मुंबई न्‍यूज 4 इंडिया। कभी चमक बिखरने वाला टेलीकॉम सेक्‍टर अब अनिश्चितता के दौर में है। अगले 6 महीने में यहाँ बड़े पैमाने पर छंटनी हो सकती है यहाँ हजारों लोगों की नौकरी खतरे में है और कुल 80-90 हजार लोग बेरोजगार होंगे। सीआईईएल एचआर सर्विसेज की रिपोर्ट में कहा गया है कि प्रतिस्‍पर्धा बढ़ने और कम मार्जिन की वजह से इस सेक्‍टर का लाभ प्रभावित हुआ है। इसकी वजह से बड़े पैमाने पर छंटनी भी हुई है और नौकरी का परिदृश्‍य अनिश्चितता में है। टेलीकॉम कं‍पनियों के लिए टेलको, सॉफ्टवेयर और हार्डवेयर सर्विस प्रोवाइड कराने वाली 65 कंपनियों के 100 सीनियर और मिड लेवल कर्मचारियों के बीच सर्वे पर यह रिपोर्ट आधारित है पिछले साल से इस सेक्‍टर में करीब 40 हजार लोगों की नौकरी पहली ही जा चुकी और अगले 6 महीने में भी यह ट्रेंड जारी रहेगा। नौकरी गंवाने वालों की कुल संख्‍या 80-90 हजार तक पहुंच सकती है बेंगलूरू बेस्‍ड