महाराष्ट्र

महाराष्ट्र से जुड़े अपराध

महाराष्ट्र से जुड़े अपराध

महाराष्ट्र
छिन्दवाड़ा न्यूज 4 इंडिया। महाराष्ट्र की बार्डर से लंबी स्पर्श करती सीमा में हत्या एवं अपराधों को लेकर पुलिस चिंतित है। नागपुर में होने वाली मौत समेत अन्य मामलों की जांच में अक्सर लेट होने वाली पुलिस की समस्याओं को जल्द समाधान होने जा रहा है। रेंज के डीआईजी डॉ. जीके पाठक ने अनुविभागीय अधिकारियों की समीक्षा बैठक लेकर महाराष्ट्र से जुड़े प्रकरणों के लिए एक स्पेशल टीम गठित करने के निर्देश दिए है। नागपुर में इलाज के दौरान हुई मौतों की मर्ग डायरी महीनों नहीं आती। जिसकी वजह से प्रकरणों की जांच और प्रकरण दर्ज करने में पुलिस को समय लगता है। ऐसी समस्याओं से पुलिस को निजात दिलाने स्पेशल टीम गठित की जाएगी। बैठक में एसीपी गौरव तिवारी, एएसपी नीरज सोनी समेंत समस्त एसडीओपी मौजूद थे।
शादी के कर्ज से बचाने उठाया कदम

शादी के कर्ज से बचाने उठाया कदम

महाराष्ट्र
नागपुर न्यूज 4 इंडिया। पहले से ही कर्ज के बोझ तले पिता को और कर्ज लेने से बचाने के लिए बेटी ने जहर पीकर खुदकुशी  कर ली। घटना नांदेड़ जिले की किनवट तहसील के ग्राम गोकुंदा में 4 अक्टूबर को हुई, लेकिन इसका खुलासा 5 अक्टूबर को हुआ। सुसाइड नोट में उसने लिखा है कि दहेज का हम सभी विरोध करते हैं मुझे मालूम है कि घर की परिस्थतियां बहुत खराब हैं। पढ़ाई का खर्च निकलना भी आसान नहीं है। ऐसे में मेरी शादी के लिए बाबा और कर्ज लें यह मुझे स्वीकार नहीं है। इस वजह से मैंने जीवन समाप्त करने का निर्णय लिया है। मुझे मालूम है कि बाबा को इससे दुख होगा, लेकिन यह दुख कर्ज से तो कम ही होगा। किनवट तहसील के भीषी गांव के निवासी विलास शिरगिरे की बेटी पूजा पढ़ने के लिए अपने छोटे भाई के साथ किनवट में एक किराए के मकान में रह रही थी। उसके पिता अल्प भूधारक किसान हैं। घर की परिस्थिति अत्यंत खराब होने और सिर पर कर्ज भी हो
1 दिन की सजा हाईकोर्ट ने 10 साल में किया तब्दील

1 दिन की सजा हाईकोर्ट ने 10 साल में किया तब्दील

महाराष्ट्र
नागपुर न्यूज 4 इंडिया। बॉम्बे हाईकोर्ट की नागपुर खंडपीठ ने वर्धा सत्र न्यायालय के फैसले को बदलकर दुष्कर्म के आरोपी को कठोर सजा सुनाई है। चार वर्षीय बालिका से दुराचार के आरोपी को वर्धा सत्र न्यायालय ने एक की सजा दी थी। जिसके खिलाफ राज्य सरकार ने हाईकोर्ट की शरण ली। कोर्ट ने इस मामले की गंभीरता को देख कर आरोपी को दुराचार का दोषी माना और उसे 10 साल की जेल की सजा सुनाई। आरोपी पवन बद्री सुदीया(25) है औ वह वर्धा जिले के पुलगांव का निवासी है। मामले में सरकार की ओर से सरकार वकील नीरज जवाड़े ने पक्ष रखा। आरोपी ने पुलगांव के बाजार से बालिका को उठाया और नजदीकी स्कूल ले गया था। वहां उसने बालिका के साथ इस घिनौनी करतूत को अंजाम दिया था। उस समय वहां से गुजर रहे मन्नू खैराले की उस पर नजर पड़ी थी और खैराले ने आरोपी को धरदबोचा और पुलिस के हवाले कर दिया था। इस मामले में खैराले की शिकायत पर पुलिस ने आर
22 लोगों की मौत

22 लोगों की मौत

महाराष्ट्र
मुंबई न्यूज 4 इंडिया। मुंबई में एलफिन्स्टन स्टेशन के ओवरब्रिज पर 28 सितंबर को सुबह मची भगदड़ में 22 लोग मारे गये। 39 घायल हैं। हादसा सुबह 10.40 बजे हुआ। तब बारिश से बचने के लिए बड़ी संख्या में लोग पुल पर ही थे। तभी शोर हुआ कि पुल पर करंट फैल रहा है और वह टूटने वाला है। इससे भगदड़ मच गई। पुल 106 साल पुराना है और महज 6 फीट चौड़ा है। चौड़ाई बढ़ाने की मांग रेल मंत्रालय ने फंड की कमी बताकर टाल दी थी। हादसे के 8 घंटे बाद नए पुल के लिए टेंडर जारी कर दिया गया। 6 फीट चौड़े इस पुल से रोज एक लाख से ज्यादा लोगों को आना-जाना पड़ता है रेलवे ने इस साल 5 जुलाई को एलाफिन्स्टन स्टेशन का नाम बदलकर प्रभा देवी स्टेशन तो कर दिया, पर ब्रिज का काम शुरू नहीं हुआ। हादसे के बाद रेलवे पुलिस और मुंबई पुलिस इलाके की हद को लेकर झगड़ती रही। घटना के बाद प्रशासन ने शिनाख्त के लिए मृतकों की यह तस्वीर जारी की। इ
अंडरवर्ल्ड डॉन की चाहत, अपना अंतिम समय अपनी मातृभूमि में गुजारना चाहता है

अंडरवर्ल्ड डॉन की चाहत, अपना अंतिम समय अपनी मातृभूमि में गुजारना चाहता है

महाराष्ट्र
मुंबई न्‍यूज 4 इंडिया। महाराष्ट्र नवनिर्माण सेना (मनसे) के अध्यक्ष राज ठाकरे ने गुरुवार को एक सनसनीखेज खुलासा करते हुए कहा कि अंडरवर्ल्ड सरगना दाऊद खुद भारत आने का इच्छुक है। केंद्र सरकार उसे यह मौका देकर उसे भारत लाने का श्रेय लेना चाहती है। राज ठाकरे ने आज मुंबई में अपने फेसबुक पेज का उद्घाटन करने के बाद मोदी एवं फड़णवीस सरकार पर कई सनसनीखेज आरोप लगाए। उन्होंने कहा कि मोदी सरकार बार-बार कहती है कि वह दाऊद को भारत लाकर रहेगी। वास्तव में दाऊद खुद भारत आना चाहता है। वह अब अपंग हो चुका है। इसलिए अपना अंतिम समय अपनी मातृभूमि में गुजारना चाहता है। इसके लिए केंद्र सरकार से उसकी बातचीत शुरू है। अब सरकार उसे भारत लाकर यह दावा करते हुए चुनाव लड़ना चाहती है कि मैंने दाऊद को भारत लाने का वायदा पूरा किया। राज ठाकरे ने प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी पर सीधे टिप्पणी करते हुए कहा कि मोदी सरकार झूठ बोलकर
गणेश को चढ़ावे में मिले बैन नोट

गणेश को चढ़ावे में मिले बैन नोट

महाराष्ट्र
मुंबई न्‍यूज 4 इंडिया। महानगर के सबसे मशहूर गणेश पंडाल 'लालबाग का राजा' को इस साल श्रद्धालुओं से चढ़ावे में मिले करीब छह करोड़ रुपए में एक लाख 30 हजार रुपए के प्रतिबंधित नोट भी शामिल हैं। गणेशोत्सव के दौरान महानगर में हुई जोरदार बारिश के कारण पिछले वर्षों की तुलना में इस साल कम लोग पहुंचे लिहाजा चढ़ावा भी कम रहा। महानगर में 25 अगस्त से पांच सितंबर तक गणेश उत्सव की धूम रही। इस दौरान लालबाग का राजा गणेश पंडाल को श्रद्धालुओं से पांच करोड़ 93 लाख 14 हजार 800 रुपए का चढ़ावा मिला। पिछले साल यह करीब आठ करोड़ रुपए था। चढ़ावे में नोटबंदी के दौरान बंद किए गए 500 रुपए के 50 और 1000 रुपए के 105 नोट भी मिले। जिनका कुल मूल्य 1,30,000 रुपए है। मुंबई में 29 अगस्त को हुई भारी बारिश ने लोगों को घरों में रहने को मजबूर कर दिया। इसकी वजह से बड़ी संख्या में श्रद्धालु गणेश पंडाल नहीं जा सके।
इंद्राणी ने ड्राइवर को इस तरह शीना हत्याकांड में बनाया था भागीदार

इंद्राणी ने ड्राइवर को इस तरह शीना हत्याकांड में बनाया था भागीदार

महाराष्ट्र
इंद्राणी ने ड्राइवर को इस तरह शीना हत्याकांड में बनाया था भागीदार न्‍यूज 4 इंडिया। इंद्राणी मुखर्जी के ड्राइवर रहे श्यामवर राय का कहना है कि शीना बोरा हत्याकांड में शामिल होना उसे थोड़ा गलत लग रहा था। लेकिन, इंद्राणी मुखर्जी ने उसे आश्वस्त किया था कि उसका काम सिर्फ कार ड्राइव करना होगा। शुक्रवार को इंद्राणी मुखर्जी के वकील सुदीप पसबोला सीबीआइ अदालत में श्यामवर राय से जिरह कर रहे थे। उसने बताया कि पहली बार इंद्राणी मुखर्जी की स्काइप पर आई कॉल के बाद वह इस साजिश का हिस्सा बना था। उसने कहा कि इंद्राणी से उसे करीब 1.25 लाख रुपये मिले थे। कुछ उसके खाते में जमा कराए गए थे जबकि कुछ नकद मिले थे। श्यामवर ने कहा कि 2012 से 2015 के बीच उसे कई बार इस बात के लिए अफसोस हुआ, लेकिन इंद्राणी के निर्देश के मुताबिक उसने इस बारे में किसी को कुछ नहीं बताया। पुलिस को इस बारे में बताने का खयाल भी उसके द
अपनी ही गलती से गिरफ्तार हुआ बैंक मैनेजर

अपनी ही गलती से गिरफ्तार हुआ बैंक मैनेजर

छिंदवाड़ा अप्डेट्स, महाराष्ट्र
छिंदवाडा// तीन किसानों के नाम पर केसीसी के जरिए किया फर्जीवाड़ा मृतक के नाम पर भी ले लिया लोन डीएसपी ने की मामले की जांच छिंदवाड़ा के तामिया विकासखंड के तीन आदिवासी किसानों के नाम पर फर्जी दस्तावेजों के आधार पर लोन निकालने के आरोपी महाराष्ट्र बैंक के पूर्व मैनेजर को तामिया पुलिस ने गिरफ्तार कर लिया है ।तामिया के तीनों किसानों ने केसीसी में फर्जीवाड़े की शिकायत एसपी गौरव तिवारी से की थी किसानों ने आरोप लगाया था कि उन्होंने कभी बैंक से कोई लोन नहीं लिया फिर भी उनके नाम पर बैंक ने वसूली का नोटिस जारी किया था। इस बात की जांच डीएसपी एके पांडे ने की ।जांच से मामला साफ हो गया कि केसीसी फर्जी दस्तावेजों के आधार पर निकाले गए थे इस बात पर पुलिस का कहना है कि बैंक से केसीसी के नाम पर फर्जी लोन देने के मामले केवल एक ही गांव के खुले हैं इन मामलों में आरोपी ने फर्जी दस्तावेज भी तैयार किए हैं