[10:10 PM, 12/7/2017] News4indai: पुलिस देखती रही आरोपी भागता रहा – News 4 India

पुलिस देखती रही आरोपी भागता रहा

भोपाल न्‍यूज 4 इंडिया। सहायक पुलिस निरीक्षक को धक्‍का देकर मिसरोद थाने से एक शराब तस्‍कर भाग निकल। 4 अप्रैल शाम को ही पुलिस ने उसे हिरासत में लिया था बार-बार टॉयलेट जाने का बहाना बनाते देखने के बाद भी पुलिस उसके मंसूबों को नहीं समझ पाई। सीसीटीवी कैमरे में कैद हुई इस घटना से नाराज डीआईजी ने थाना प्रभारी और दो एएसआई को तत्‍काल प्रभाव से संस्‍पेंड कर दिया है।

प्रकाश मंडल मिसरोद थाने का निगरानी बदमाश है 4 अप्रैल को दोपहर पुलिस ने उसे चार पहिया वाहन से शराब की तस्‍करी करते हुए जाटखेड़ी से पकड़ा था गा‍ड़ी से 90 लीटर अवैध शराब थी। आबकारी एक्‍ट का केस दर्ज कर पुलिस ने उसे गिरफ्तार भी कर लिया। 5 अप्रैल को अदालत में पेश करना था। 4 अप्रैल की शाम वह थाने के लॉकअप में था रात आठ बजे उसने घबराहट का बहाना किया। ये देख पुलिस कर्मियों ने उसे एचसीएम के कमरे के बिठा दिया। यहां भी वह बार-बार टॉयलेट जाने की बात कहने लगा, लेकिन इसे पुलिसकर्मी भांप नहीं पाए। एएसआई(एम) राजेश उपाध्‍याय और एएसआई हाकम सिंह एस समय थाने में ही मौजूद थे तभी प्रकाश ने हाकम सिंह को धक्‍का दिया और भाग निकला।

अफसरों से छिपाते रहे

थाना स्‍टाफ ने प्रकाश के भागने की बात फौरन थाना प्रभारी घनश्‍याम दांगी को बताई। इसके बाद भी थाना प्रभारी ने आला अफसरों को इस बात की जानकारी नहीं दी। थाना स्‍टाफ अपने स्‍तर पर ही प्रकाश की तलाश शुरू कर दी। 5 अप्रैल को सुबह जब इस लापरवाही की भनक डीआईजी धर्मेंद्र चौधरी को लगी तो उन्‍होंने तत्‍काल प्रभाव से घनश्‍याम दांगी, राजेश उपाध्‍याय और हाकम सिंह को सस्‍पेंड कर दिया। डीआईजी का कहना है कि तीनों की विभागीय जांच भी करवाई जाएगी।

कोलार थाना क्षेत्र में दर्ज हुई धोखाधड़ी के एक आरोपी को मिसरोद पुलिस ने करीब तीन महीने पहले पकड़ा था सूत्रों के अनुसार उसे गिरफ्तार किया जाता इससे पहले ही वह स्‍टाफ को चकमा देकर भाग निकला। इसकी भनक भी थाना प्रभारी ने अफसरों को नहीं लगने दी थी।

साऊथ एसपी, राहुल कुमार लोढ़ा का कहना है कि मिसरोद थाने से शराब तस्‍करी के आरोपी के भागने की घटना सामने आई है लापरवाही के आरोपमें थाना प्रभारी सहित दो एएसआई को सस्‍पेंड किया गया है। विभागीय जांच की जा रही है।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *