[10:10 PM, 12/7/2017] News4indai: बहुत बोरिंग है मैं नहीं पढ़ सकता इसे – News 4 India

बहुत बोरिंग है मैं नहीं पढ़ सकता इसे

कैलिफार्निया न्‍यूज 4 इंडिया। अमेरिकी राष्‍ट्रपति डोनाल्‍ड ट्रम्‍प अपने देश में टैक्‍स रिफॉर्म यानी कर सुधार को लेकर एक भाषण देने वाले थे उन्‍हें कर सुधार पर एक राउंड टेबल चर्चा में शामिल होना था इसके लिए उन्‍होंने दो पेज का लिखित भाषण भी तैयार किया था चर्चा के दौरान जब ट्रम्‍प की बारी आई, तो उन्‍होंने भाषण के पन्‍नों को हवा में उछाल दिया और कहा, इसमें मुझे मुश्किल से दो मिनट लगने वाले थे, लेकिन यह तो बहुत बोरिंग है इसके बाद वहां मौजूद भीड़ में जमकर ठहाके लगे। ट्रम्‍प ने कहा यह मेरा संबोधन था जिसके लिए मुझे सिर्फ दो मिनट लगने थे लेकिन इसे हटाओ। इसके बाद ट्रम्‍प ने टैक्‍स रिफॉर्म को छोड़कर दूसरे मुद्दों पर अपनी बात कहनी शुरू कर दी। उन्‍होंने करीब 20 मिनट तक भाषण दिया जिसमें उन्‍होंने चुनाव, अप्रवासियों, ड्रग डीलर, मेक्सिकों और फर्जी वोटरों जैसे कई मुद्दों पर अपनी बात रखी। उन्‍होंने देश की आप्रवासन नीतियों की जमकर निंदा की। उन्‍होंने अपनी कठिन माइग्रेशन और व्‍यापार योजनाओं के बारे में बात की। ट्रम्‍प ने अमेरिका में एमएस-13 के चुनाव में बड़े पैमाने पर धोखाधड़ी हुई है। कैलिफोर्निया में करोड़ों लोगों ने अवैध रूप से मतदान किया। इनमें कई अवैध प्रवासी शामिल हैं ट्रंप ने कहा कैलिफोर्निया जैसी कई जगहों पर एक ही व्‍यक्ति कई बार वोट करता है आपने शायद इसके बारे में सुना होगा। वे लोग इसे कॉन्स्पिरेसी थ्‍योरी कहते हैं वे नहीं चाहते हैं कि कोई उन्‍हें ऐसा करता देखे। ऐसे लाखों लोग हैं जिनका रिकॉर्ड राज्‍य सरकार के पास है ट्रम्‍प ने अवैध प्रवासियों के खतरों को बताते हुए ऐसे ही एक समूह एमएस-13 को ठग बताया। ट्रंप ने कहा एमएस-13 बुराई के प्रतीक हैं हम उन्‍हें सैकड़ों लोगों के बीच से ढूंढ़-ढूंढ़कर निकाल रहे हैं हम अपने देश में बकवास लोग और कूड़ा आने की इजाजत दे रहे हैं लेकिन अब हम इसे और नहीं कर सकते। ट्रंप ने मेक्सिकों से अवैध रूप से अमेरिका आने वालों को कुछ लोगों को दुष्‍कर्मी बताया। 2015 में भी उन्‍होंने यही बात कही थी उन्‍होंने अप्रवासियों की हिंसा के खतरों से आगाह करते हुए एक ऐसे व्‍यक्ति की कहानी सुनाई, जो कहीं चला गया था लेकिन जब लौटा, तो उसका एक हाथ और एक पैर गायब था हालांकि ट्रम्‍प क्‍या कहना चाहते थे यह साफ नहीं हो सका।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *