[10:10 PM, 12/7/2017] News4indai: वह चार सालों से बाल खा रही थी – News 4 India

वह चार सालों से बाल खा रही थी

भोपाल न्‍यूज 4 इंडिया। राजधानी के हमीदिया अस्‍पताल में एक 14 साल की एक बच्‍ची के पेट में 4 किलो वजनी और तीन फीट लंबा बाल का गुच्‍छा ऑपरेशन कर निकाला गया है। बच्‍ची को पिछले चार साल से पेट में दर्द हो रहा था इसके बाद उसके परिवार वालों ने उसे हमीदिया अस्‍पताल में विशेषज्ञों को दिखाया। जब डॉक्‍टरों ने उसका सीटी स्‍कैन किया तो उसके पेट में बड़ा सा गुच्‍छा दिखाई दिया। इसके बाद आनन-फानन में उसकी ऑपरेशन कर बाल का गुच्‍छा निकाला गया। ऑपरेशन की बाद बच्‍ची के पेट से जो निकला उसे देख वहां मौजूद सभी हैरान हो गए। हमीदिया अस्‍पताल के सर्जरी डिपार्टमेंट के प्रोफेसर डॉ. समीर अहमद ने बताया कि इस बच्‍ची को कुछ दिन पहले बच्‍ची के माता-पिता लेकर यहां पर आए थे उन्‍होंने बताया कि बच्‍ची के पेट दर्द की परेशानी हो रही थी साथ ही उसे उल्टियां भी आ रही थीं परेशानी बढ़ने के बाद उसे यहां पर लाया गया। जब उसकी जांच की तो पता चला कि बच्‍ची रेपुंजल सिंड्रोम से पीडि़त है उन्‍होंने बताया कि रेपुंजल सिंड्रोम इस बीमारी में व्‍यक्ति को बाल खानेकी आदत पड़ जाती है। बच्‍ची के पेट के ऊपरी हिस्‍से में कुछ फुला हुआ है। बच्‍ची के घरवालों ने डॉक्‍टरों को बताया कि वो ठीक से खा-पी नहीं रही थी पिछले एक साल से उसे बार-बार उल्टियां होती थी और 6 महीने से बच्‍ची के पेट में दर्द भी ज्‍यादा हो रहा था।

डॉक्‍टरों ने बताया कि इस बच्‍ची की आंत में बाल का गुच्‍छा फंसा हुआ था आंत में इतने सारे बाल आ जाने से आंत एक तरह से ब्‍लॉक हो गई थी ये एक दुर्लभ बीमारी है और अभी तक दुनियाभर में इस तरह के केवल 6 केस ही देखने को मिले हैं।

आपरेशन टीम में शामिल डॉक्‍टर- डॉ. कुनाल, डॉ. आदित्‍य अग्रवाल, डॉ. नवीन और डॉ. समीर अहमद शामिल थे।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *