पानी पहुचाने 13 करोड़ रूपए हुए मंजूर

छिंदवाड़ा न्‍यूज 4 इंडिया।  जलसंकट से जूझ रहे शहरवासियों के लिए अच्‍छी खबर है। माचागोरा डेम का पानी भरतादेव फिल्‍टर प्‍लांट तक पानी पहुंचाने के लिए बनाई गई कार्ययोजना के लिए राशि की स्‍वीकृति मिल गई है। शुक्रवार को कलेक्‍टर वेदप्रकाश की अध्‍यक्षता में हुआ जिला खनिज प्रतिष्‍ठान की बैठक में मुख्‍यमंत्री पंयजल के अंतर्गत नगर निगम के प्रस्‍ताव पर 3.40 करोड़ और 9.97 करोड़ की प्रशासकीय स्‍वीकृति मिली है। इसके बाद अब नगरनिगम की चुनौती होगी कि वह साढ़े तीन माह के भीतर इस प्रोजेक्‍ट को पूरा कर माचागोरा से धरमटेकड़ी तक पाइप-लाइन बिछाने के बाद तकरीबन 12 किलोमीटर की रॉ वॉटर मेन राइकजंग पाइप लाइन भरतादेव फिल्‍टर प्‍लांट तक बिछा दें। इस पाइप-लाइन के विस्‍तार होने से भरतादेव फिल्‍टर प्‍लांट तक बिछा दें। इस पाइप-लाइन के विस्‍तार होने से भरतादेव फिल्‍टर प्‍लांट से पानी शहर में नियमित मिल सकेगा और जलसंकट से छुटकारा मिलेगा।

यह रहेगी चुनौती: धरमटेकड़ी फिल्‍टर प्‍लांट से भरतादेव फिल्‍टर प्‍लांट तक पानी पहुंचाने के पहले जलआवर्धन योजना के अंतर्गत माचागोरा डेम से धरमटेकड़ी तक पाइप-लाइन बिछाना होगा। यहां पर कुल 24.5 किलोमीटर की पाइप-लाइन बिछाना है, जिसमें अब तक 11 किमी पाइप-लाइन बिछाई जा चुकी है। जम्‍होड़ी पंडा में इंटकवेल का काम शुरू नहीं हुआ है।

अब होगा यह: निगम की धरमटेकड़ी में बनने वाले फिल्‍टर प्‍लांट से भरतादेव फिल्‍टर प्‍लांट तक रॉ वॉटर मेन राइजिंग पाइप लाइन को किस जगह से बिछाया जाना है, इसका सर्वे होगा। ननि अधिकारियों की माने तो इसके लिए तकरीबन एक सप्‍ताह का समय तय किया है।

यह दो मार्ग जहां से बिछाई जा सकती पाइप लाइन

पहला: धरमटेकड़ी, मॉडल रोड, वीआईपी रोड, सर्किट हाउस, जेल तिराहे से मुख्‍य मार्ग होते हुए भरतादेव पहुंचेगा।

दूसरा: धरमटेकड़ी, मॉडल रोड, वीआईपी रोड, सर्किट हाउस, लोनिया करबल, गुरैया सब्‍जी मंडी से भरतादेव पहुंचाया जाएगा।

यह होगी परेशानी: जिन स्‍थानों से मेन राइजिंग पाइप-लाइन को ले जाना है, उन मार्गों में रेलवे क्रॉसिंग आ रही है, जिसकी स्‍वीकृति के लिए सबसे अधिक समय लगता है। यदि पहले विकल्‍प को लागू करते हैं तो मुख्‍य सड़क खराब होगी।

Related posts

Leave a Comment