[10:10 PM, 12/7/2017] News4indai: नक्सलियों ने किया बोरिया की घटना का विरोध ,पेड़ काटकर सड़कों पर बिछाएं | News 4 India

नक्सलियों ने किया बोरिया की घटना का विरोध ,पेड़ काटकर सड़कों पर बिछाएं

गड़चिरोली न्‍यूज 4 इंडिया। कसनासुर-बोरिया की घटना का विरोध करने के लिए 10 मई को ग्रामीण क्षेत्र का जनजीवन प्रभावित हुआ। हालांकि दुकान अथवा बाजार बंद नहीं रखा गया था, लेकिन सड़कों पर पेड़ काटकर बिछा दिए जिससे यातायात व्‍यवस्‍था चरमरा गई। विभिन्‍न स्‍थानों पर पर्चे फेंकने और बैनर लगाने से लोग दहशत में आए। बंद के दौरान किसी भी स्‍थान से अनुचित घटना सामने नहीं आई।

22 अप्रैल को गड़चिरोली जिला पुलिस के सी-60 दल ने कसनासुर के जंगलमें एक साथ 40 नक्‍सलियों को ढेर किया था इस घटना के बाद से बौखलाए नक्‍सलियों ने अपनी गतिविधियों को बढ़ाते हुए आदिवासियों को तकलीफें पहुंचाना शुरू कर दिया है। उस घटना के बाद से अब तक धानोरा तहसील में 2 लोगोंकी हत्‍या की गई है। 10 मई को कसनासुर की घटनाके विरोध में नक्‍सली संगठनों ने जिला बंद का आह्वान किया था इस बंद के दौरान नक्‍सलियों ने मात्र यातायात प्रभावित करने में अपना ध्‍यान केंद्रित किया है गड़चिरोली से राजनांदगांव की ओर जाने वाली अंतर्राज्‍यीय सड़क पर गजामेढ़ी गांव के पास नक्‍सलियों ने एक विशाल पेड़ काटकर रख दिया। यही नहीं सड़क भी खोद दिया। जिसके चलते 9 मई की रात से इस महामार्ग से यातायात प्रभावित हुआ । वहीं धानोरा तहसील के दुर्गम क्षेत्र में नक्‍सलियों ने बड़े पैमाने पर पर्चे और बैनर लगाए। उधर एटापल्‍ली तहसील के गट्टा गांव से सटी मुख्‍य सड़क पर भी नक्‍सलियों ने पेड़ काटकर बिछा दिए। इस मार्ग का यातायात भी 10 मई को दिनभर प्रभावित रहा। भामरागढ़ तहसील के अनेक गांवों में नक्‍सलियों ने बैनर और पर्चें फेंककर घटना का विरोध किया। बंद के दौरान बाजार खुला था सिर्फ यातायात प्रभावित होने से कई गांवों का जनजीवन प्रभावित हुआ।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *