[10:10 PM, 12/7/2017] News4indai: पानी नहीं मिलने से मौत | News 4 India

पानी नहीं मिलने से मौत

छिन्‍दवाड़ा न्‍यूज 4 इंडिया। पानी नहीं मिलने से हुई वृद्ध की मौत के मामले की जांच करने के लिए 12 मई को नायब तहसीलदार बुदलापठार गांव पहुंचे। यहां ग्रामीणों से पूछताछ करते हुए स्‍थानीय लोगों के बयान दर्ज किए गए हैं।

पिछले दिनों जनसुनवाई में पगारा के पहाड़ी अंचल की पंचायत बुदलापठार के गांव जामुनबर्रा में पानी की समस्‍या का मामला जन सुनवाई तक पहुंचा था। ग्रामीणों ने शिकायत में पानी नहीं मिलने से लगभग डेढ़ माह पहले 70 वर्षीय वृद्ध होरीलाल की मौत होने की बात भी बताई। कलेक्‍टर के निर्देश पर नायब तहसीलदार वीर सिंह धुर्वे ने जामुनबर्रा पहुंचकर स्थिति का जायजा लिया। वहीं उपसरपंच सहित स्‍थानीय ग्रामीणों के बयान पर पंचनामा तैयार किया।

एक किमी दूर है मृतक का घर- मृतक होरीलाल का घर गांव से लगभग एक किमी दूर ढलान क्षेत्र के खेत में स्थित है। यहां उसके तीन पुत्र भान शाह, चेतू और संतलाल अगल-अलग मकान में रहते हैं संतलाल के साथ ही होरीलाल रहता था ग्रामीणों के अनुसार संतलाल और उसकी पत्‍नी चेत कटाई में बाहर चले गए थे घर में होरीलाल और चेतू की बेटी ही थी दिन में चेतू की बेटी स्‍कूल गई तो होरीलाल घर पर अकेला रह गया। इस दौरान उसे पीने के लिए पानी नहीं मिला, जिससे उसकी मौत हो गई।

ये है स्थित- बुदलापठार पंचायत के गांव जामुनबर्रा में लगभग 500 की आबादी है। यहां नलजल योजना संचालित है जिसका एक बोर सूख गया है वहींदूसरा बोर ढह गया है इसके अलावा निर्मल नीर कूप का निर्माण कार्य जारी है। स्‍थानीय लोगों को इसी कुंए के अलावा कपिल धारा कूप से पानी मिल रहा है। पीएचई ने एक नया बोर करवाया, जिसमें पानी नहीं निकला। वहीं पंचायत ने एक नया बोर करवाने कार्रवाई क्‍भ्‍ ळै होरी लाल जिस जगह रहता था उसके सामने ही एक कुआं है।

परासिया, नायब तहसीलदार, वीर सिंह धुर्वे का कहना है कि ग्रामीणों के बयान दर्ज कर पंचनामा तैयार किया गया है मृतक खेत के मकान में रहता था जिसके सामने एक कुआं है मृतक की मौत पर पुलिस को सूचना नहीं दी गई, जिससे उसका पोस्‍ट मार्टम नहीं हो सका। पानी की कमी से मौत होना प्रतीत नहीं होता है।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *