[10:10 PM, 12/7/2017] News4indai: भयावह हालात की ओर इशारा | News 4 India

भयावह हालात की ओर इशारा

छत्तीसगढ़ न्‍यूज 4 इंडिया। ग्रामीण क्षेत्रों में पानी का जलस्तर नीचे जाने के कारण पेयजल संकट दिन पर दिन गहराता जा रहा हैं. छत्तीसगढ़ के गांवों में लगे हजारों की संख्या में हैंडपंप या तो सूख गए हैं या फिर खराब पड़े हैं, जिससे ग्रामीणों के सामने पीने के पानी की समस्या बढ़ती जा रही है.

छत्तीसगढ़ में भीषण गर्मी पड़ने के साथ ही पेयजल संकट भी गहरा गया है. प्रदेश के गांवो में भू-जल स्तर काफी नीचे चले जाने की वजह से 4 हजार 681 हैंडपंप सूख गए हैं. इसके अलावा 2 हजार से अधिक हैंडपंप खराब होने की वजह से बंद पड़े हैं.

रायपुर के बेलोदी गांव की निवासी आरती रात्रे व सुशीला बाई कहती हैं कि ग्रामीण क्षेत्रों में जहां हैंडपंप से पानी आ रहा हैं, वहां पीने लायक नहीं है. ये स्थिति सिर्फ राजधानी रायपुर सहित दुर्ग, धमतरी, गरियाबंद, बेमेतरा समेत कई जिलों में है. यहां के ग्रामीण क्षेत्रों में पीने के पानी का संकट गहराता जा रहा है.

पीएचई विभाग, छत्तीसगढ़ शासन के चीफ इंजीनियर टीजी कोसरिया भी मानते हैं कि प्रदेश में जल संकट गहरा रहा है. दरअसल प्रदेश के 21 जिलों की 96 तहसीलो में अल्पवर्षा व सूखे की स्थिति पहले से है. ऐसे में मई के महीने में जल संकट अभी से गहराने से आगे पानी की समस्या और बढ़ सकती है.

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *