[10:10 PM, 12/7/2017] News4indai: अब इन्हें भी चाहिए मौका – News 4 India

अब इन्हें भी चाहिए मौका

 

बेंगलुरू न्‍यूज 4 इंडिया। सुप्रीम कोर्ट में सुबह तक चली सुनवाई के बाद 17 मई को भाजपा नेता येद्दियुरप्‍पा ने कर्नाटक के मुख्‍यमंत्री पद की शपथ ले ली। हालांकि येद्दि को दो परीक्षाओं से गुजरना बाकी है। सुप्रीम कोर्ट 18 मई को सुबह 10.30 बजे येद्दियुरप्‍पा के वह दोनों पत्र देखेगा, जिनके आधार पर राज्‍यपाल वजुभाई वाला ने उन्‍हें न्‍यौता दिया था इसके साथ ही उन्‍हें बहुमत भी साबित करना है इस बीच सबसे बड़े दल को सरकार बनाने का मौका देने के फार्मूले पर 4 राज्‍यों में नई राजनीति शुरू हो गई। कांग्रेस और राजद ने बिहार, गोवा, मणिपुर और मेघालय में सबसे बड़ी पार्टी का दावा करते हुए राज्‍यपाल से सरकार बनाने का मौका देने की मांग की है।

धरने पर कांग्रेस

येद्दिे के शपथ ग्रहण के खिलाफ कांग्रेस व जेडीएस के नेताओं ने कर्नाटक विधानसभा के सामने धरना दिया। भाजपा से बचाने के लिए कांग्रेस ने अपने विधायक बेंगलुरू के इगलटन रिसॉर्ट में बंद रखे। जेडीएस विधायक होटल सांगरीला में रोके गए। इस बीच कुछ विधायकों के गायब होने की चर्चा रही है। कांग्रेस के 2 विधायक रिसॉर्ट नहीं पहुंचे थे कांग्रेसी विधायकों को कोच्चि ले जाने वाली चार्टर्ड फ्लाइट को उड़ने की मंजूरी नहीं दी गई।

सुप्रीम कोर्ट में कर्नाटक मुद्दे पर दो और अर्जियां दाखिल

10 महीने पहले वकालत से सन्‍यास की घोषणा कर चुके पूर्व कानून मंत्री राम जेठमलानी ने चीफ जस्टिस्‍ दीपक मिश्रा की बेंच में निजी हैसियल से कर्नाटक के राज्‍यपाल के फैसले को चुनौती दी है। चीफ जस्टिस ने उन्‍हें इस मामले की सुनवाई कर रही जस्टिस सिकरी की बेंच के सामने याचिका लगाने को कहा है।

कर्नाटक राज्‍यपाल द्वारा विनिषा नेरो को विधानसभा में एंग्‍लो इंडियन सदस्‍य के तौर पर मनोनीत किए जाने को भी कांग्रेस-जेडीएस ने सुप्रीम कोर्ट में चुनौती दी है मांग कि है कि बहुमत परीक्षण से पहले यह मनोनयन रोका जाए। इस याचिका पर भी 18 मईको सुबह सुनवाई होगी।

सीएम येद्दि का यह तीसरा कार्यकाल है पर पूरा एक बार भी नहीं हुआ। वे 3 साल 71 दिन मुख्‍यमंत्री रहे हैं1 104 विधायकों वाले येद्दिे 18 मई को सुबह 10.30 बजे सुप्रीम कोर्ट को समर्थन की चिट्ठी सौंपेंगे।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *