[10:10 PM, 12/7/2017] News4indai: शिवराज को मिला अल्‍टीमेटम,  मप्र मुखिया हुए सतर्क – News 4 India

शिवराज को मिला अल्‍टीमेटम,  मप्र मुखिया हुए सतर्क

जबलपुर न्‍यूज 4 इंडिया। भाजपा अध्‍यक्ष अमित शाह ने प्रदेश चुनाव प्रबंध समिति की बैठक में इस वर्ष के अंत में होने वाले विधानसभा चुनाव के मद्देनजर वरिष्‍ठ नेताओं के साथ मंथन किया। भेड़ाघाट स्थित एक सरकारी होटल में हुई बैठक में वर्तमान राजनैतिक हालातों और चुनाव में विपक्ष द्वारा उठाए जाने वाले संभावित मुद्दों को लेकर चर्चा की गई। श्री शाह ने चुनाव परिणामों को प्रभावित कर सकने वाले मुद्दों को बेअसर करने के लिए सभी को एकजुट होकर प्रयास करने को कहा। वरिष्‍ठ नेताओं की उपस्थिति में उन्‍होंने किसानों, आदिवासियों और व्‍यापारियों में व्‍याप्‍त असंतोष को प्राथमिकता के आधार पर दूर करने का सुझाव भी दिया।

श्री शाह निर्धारित कार्यरक्रम से करीब एक घंटे विलंब से भेड़ाघाट पहुंचे। करीब दो घंटे चली बैठक में प्रदेश में किसानों के मुद्दों पर भाजपा को क्‍या नुकसान हो सकता है इसे कैसे कम किया जाए इस पर विस्‍तृत चर्चा की गई। इसके अलावा व्‍यापारियों को खुश करने एवं आदिवासियों में सेंध न लगने पाए, इस पर नजर रखने के लिए कहा। साथ ही स्‍थानीय मुद्दों पर भी संजीगी बरतते हुए उनका असर कम करने की रणनीति एवं आगामी चुनावों में जीत का रोडमैप तैयार किया गया।संगठन पदाधिकारियों को अपने अपने क्षेत्रों में लगातार दौरा करने व सक्रिय रहने कहा गया है।

कम अंतर से हार वाली सीटों में नजर

बैठक में ऐसी विधानसभा सीटों की समीक्षा की गई है जिसमें भाजपा कम अंतरों से चुनाव हारी थी उन सीटों पर भाजपा की जीत सुनिश्चित करने के लिए अभी से जुट जाएं एवं प्रदेश की ऐसी आदिवासी सीटें जहां पर कांग्रेस का दखल ज्‍यादा है उन सीटों पर नजर रखने कहा गया है।

श्री शाह ने आगामी 2018 में होने वाले विस चुनाव में विपक्ष की रणनीति क्‍या होगी। और किन मुद्दों को लेकर सरकार को घेरने की कोशिश की जाएगी एवं किस राजनैतिक दल से गठबंधन किया जा सकता है इस पर कड़ी नजर रखने और संगठन की पूरी ताकत झोंककर विपक्ष की रणनीति को नाकाम करने के लिए जुट जाने की नसीहत दी।

बंद कमरे में सीएम से चर्चा

प्रबंध समिति की बैठक के बाद श्री शाह ने प्रदेश के मुख्‍यमंत्री शिवराज सिंह चौहान से बंद कमरे में करीब डेढ़ घंटे चर्चा की । इस दौरान भाजपा प्रदेशाध्‍यक्ष सांसद राकेश सिंह भी मौजूद थे। चर्चा के दौरान प्रदेश सरकार के कामकाज व पिछले प्रवास के दौरान उनके द्वारा दिए गए दिशा निर्देशों पर क्‍या काम हुआ, पूरी चर्चा पर केंद्रित रही।

डुमना से भेड़ाघाट पहुंचने पर श्री शाह का काफिला भेड़ाघाट से सीधे धुआंधार पहुंचा वहां पर उन्‍होंने नर्मदा पूजन किया। इस दौरान मुख्‍यमंत्री चौहान प्रदेशाध्‍यक्ष राकेश सिंह, केंद्रीय संगठन नेताओं के अलावा स्‍थानीय नेता भी मौजूद थे।

बैठक में मंदसौर की घटना को लेकर लंबी चर्चा हुई। चर्चा के दौरान यह तय किया गया कि मंदसौर में जहां राहुल गांधी की सभा हुई थी वहां पर प्रधानमंत्री मोदी की सभा कराई जाएगी। इसके लिए संगठन और सरकार को तैयारी में जुट जाने के लिए कहा गया है।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *