[10:10 PM, 12/7/2017] News4indai: आपकी फोन की बैटरी तक की खबर रखता हूं मैं ,आखिर कबूल ही लिया | News 4 India

आपकी फोन की बैटरी तक की खबर रखता हूं मैं ,आखिर कबूल ही लिया

कैलीफोर्निया न्‍यूज 4 इंडिया। फेसबुक ने कबूल किया है कि वो यूजर की निजी जानकारी, पसंद-नापसंद जानने के लिए उसके कंप्‍यूटर की-बोर्ड और माउस के मूवमेंट तक पर नजर रखता है। यानी अगर आपके कंप्‍यूटर पर फेसबुक लॉगइन है, तो माउस के हर क्लिक और की-बोर्ड के हर इस्‍तेमाल की खबर फेसबुक तक पहुंच रही है इस जानकारी से फेसबुक ये पता लगाता है कि यूजर किस तरह के कंटेंट पर कितनी देर तक ठहर रहा है। इसी के हिसाब से वो उस यूजर को विज्ञापन दिखाता है। कैम्ब्रिज एनालिटिका डेटा लीक के बाद से फेसबुक की प्राइवेसी पॉलिसी लगातार सवालों के घेरे में है। यूएस सीनेट में फेसबुक के सीईओ मार्क जकरबर्ग से सवाल-जवाब भी किए गए थे कुछ सवालों पर उसी वक्‍त जिरह हो गई थी बाकी सवालों के जवाब देने के लिए जकरबर्ग को समय दिया गया था ऐसे सवाल कुल 2 हजार थे फेसबुक ने कुल 454 पन्‍नों में इन सभी 2 हजार सवालों के जवाब दे दिए।

डिवाइस इंफॉर्मेंशन

आप जिस कंप्‍यूटर मोबाइल या डिवाइस से फेसबुक लॉगइन करते हैं, उसकी जानकारी फेसबुक को रहती है जैसे डिवाइस में कितना स्‍टोरेज बचा है कौन-कौन से फोटो हैं, किसके नंबर सेव हैं।

एप इंफॉर्मेंशन

 

फेसबुक को यह भी पता रहता है कि यूजर डिवाइस में कौन-कौन से और एप मौजूद हैं यूजर किस एप को कितना समय देता है इससे मिलने वाली जानकारी को वो डेटाबेस में यूजर प्रोफाइल के साथ सेव कर लेता है।

डिवाइस कनेक्‍शन

फेसबुक को पता रहता है कि यूजर किस नेटवर्क का इस्‍तेमाल कर रहा है या कौन सा वाई-फाई चला रहा है। फेसबुक डिवाइस जीपीएस पर भी नजर रखता है, जिससे उसे यूजर की लोकेशन मिलती रहे।

बैट्री लेवल

यूजर की डिवाइस के बैट्री लेवल की भी फेसबुक निगरानी करता है इससे वो पता लगाता है कि फेसबुक एप यूजर के डिवाइस की ज्‍यादा बैट्री तो नहीं ले रहा है उस हिसाब से एप को अपडेट करता है।

कैमरा इंफॉर्मेशन

फेसबुक ने कई बार नकारने के बाद अब कैमरा और माइक्रोफोन पर नजर रखने की बात को कबूल लिया है उस हिसाब से वो यूजर को फेसबुक एप पर फिल्‍टर और अन्‍य फीचर सजेस्‍ट करता है।

 

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *