[10:10 PM, 12/7/2017] News4indai: अब बुजुर्गों और सेवानिवृत्ति के लिए भी होगा रोजगार – News 4 India

अब बुजुर्गों और सेवानिवृत्ति के लिए भी होगा रोजगार

भोपाल न्‍यूज 4 इंडिया। जो बुजुर्ग रिटायर हो गये हैं या जिन्‍होंने निजी कंपनी में अपनी सेवा के कार्यकाल पूरा कर लिया हो और वे अब खाली बैठे हैं उनके लिए मप्र सरकार रोजगार उपलब्‍ध करा रही है। जिससे उनकी जीविका सहीं ढंग से चल सके। मप्र के सेवानिवृत्‍त और कार्य कौशल में बुजुर्गों को राज्‍य सरकार रोजगार उपलब्‍ध कराएगी। जिन्‍होंने अपनी निजी और शासकीय सेवा पूर्ण कर ली हो या वे जो अशिक्षित हैं लेकिन तकनीकी ज्ञान रखते हों। मप्र वरिष्‍ठ नागरिक मंडल द्वारा ऐसे बुजुर्गों को चिन्ह्ति किया जाएगा और उनका पंजीयन कर निजी कंपनियों, बैंकों, अस्‍पतालों जैसे अन्‍य संस्‍थाओं से संपर्क कर उन्‍हें वहां नौकरी उपलब्‍ध कराई जाएगी। भोपाल के दस नंबर मार्केट पर स्थित मप्र वरिष्‍ठ नागरिक मंडल के कार्यालय को स्‍टेट सेंटर बनाया गया है। यहां ऐसे वृद्ध जो अकेले रहते हों या बच्‍चों द्वारा घर से निकाल दिये गये हो या फिर वृद्धाश्रमों में अपना बुढ़ापा बिता रहे हों, उन्‍हें उनकी रूचि के अनुसार रोजगार उपलब्‍ध कराने में मदद की जाएगी। पहले चरण में सामाजिक न्‍याय एवं नि:शक्‍तजन कल्‍याण विभाग द्वारा 6 लाख रूपये खर्च कर ट्रायल बेस पर इसकी शुरूआत की गई है, इसके सफल होनेपर संभाग स्‍तर पर भी पंजीयन सेंटर खोले जायेंगे।

सामाजिक न्‍याय एवं नि:शक्‍तजन कल्‍याण विभाग बुजुर्गों को नि:शुल्‍क फिजो‍योथैरेपी भी कराएगा। फिलहाल इसकी शुरूआत भोपाल से की जाएगी। इसके लिए सामाजिक संस्‍थाओं की मदद ली जाएगी। ‍इसके अलावा वृद्धोंको एक कॉल पर मदद भी उपलब्‍ध कराई जाएगी। इसके लिए हेल्‍पलाइन सेवा भी शुरू की जा रही है। वृद्धों  को अगर मदद की आवश्‍यकता होती है तो वे हेल्‍पलाइन नंबर पर कॉल कर मदद मांग सकेंगे। भोपाल के शाहपुरा स्थित हेल्‍पेज इंडिया द्वारा हेल्‍पलाइन सेंटर का संचालन किया जाएगा। 30 जून से यह सेवा प्रदेशभर में शुरू की जायेगी।

ऐसे बुजुर्ग जो बीमार होने पर अस्‍पताल नहीं जा सकते ऐसे बुजुर्गों के लिए मोबाइल मेडिकल सर्विस शुरू की जाएगी। वृद्ध चिकित्‍सा सुविधा लेने के लिए एक कॉल पर मोबाइल मेडिकल सर्विस का घर बैठे लाभ ले सकेंगे। कॉल आने पर मो‍बाइल मेडिकल सर्विस वाहन बीमार वृद्ध के घर से उन्‍हें अस्‍पताल तक ले जाएगा और उपचार करा कर उन्‍हें वापस उसके घर तक छोड़ेगा।

प्रमुख सचिव सामाजिक न्‍याय विभाग, अशोक शाह ने बताया कि वृद्धों को ध्‍यान में रखते हुए योजना बनाई गई है। ट्रायल बेस पर भोपाल में इसकी शुरूआत कर रहे हैं सेवानिवृत्‍त वृद्धों को पंजीकृत कर उन्‍हें रोजगार उपलब्‍ध कराया जाएगा। इसी तरह बुजुर्गों को नि:शुल्‍क फीजियोथैरेपी और हेल्‍पलाइन सेवा की भी शुरूआत कर रहे हैं अगर यह सफल होता है तो बाद में इसे प्रदेशभर में शुरू किया जाएगा।

One Comment

  • अगर उपरोक्त पहल वृद्ध और निराश्रित जनों के हित में है तो स्वागत है,इसके अंतर्गत भोपाल ही नहीं बल्कि पूरे प्रदेश में समाज व अपनों से तिरस्कृत होकर जीवनयापन करने वालों को अंत समय तक एक अच्छा सहारे का मार्ग प्रशस्त होगा,जिसमें वृद्धजन जीवन के बाकी बचे समय को निश्चित ही बची खुची खुशियों में परिवर्तित कर सकेंगे–साधुवाद !

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *