वाटरफॉल घूमने गए 35 लोगों को बचाया, 5 लापता

मुंबई न्‍यूज 4 इंडिया।  महाराष्ट्र के कई इलाकों में6 july  से रुक-रुक कर हो रही बारिश दूसरे दिन भी जारी है। शनिवार को पालघर जिले में चिंचोटी वाटरफॉल घूमने गए 40 सैलानी अचानक जलस्तर बढ़ने से फंस गए। इसके बाद कोस्ट गार्ड के हेलिकॉप्टर और एनडीआरएफ की मदद से 35 लोगों को रेस्क्यू किया गया, अभी 5 लापता हैं। मौसम विभाग ने गोवा और मुंबई में पांच दिन भारी बारिश का अलर्ट जारी किया है। उधर, बिहार में भी पांच जिलों में बाढ़ के हालत हैं। गुजरात के तापी में भारी बारिश से सड़कों पर कई फीट पानी भर गया।

मुंबई में कल्याण से विट्ठलवाड़ी के बीच रेलवे ट्रैक बारिश के पानी में डूब गया। इसके बाद ठाणे के बदलापुर से कल्याण स्टेशन के बीच सुबह 10.30 बजे से दोपहर 12 बजे तक ट्रेनों की आवाजाही रोकनी पड़ी। रायगढ़ में शुक्रवार रात से भारी बारिश हो रही है। महाड के बजारपेठ में पानी भरने से रास्ते बंद हो गए। महाड से रायगढ़ किला जाने वाला रास्ता भी बंद है। स्कूलों की छुट्टी कर दी गई है। सावित्री नदी उफान पर है और गांधारी नदी के पुल तक पानी पहुंच गया है।

दो दिन में यहां भारी बारिश की चेतावनी :मौसम विभाग ने कहा है कि महाराष्ट्र के अकोला, नागपुर, औरंगाबाद, चंद्रपुर, वर्धा, जालना और नांदेड़ में मध्यम से भारी बारिश हो सकती है। रविवार और सोमवार को छत्तीसगढ़, पश्चिमी और पूर्वी मध्य प्रदेश, गुजरात, तेलंगाना, केरल, सिक्किम, नगालैंड, मणिपुर, मिजोरम, त्रिपुरा, तटीय आंध्र प्रदेश, तटीय कर्नाटक, ओडिशा में भारी बारिश की संभावना है। फिलहाल मराठवाड़ा, छत्तीसगढ़ और इसके आसपास के इलाकों में चक्रवात की स्थिति बन रही है।

बिहार के कई जिलों में बाढ़ की स्थिति: नेपाल से आने वाली छोटी-बड़ी नदियों में उफान के चलते बिहार के पांच जिलों- मुजफ्फरपुर, पूर्णिया, सुपौल, अररिया और सीतामढ़ी जिले बाढ़ की चपेट में हैं। बागमती और बूढ़ी गंडक नदी का जलस्तर तेजी से बढ़ रहा है। बेनीबाद में बागमती नदी खतरे के निशान को पार कर गई है।

Related posts

Leave a Comment