[10:10 PM, 12/7/2017] News4indai: महिला विधायक से बदतमीजी – News 4 India

महिला विधायक से बदतमीजी

नागपुर न्‍यूज 4 इंडिया। एक सिरफिरा युवक 9 जुलाई की सुबह 10 बजे के दौरान विधायक निवास पहुंचा, लिफ्ट में घुसा और राकांपा विधायक ज्‍योति कलानी से बदतमीजी की। जाते-जाते विधायक व उनके पीए नंद कुमार को देख लेने की भी धमकी दी। हद तो यह है कि चाक-चौबंद सुरक्षा का दावा करने वाली पुलिस दो दिन में उसका पता तक नहीं लगा सकी है।

यह है मामला

राकांपा विधायक ज्‍योति  पप्‍पू कलानी विधायक निवास के विंग नंबर-1 के कमरा नंबर 214 में ठहरीं हैं। 9 जुलाई को सुबह 10 बजे के दौरान विधायक कलानी व उनका पीए नंदकुमार ननावरे लिफ्ट से दूसरे माले पर जा रहे थे। लिफ्ट में पहले से लिफ्टमैन व अन्‍य दो लोग मौजूद थे अचानक एक युवक आया और लिफ्ट में घुसने लगा। लिफ्टमैन व नंदकुमार ने उसे रोकना चाहा, लेकिन वह लिफ्ट में घुस गया। महिला विधायक होने का परिचय देने पर वह विधायक से बदतमीजी करने लगा। लिफ्ट में दूसरे माले पर रूकी तो विधायक व उनका पीए लिफ्ट से बाहर निकले। तभी युवक ने विधायक व उनके पीए नंदकुमार को देख लेने की धमकी दी। नंदकुमार ने इसकी सूचना तुरंत वहां तैनात पुलिस को दी। पुलिस उसे पकड़ पाती, इसके पूर्वही वह गायब हो गया। विधायक निवास में तैनात पुलिस से यह सूचना सीताबर्डी पुलिस थाना पहुंची। सीताबर्डी के थानेदार हेमंतकुमार खराबे ने विधायक निवास पहुंचकर विधायक व पीए से मामले की जानकारी ली। इसके बाद विंग नंबर 1 के तल मंजिल पर लगे सीसीटीवी कैमरे के कंट्रोल रूप में इसकी फटेज देखी और उसे अपने पास भी सेव किया। 10 जुलाई रात तक पुलिस को उस सि‍रफिरे युवक का पता नहीं चला था विधायकव पीए दूसरे मंजिल पर उतरे, जबकि वह युवक चौथे माले पर उतरा। इसके बाद का फुटेज विधायक निवास में मौजूद नहीं है।

रंगरोगन पर करोड़ों खर्च, सुरक्षा हाशिए पर

विधायक निवास विशेषकर महिलाओं के लिए कितना सुरक्षित है इसका अंदाजा इस बात से लगाया जा सकता है कि विंग नंबर1 के चौथे माले पर सीसीटीवी कैमरे चालू ही नहीं हैं। लोक कर्म विभाग ने विधायक निवास के रंगरोगन व मरम्‍मत पर करोड़ों रूपए खर्च किए, लेकिन चौथे माले पर सीसीटीवी पर ध्‍यान नहीं दिया। विधायकों की सुरक्षा का यह हाल है तो आम जनता की सुरक्षा का अंदाजा लगाया जा सकता है।

पिछले वर्ष महिला विधायकों के दरवाजे खटखटाए थे

विधायक निवास में महिला विधायकों से बदतमीजी की यह पहली घटना नहीं है पिछले वर्ष महिला विधायकों के आधी रात को दरवाजे खटखटाने की घटना हुई थी। विधायक विद्या चव्‍हाण व ज्‍योति कलानी व दीपिका चव्‍हाण ने विधानमंडल परिसर में पत्रकार वार्ता कर विधायक निवास की सुरक्षा पर सवाल उठाते हुए आरोपी को गिरफ्तार करने की मांग की थी। महिला विधायक इतनी घबराई थी कि एक कमरे में ज्‍योति कलानी, विद्या चव्‍हाण व दीपिका चव्‍हाण रहते थे।

दूसरे माले में महिला विधायकों की संख्‍या ज्‍यादा

विधायक निवास के विंग नंबर 1 के दूसरे माले पर ज्‍यादा संख्‍या में महिला विधायकों को ठहराया गया है। इस माले पर विधायक ज्‍योति कलानी के अलावा पूर्व गृह मंत्री आर आर पाटील की पत्‍नी सुमनताई पाटील, विद्या चव्‍हाण, दीपिका चव्‍हाण शिव सेना की मंदा म्‍हात्रे, भाजपा की देवयानी फरांदे ठहरी हैं। बावजूद इसके इस माले पर स्‍वतंत्र रूप से महिला सिपाहियों की तैनाती नहीं है।

राकांपा विधायक, ज्‍योति कलानी का कहना है कि लिफ्ट में आने से रोकने के बावजूद युवक लिफ्ट में घुसा। दूसरे माले पर मैं (विधायक) व मेरा पीए लिफ्ट से बाहर निकले तो उस युवक ने हमारी तरफ देखकर बोला-देख लूंगा तुम लोगोंको। मैं लिफ्ट ऊपर जाने लगी। मेरे पीए ने तुरंत इसकी सूचना पुलिस को दी और उसे देखने की कोशिश की, लेकिन वह नहीं मिला। यहां का सिस्‍टम ठीक नहीं है। युवक ने जो बोला, वह स्‍वाभाविक तौर पर हम दोनों के लिए वह धमकी है उस युवक का इरादा अगर सही हो तो उसे माफ किया जा सकता हे, लेकिन पुलिस अधिकारियों को जरूरी जानकारी दी गई है गत वर्ष भी मेरे कमरे का दरवाजा आधी रात को खटखटाया गया था।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *