[10:10 PM, 12/7/2017] News4indai: छात्र ने नहीं दिया राज्यपाल को सरल से सवाल का जवाब ,शिक्षा का गिरता स्तर  – News 4 India

छात्र ने नहीं दिया राज्यपाल को सरल से सवाल का जवाब ,शिक्षा का गिरता स्तर 

भोपाल न्‍यूज 4 इंडिया। शिक्षा का स्‍तर गिरता जा रहा है। सरकार द्वारा तथा स्‍कूल शिक्षा विभाग द्वारा शिक्षा की गुणवत्‍ता को सुधारने के लिए कई प्रयास किये जा रहे हैं। फिर भी कहीं न कहीं इन चीजों की कमी है जिससे शिक्षा के स्‍तर को ऊंचा उठाया जा सके। राज्‍यपाल आनंदीबेन पटेल 10 जुलाई को विदिशा जिले के हांसुआ गांव के सरकारी स्‍कूल पहुंची और बच्‍चों से चर्चा की। इस दौरान उन्‍होंने आंगनबाड़ी जाने वाले बच्‍चों की माताओं को भी स्‍वच्‍छता का पाठ पढ़ाया। उनके दौरे के पहले स्‍कूली बच्‍चों को शिक्षक करीब दो घंटे से ट्रेंड कर रहे थे। जब राज्‍यपाल ने चौथी में पढ़ने वाले अरशद नाम के बच्‍चे से 7 और 6 को जोड़कर लिखने को कहा तो बच्‍चे ने 12 लिख दिया जबकि 13 लिखना था। राज्‍यपाल का कहना था कि बच्‍चों को ज्‍यादा पढ़ाने की जरूरत है। राज्‍यपाल के दौरे को लेकर हांसुआ के सरकारी स्‍कूल में पिछले चार दिन से बच्‍चों को ट्रेड किया जा रहा था। निरीक्षण के दौरान राज्‍यपाल ने सभी बच्‍चों को फल वितरित कराए। कोतवाली परिसर में बने महिला सुरक्षा केंद्र का भी राज्‍यपाल ने निरीक्षण किया। उन्‍होंने यहां काम करने वाली महिला अधिकारियों से चर्चा की। केंद्र की प्रभारी पिंकी जिवनानी ने यहां की गति‍विधियों के बारे में जानकारी दी।

वहीं जिला अस्‍पताल में भी राज्‍यपाल के दौरे को लेकर अस्‍पताल में सफाई चकाचक की गई। डॉक्‍टर और स्‍टॉफ ड्रेस में दिखाई दिया। आनन-फानन में मरीजों के पलंग के चादर बदल दी गई थी पूरा नजारा मरीजों और उनके परिजनों के लिए हैरान करने वाला रहा।

पीडि़ताओं को किया सम्‍मानित

महिला सुरक्षा केंद्रमें महिला सम्‍मेलन में राज्‍यपाल ने छह पीडि़त महिलाओंको सम्‍मानित किया। ये महिलाएं ऐसी हैं जिन्‍हें महिला सुरक्षा केंद्र के माध्‍यम से मदद दी गई।  छत्‍तीसगढ़ के अंबिकापुर निवासी एक महिला इस दौरान मंच पर रोने लगी वहीं अन्‍य छह महिलाओं को भी केंद्र के माध्‍यम से मदद दी गई।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *