[10:10 PM, 12/7/2017] News4indai: यात्रियों के सामान की सुरक्षा की कौन लेगा जिम्मेदारी ?आए दिन हो रही हैं घटनाएं  – News 4 India

यात्रियों के सामान की सुरक्षा की कौन लेगा जिम्मेदारी ?आए दिन हो रही हैं घटनाएं 

जबलपुर न्‍यूज 4 इंडिया। लोकमान्‍य तिलक टर्मिनस से चलकर गोरखपुर जाने वाली काशी एक्‍सप्रेस में एक महिला यात्री पर ट्रेनों में लूटपाट करने वाला गिरोह निगाह रखे हुए था, जैसे ही महिला को नींद का झोंका आया, चोरों ने सिर के नीचे रखा बैग पार कर दिया, जिसमें लाखों के जेवर और महत्‍वपूर्ण दस्‍तावेज रखे हुए थे। महिला ने सतना पहुंचकर घटना की रिपोर्ट जीआरपी थाने में दर्ज कराई।पर्स में एक सोने का हा, एक मंगलसूत्र, दो सोने की अंगूठी, कान की बाली, मोबाइल फोन, पेन कार्ड, आधार कार्ड व नगदी 10 हजार रूपए थे। जीआरपी के अनुसार गाड़ी संख्‍या 1507 लोकमान्‍य तिलक टर्मिनस-गोरखपुर काशी एक्‍सप्रेस में ठाणे के वसंत विहार निवासी काशी एक्‍सप्रेस परिवार सहित उडि़हार यूपी की यात्रा कर रही थी उनका रिजर्वेशन एस-12 कोच में था। रात 2 बजे के आसपास जब ट्रेन सीहोर स्‍टेशन से कटनी की ओर रवाना हुई, इस दौरान उन्‍हें नींद का झोंका आ गया। थोड़ी देर में जब होश आया तो देखा की लेडीज पर्स गायब था। उन्‍होंने इसकी सूचना टीटीई को दी व अन्‍य यात्रियों से पूछताछ की, किन्‍तु किसी को भी पर्स चोरी जाने या चोर को देखे जाने की जानकारी नहीं थी।

ट्रेनों में चोरी और लूटपाट की घटनाएं बढ़ती जा रही हैं। पिछले एक सप्‍ताह में यह दूसरी घटना है। 3 जुलाई को ओवर नाइट  एक्‍सप्रेस से जबलपुर अपने रिश्‍तेदार के यहां शादी का उत्‍सव मनाने आ रही महिला यात्री ने बबीता चौरसिया का एक असामाजिक तत्‍व ने गला दबाकर पर्स लूट लिया और चलती ट्रेन से कूद कर फरार हो गया। पीडि़त महिला के पर्स में लाखों के सोने के जेवर, 50 हजार रूपए कैश, तीन कीमती मोबाइल, एटीएम कार्ड आधार कार्ड के अलावा अन्‍य जरूरी सामान था खुलेआम इई इस लूट की घटना के समय ट्रेन में कोई भी जीआरपी का सिपाही नहीं था, जिसकी वजह से पीडि़त महिला यात्री की रास्‍ते भर कहीं सुनवाई नहीं हुई। शादी समारोह में शामिल होने के बाद पीडि़त यात्री बबीता ने अपने पति कैलाश चौरसिया के साथ जीआरपी थाने जाकर लुटेरों की जानकारी हासिल करने की कोशिश की थी, लेकिन जीआरपी ने जांच जारी है, कह कर उन्‍हें लौटा दिया, लेकिन लुटेरे के गिरेबां तक जीआरपी के हाथ अभी तक नहीं पहुंच पाए हैं। ट्रेनों में एक के बाद एक हो रही लूटपाट को लेकर महिला यात्रियों में दहशत का माहौल है।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *