[10:10 PM, 12/7/2017] News4indai: धुले कांड सहित अन्य की हो s i t जांच – News 4 India

धुले कांड सहित अन्य की हो s i t जांच

नागपुर न्‍यूज 4 इंडिया। धुले जिले के राईनपाड़ा गांव में भीड़ द्वारा पांच लोगों की निर्मम हत्‍या करनेका मुद्दा विधानपरिषद में जोर-शोर से गर्माया। प्रतिपक्ष नेता धनंजय मुंडे ने धुले की इस घटना के साथ राज्‍य में हुई ऐसी सभी घटनाओं की एसआईटी से जांच करने की मांग की है। लोकभारती के सदस्‍य कपिल पाटील द्वारा नियम 97 अंतर्गत अल्‍पकालीन चर्चा उपस्थित की गई थी। प्रतिपक्ष नेता धनंजय मुंडे ने कहा कि धुले जिले में साक्री तहसील के राइनपाड़ा में अफवाह के कारण पांच लोगों की हत्‍या हुई है। इस प्रकरण में पीडि़तों को 25-25 लाख रूपए की मदद कर उनके परिवार के एक सदस्‍य को नौकरी दी जाए। आज इलेक्‍ट्रानिक व प्रिंट मीडिया की बजाए सोशल मीडिया भावी हो गया है।

खबर की पुष्टि बिना उसे फैला दिया जाता है। सोशल मीडिया से अफवाह न फैले, इसे लेकर प्रतिबंधात्‍मक कानून बनाया जाए। उन्‍होंने कहा संघ का नाम बिना कहे कि अप्रत्‍यक्ष सरकार चलाने वाले व्‍यक्ति लोगोंकी इस तरह की मानसिकता तैयार कर रहे हैं कभी गोमांस के संदेह में हत्‍या की जाती है तो कभी अन्‍य मुद्दों को लेकर। लोगों में कानून का डर नहीं है यह सरकार की विफलता है।

विप सदस्‍य कपिल पाटील ने कहा कि सिर्फ अफवाह के कारण उनकी जान गई, यह मानने में मैं तैयार नहीं। सोशल मीडिया की अफवाह के कारण मौत हुई है, यह कारण बताकर मामले से हाथ नहीं झटक सकते। भटक्‍या-विमुक्‍त जाति का पुनर्वसन कार्यक्रम पिछले 60 साल में असफल रहा है। सरकार को इस मामले में कठोर भूमिका अपनानी चाहिए।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *