[10:10 PM, 12/7/2017] News4indai: कास्टिंग डायरेक्‍टर ने मॉडल को बनाया बंदी – News 4 India

कास्टिंग डायरेक्‍टर ने मॉडल को बनाया बंदी

भोपाल न्‍यूज 4 इंडिया। मुंबई फिल्‍म इंडस्‍ट्री में खुद को कास्टिंग डायरेक्‍टर बताने वाले एक सिरफिरे आशिक ने बीएसएनएल के रिटायर एजीएम की मॉडल बेटी को बंधक बना लिया। वह 12 जुलाई जुलाई को देर रात देसी कट्टा लेकर कवर्ड कैंपस में उनके घर में जा घुसा था। कमरे में उसने खुद पर और मॉडल पर कैंची से कई वार भी किए। 13 जुलाई की सुबह 7 बजे पुलिस ने उसे बाहर निकालने के लिए रेस्‍क्‍यू शुरू किया। ढेरों समझाइश दी गई, लेकिन वह अलीगढ़ से अपने पिता को बुलाने की मांग पर अड़ा रहा। देर शाम साढ़े सात बजे दोनों शादी की शर्त पर कमरे से बाहर निकले। इस बीच उसने एक सब इंस्‍पेक्‍टर को घायल भी कर दिया। सोशल मीडिया पर कई पोस्‍ट किए, जिनमें वह मॉडल से शादी करने की बातें करता रहा। पुलिस के अनुसार युवती को बंधक बनाने वाला यूपी के अलीगढ़ का रोहित सिंह है।

पुलिस ने शुरू की समझाइश

पुलिस ने पहुंचते ही रोहित सिंह से दरवाजे के बाहर से ही बात की, लेकिन वह नहीं माना। मीडिया को बुलाने पर अड़ गया। इस बीच मीडिया और तमाम अफसर भी पहुंच गए। रोहित को समझाइश का सिलसिला शुरू हुआ। उसने पुलिस से बात करने से इंकार कर दिया। बोला केवल मीडिया से ही बात करूंगा। वीडियो कॉलिंग पर उसने मीडिया से कहा कि मुझे और युवती को पुलिस ने मारा है। उनकी वजह से ही हम दोनों के शरीर से खून निकल रहा है। कुछ देर बाद ही वह बौखला गया और बोला कि अब मैं न मीडिया से बात करूंगा और न ही यहां पुलिस चाहिए। मेरे पापा को अलीगढ़ से बुलाओ, तभी बाहर निकलूंगा।

पिता बोले मुझे उससे कोई मतलब नहीं

पुलिस की समझाइश पर वह बार-बार अपने पिता रेशम पाल सिंह को बुलानेपर अड़ा रहा। पुलिस ने जब रेशम पाल सिंह से फोन पर बात की तो उन्‍होंने उससे मिलने से साफ इंकार कर दिया। बोले कि मैं आने वाला नहीं हूं, आपको जो कार्रवाई करनी हो, कर लो। मुझे उससे कोई मतलब नहीं है।

तीन घंटे लगातार बात करते रहे एसपी

मामले के तूल पकड़ने पर एसपी साउथ लोढ़ा भी मौके पर पहुंच गए। शाम चार बजे से उन्‍होंने दरवाजे के बाहर से रोहित से तीन घंटे तक बात करते रहे।वह कभी पानी की बोलत तो कभी दूध मांगता रहा। जब दी तो बोला पैक्‍ड बोतल ही चाहिए, इसमें पुलिस ने नशीली दवा मिलाई होगी। जब उसे ये चीजें मुहैया करवाई गईं तो उसने एसपी से थोड़ा ठीक से बात शुरू की। एसपी उसे समझाते रहे कि बाहर आ जाओ। दोनों बालिग हो, तुम्‍हे शादी करने की इजाजत कानून भी देता है।

खुद को कास्टिंग असिस्‍टेंट डायरेक्‍टर बताता है

32 वर्षीय रोहित सिंह अलीगढ़ के छोटे से गांव गोधा का रहने वाला है। फेसबुक वॉल पर उसने खुद को मुंबई फिल्‍म इंडस्‍ट्री में कास्टिंग असिस्‍टेंट डायरेक्‍टर दिखाया है। हालांकि, युवती से पहली मुलाकात में उसने खुद को एक न्‍यूज चैनल का कर्मचारी बताया था उसने ही युवती को शिल्‍पा शेट्टी और जॉन अब्राहम जैसे फिल्‍म स्‍टार्स से मिलवाया था तभी से दोनों में अच्‍छी दोस्‍ती हो गई ओर वे एक-दूसरे से मिलने लगे।

युवती के पिता ने बताया कि रोज की तरह 13 जुलाई को सुबह पौने छह बजे मैं उठा और दूध लाने के लिए फ्लैट से बाहर निकला। दरवाजे पर बाहर से ताला लगाकर गया था। दस मिनट बाद लौटा और टीवी देखने लगा। करीब सात बजे बेटी के कमरे से चिल्‍लाने की आवाज आई। हम उस तरफ बढ़े तो दरवाजा अंदर से बंद मिला। पता चला कि अंदर बेटी का दोस्‍त रोहित सिंह था। बेटी को परेशान होते देख हमने पुलिस को फोन कर बुला लिया।

हाइड्रोलिक पर चढ़कर की आमने-सामने बात

शाम करीब साढ़े छह बजे एसपी, एडीएम दिशा नागवंशी और एएसपी धर्मवीर यादव हाइड्रोलिक मशीन से ऊपर चढ़े। वह कमरे की ग्रिल लगी बालकनी पर था। एसपी ने रोहित सिंह से आमने-सामने बात करते हुए कहा- बाहर आ जाओ, तुमसे जो वादा किया है वह पूरा करूंगा।एसपी हूं मैं, अपनी बात पर कायम रहूंगा। तब जाकर वह कमरे से बाहर निकलने के लिए तैयार हुआ। इसके बाद तीनों अफसर हाइड्रालिक से उतरकर वापस फ्लैट में पहुंचे। रोहित को भरोसा दिलाया कि हम दरवाजे के बाहर खड़े हैं। शाम 7.20 बजे दोनों कमरे से बाहर निकले। बाद में एसपी ने कहा कि मेडिकल जांच के बाद दोनों की काउंस‍लिंग की जाएगी।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *