एक हजार रूपए से शुरू की नौकरी और अब संपत्ति 20 करोड़

इंदौर न्यूज 4 इंडिया। टीएंडसीपी इंदौर में कई साल उप संचालक और वर्तमान में देवास में पदस्थ अनिता कुरोठे के इंदौर स्थित पांच से ज्यादा ठिकानों पर मंगलवार को लोकायुक्त पुलिस ने छापे मारे। कार्रवाई में कुरोठे फार्म हाउस, जमीन, होटल, कई मकानों और दुकानों की मालिक निकलीं। भोपाल में भी उनकी संपत्ति की जानकारी मिली है। पकड़ी गई अनुपातहीन संपत्ति की कीमत 20 से 25 करोड़ रूपए है। कुछ संपत्ति पति व परिजनों के नाम पर है। विभाग में वह पहली महिला अधिकारी हैं, जिनके यहां आय से अधिक संपत्ति के मामले में कार्रवाई हुई है। लोकायुक्त एसपी दिलीप सोनी ने बताया कि मंगलवार सुबह छापे में इंदौर के साथ भोपाल ओर उज्जैन लोकायुक्त पुलिस की टीम भी शामिल थी। एक टीम सुबह 6 बजे कुरोठे के शहनाई रेसीडेंसी एबी रोड स्थित फ्लैट नंबर 703 में पहुंची। लोकायुक्त इंस्पेक्टर विजय चौधरी व टीम द्वारा ली गई तलाशी में 25 लाख का सोना, 45 लाख की एफडी, 10 बैंक खाते, एक लॉकर, सवा लाख रूपए नगद, दो कारें और महंगी शराब की बोतलों के साथ ही करीब 50 लाख रूपए का घरेलू सामान मिला। इसके अलावा करोड़ों के होटल में पार्टनरशिप, कन्नड़िया रोड पर फार्म हाउस, कई जगह फ्लैट, दुकाने, महू क्षेत्र में सात एकड़ जमीन, भोपाल में मकान आदि का पता चला। कार्रवाई के वक्त फ्लैट में उप संचालक के पति जगदीश कुरोठे, मां रेजिना विल्सन और बेटी मोनिशा भी थीं।

एक हजार रूपए वेतन से शुरू की थी नौकरी, अब वेतन 80 हजार, पति भी इसी विभाग में क्लर्क थे

लेकायुक्त एसपी दिलीप सोनी के मुताबिक 1994 में कुरोठे की ज्वाइनिंग तकनीक सहायक प्लानर के पद पर हुई थी। तब वेतन महज एक हजार रूपए था, जो अब 80 हजार है। उनके पति भी टीएंडसीपी इंदौर में क्लर्क के पद पर कार्यरत थे और पत्नी के अधीनस्थ रहे। 2009 में पति ने वीआरएस ले लिया था पति-पत्नी के वेतन से कुल आय लगभग एक करोड़ रूपए होने का आकलन किया गया है। इसमें उप संचालक कुरोठे की आय 75 लाख रू शामिल है।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *