[10:10 PM, 12/7/2017] News4indai: सियासी रंजिश के चलते ली 6 लाख की सुपारी | News 4 India

सियासी रंजिश के चलते ली 6 लाख की सुपारी

रायपुर न्यूज 4 इंडिया। राजधानी से लगे इलाके आरंग के कुरूद कुटेला में मौजूदा सरपंच के पति गोवर्धन उर्फ बबला साहू को गोली मारने की सुपारी वहीं के पूर्व सरपंच और झोला डॉक्टर परस साहू ने दी थी। उसने सुपारी के तौर पर 6 लाख रूपए गांव के ही डोमन निषाद को दिए। वह भी बबला से चुनाव हारने की वजह से दुश्मनी रखता था। आरोपियों ने शूटर राजधानी के तेलीबांधा से हायर किया। सभी 4 सितंबर को गांव पहुंचे और बबला को तीन गोलियां मारकर भाग निकले। गोलीबारी में घायल बबला की हालत अब भी गंभीर पर स्थिर है। शूटर को छोड़कर बाकी तीन को पुलिस ने गिरफ्तार कर लिया है। वारदात के पीछे रेत खनन विवाद और राजनीतिक रंजिश सामने आईं है। आईजी प्रदीप गुप्ता ने बताया कि गोलीकांड की जांच में सरपंच पति बबला का कई लोगों से विवाद सामने आया। इसलिए खुफिया पुलिस के साथ-साथ मामले की तगड़ी तकनीकी जांच की गई। इसी में अहम क्लू मिले। यह भी पता चला कि बबला पर तीन नाकाम हमले के बाद आरोपियों ने चौथी बार फिर प्लान बनाया और इस बार उस पर बस स्टैंड में गोलियां चलवा दी गई। उन्होंने बताया कि एक आरोपी परस साहू झोला डॉक्टर के साथ पंच भी है। उसके पास 22 एकड़ खेत और बड़ा मकान है। वह पहले प्रभावशाली था, लेकिन धीरे-धीरे बबला ने वर्चस्व कम कर दिया। बबला की पत्नी को 15 पंचों का समर्थन था, जबकि परस से समर्थक पंचों की संख्या सिर्फ 5 रह गई थी। यही नहीं, उसे रेत का भी काम नहीं मिल रहा था और ठेकेदारों ने कमीशन देना भी बंद कर दिया था। इसलिए उसने बबला को मारने की योजना बनाई, चूंकि डोमन भी बबला से सरपंच चुनाव हार चुका था। इसलिए वह भी प्लान में शामिल हो गया। दोनों ने सुपारी किलिंग के लिए तेलीबांधा के निगरानी बदमाश भूपेंद्र धु्रव उर्फ आर्य ठाकुर से संपर्क किया। आर्य और उसका साथी ललित बरवे उर्फ लियोन वारदात के दिन बाइक से कुरूद पहुंचे और बबला को गोली मारकर भाग निकले।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *