ब्लू व्हेल गेम खेल अपने दोस्तों को किया चैलेंज

रायपुर न्यूज 4 इंडिया। छत्तीसगढ़ के बालोद में 6 छात्र सुसाइड गेम ‘ब्लू व्हेल चैलेंज’ के जाल में फंस गए। सभी के हाथों पर ब्लेड और कांटे से कुरेदने के निशान मिले हैं। पता चला कि इनमें से केवल एक ही बच्चा है जो यह गेम खेलता था। बाकि को उसी ने कलाई काटने के लिए चैलेंज दिया था।

गेम के बारे में पता चला सोचा-देखूं जरा, कैसा है

मुझे जब ब्लू व्हेल गेम के बारे में पता चला तो सोचा कि देखूं जरा, कैसे खेलते हैं इंटरनेट पर ब्लू व्हेल गेम लिखकर सर्च किया। एक वीडिया आया, जिसमें कलाई काटकर ब्लू व्हेल या एफ-57 का निशान बना था। खेलने की इच्छा हुए। मैंने भी ब्लेड से अपनी कलाई पर वहीं लिख दिया। दूसरे दिन दोस्तों को निशान दिखाया और उनसे कहा- ‘यह टास्क सिर्फ मैं कर सकता हूं।’ तुम लोग डरपोक हो। मेरी बात सुन दोस्त भी जोश में आ गए और सभी ने ब्लेड और कांटे से कलाई पर कट के निशान  बना लिये।

मां बोली 7 बजे बिस्तर छोड़ता था, कुछ दिन से 3 बजे ही उठने लगा था।

कुछ दिन से बेटे का व्यवहार बदला था वो जन्मदिन पर कपड़े खरीदने जिद कर रहा था, हमने इग्नोर किया। अचानक उसकी दिनचर्या बदलने लगी। पहले सुबह-7 बजे से पहले बिस्तर नहीं छोड़ता था, 3 बजे उठने लगा। एक दिन टीचर्स ने बताया कि आपके बेटे के कलाई में ब्लू व्हेल के कट जैसा निशान हैं हम हैरान हो गए।

दोस्तों ने बताया- जिद में काटी कलाई, हम गेम नहीं खेलते

एक बच्चे ने बताया कि मेरे पास के साथी ने ब्लेड से अपनी कलाई काटी, फिर हमें चैलेंज किया कि तुम लोग ऐसा नहीं कर सकते हो। मुझे गुस्सा आया। जिद में मैंने अपनी कलाई पर ब्लेड चला दिया। मैं गेम नहीं खेलता हूं। अन्य बच्चों ने कहा कि ब्लू व्हेल गेम के बारे में सुना था। जब मेरे साथी ने चैलेंज किया तो हमने भी काट कर दिखाया। हम लोग अभी टेंशन में हैं।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *