[10:10 PM, 12/7/2017] News4indai: मुख्यमंत्री को जान से मारने की दे रहा था ट्विटर पर लगातार धमकी – News 4 India

मुख्यमंत्री को जान से मारने की दे रहा था ट्विटर पर लगातार धमकी

भोपाल न्‍यूज 4 इंडिया। मुख्‍यमंत्री शिवराज सिंह चौहान को ट्विटर पर जान से मारने की धमकी देने वाले दो सगे भाईयों को सायबर पुलिस भोपाल ने सिवनी जिले के बरघाट से गिरफ्तार किया है। जमानतीय अपराध होने के कारण पूछताछ के बाद उन्‍हें छोड़ दिया गया है। सायबर सेल मुख्‍यालय पीआरओ मनीष रघुवंशी ने बताया कि सोशल मीडिया के प्‍लेटफार्म ट्विटर पर 2 अगस्‍त से 7 अगस्‍त के बीच किसी अज्ञात ने मुख्‍यमंत्री शिवराज सिंह चौहान को जान से मारने की धमकी भरे मैसेज पोस्‍ट किए थे। 2 अगस्‍त को यह ट्विटर एकाउंट बनाया गया था। 6 दिनों के अंदर आरोपी ने 5 बार ये मैसेज भेजे थे।

जिसमें लिखा था, ‘अगर सीएम की जन आशीर्वाद यात्रा और सीएम आए सिवनी तो जान से मार दूंगा’। अज्ञात आरोपी के खिलाफ धमकी देने व आईटीएक्‍ट की धाराओं में अपराध दर्ज किया गया था। ट्विटर आईडी को ब्‍लॉक कर आरोपियों की पहचान सिवनी जिले के बरघाट निवासी जितेंद्र अर्जुनवार(32) और भरत कुमार अर्जुनवार(25) के रूप में हुई दोनों आरोपी सगे भाई हैं। मैसेज भेजने के पीछे कोई ठोस उद्देश्‍य सामने नहीं आया है। आरोपियों का विदेश एजेंसी से भी संबंध होने का खुलासा नहीं हुआ। पुलिस मान रही है कि लाइम लाइटमें आने के लिए आरोपी ने ये मैसेज भेजा है। 24 घंटे के अंदर आरोपियों को गिरफ्तार करने के बाद 9 अगस्‍त की दोपहर पुलिस ने उन्‍हें जमानत पर छोड़ दिया। आरोपी जितेंद्र अर्जुनवार बचपन से ही घर से भाग गया था 10 साल बाद 2012 में वह अचानक घर लौटा आया था। इस दौरान भूटान में रहने की बात उसने बताई थी। 2013 में जुलाई में एक बार फिर वह घर से भाग गया था बाद में पता चला कि वह पाकिस्‍तान की जेल में बंदर है। तत्‍कालीन बरघाट थाना प्रभारी की मदद से वह भारतीय नागरिक साबित हुआ और मई 2017 में उसे रिहा किया गया था।

सायबर सेल एसपी, सुदीप गोयंका ने बताया कि जमानतीय अपराध होने के कारण पूछताछ के बाद दोनों को छोड़ दिया गया है। किसी भी विदेशी एजेंसी से संबंध होन की जानकारी नहीं मिली है। लाइम लाइट में आने के लिए इस तरह के मैसेज भेजे गए थे। छोटे भाई ने सिम मुहैया कराई और बड़े भाई ने ट्विटर पर एकाउंट बनाकर मैसेज भेजे थे।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *