चार अभ्यारण्य ईको सेंसेटिव

भोपाल न्यूज 4 इंडिया। भारत सरकार ने प्रदेश के चार वन अभ्यारण्यों को केंद्रीय पर्यावरण अधिनियम 1986 के तहत ईको सेंसेटिव जोन घोषित किया हैं इनमें डिण्डौरी और उमरिया जिले में स्थित घुघुआ जीवाश्म राष्ट्रीय उद्यान, शिवपुरी जिले में स्थित करेरा वन्यजीवन अभ्यारण्य तथा महाराष्ट्र एवं मप्र के ईको सेंसेटिव जोन घोषित किए जाने से अब इन चारों वन क्षेत्रों में वनों, हार्टिकल्चर एग्रो फाम्र्स एग्रो फाम्र्स आमोद-प्रमोद के प्रयोजन के लिय चिन्ह्त किये गये पार्कों और खुले स्थानों का प्रयोग या परिवर्तन वाणिज्यिक नहीं किया जायेगा तथा औद्योगिक या रिहाईशी  प्रक्षेत्र या क्रियाकलापों के लिये उपयोग या परिवर्तन नहीं होगा, लेकिन मौजूदा सड़कों को चौड़ा करने या नई सड़कें बनाने, बुनियादी ढांचों और नागरिक सुविधाओं का निर्माण एवं नवीनीकरण प्रदूषण न करने वाले लघु व कुटीर उद्योगों की स्थापना के लिए गठित की जाने वाली निगरानी समिति की सिफारिश पर राज्य सरकार के अनुमोदन से स्थानीय निवासियों की जरूरतों के लिये की जा सकेगी।

Related posts

Leave a Comment