ओबामा रो पड़े

लास वेगास न्यूज 4 इंडिया। अमेरिका के लास वेगास में 9/11 के बाद अब तक सबसे बड़ा नरसंहार हुआ है। 64 साल के बुजुर्ग ने म्यूजिक फेस्टिबल में आए लोगों पर अंधाधुध गोली बरसाईं इससे 58 लोगों की मौत हो गई। 500 से ज्यादा लोग जख्मी हो गए। इस हिंसा के बाद अमेरिका में गन कल्चर पर बहस छिड़ गई है, क्योंकि सेंटर फार डिसीज कंट्रोल एंड प्रिर्वेशन के मुताबिक अमेरिका में बंदूकों से हर साल औरसतन 12 हाजर मौतें हो रही है। बीते 50 साल में अमेरिका में बंदूकों ने 15 लाख से ज्यादा जान ले लीं। इसमें मास शूटिंग और मर्डर संबंधित 5 लाख मौतें हुई हैं। बाकी सुसाइड, गलती से चली गोली ओर कानूनी कार्रवाई में जानें गई हैं। दरअसल अमेरिका में हथियार रखना बुनियाद हकों में आता है। आसानी से लोग स्टोर से हथियार खरीद लेते हैं। लिहाजा लोग गन पॉलिसी बनाने की मांग कर रहे हैं। पर अमेरिकी गन इंडस्ट्री सालाना 91 हजार करोड़ रूपए का रेवन्यू जेनरेट करती है। बराक ओबाम ने दो साल पले बच्चे के स्कूल में गोलीबारी के बाद गन पॉलिसी बनाने की मांग की थी, लेकिन संसद में 70 फीसदी सांसद ने इसका विरोध किया। लिहाजा कोई कानून आज तक नहीं बन सका। दूसरी तरफ सत्ता में आने से पहले ट्रंप भी हथियार समर्थक रूख दर्शाते रहे। बीते साल आरलैंडों के नाइटक्लब की घटना के बाद उन्होंने कहा था कि यदि क्लब के पास हथियार होते तो बहुत से लोगों को मरने से बचाया जा सकता था।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *