भाजपा चित

भोपाल न्‍यूज 4 इंडिया। प्रदेश में सत्‍ताधारी भाजपा एक बार फिर कांग्रेस के मजबूत किले में सेंध लगाने में नाकामयाब रही। प्रतिष्‍ठापूर्ण चित्रकूट विधानसभा उप्र चुनाव में मुख्‍य विपक्षी दल कांग्रेस ने एक बार फिर अपनी मजबूत किलेबंदी से भाजपा को यहां चित कर दिया। यहां कांग्रेस के नीलांशु चतुर्वेदी ने भाजपा के शंकर दयाल त्रिपाठी को 14133 मतों से करारा जबाव दिया।

मतदान कड़ी सुरक्षा व्‍यवस्‍था के बीच सतना जिला मुख्‍यालय में शुरू हुई। शुरू में डाक मत पत्रों की गणना की गई। उसके बाद फिर ईव्‍हीएम के मतों की गणना शुरू हुई। शुरूआती दौर में कांग्रेस उम्‍मीदवार ने बढ़त बना ली थी, जो राउंडवार बढ़ती रही। एक समय ऐसा भी आया, जब कांग्रेस उम्‍मीदवार की बढ़त लगभग 19 हजार मतों तक जा पहुंची, लेकिन आखिर के पांच राउंड में भाजपा उम्‍मीदवार ने पहलेही इतनी बढ़त बना ली थी कि उनकी जीत को लेकर कोई अंदेशा नहीं रह गया। आखिर में 19 वें राउंड में यह अंतर 14133 मतों पर आकर टिक गया।

लगा तगड़ा झटका

इससे सत्‍ताधारी भाजपा को तगड़ा झटका लगा है। यह सीट कांग्रेस से छीनने के लिये भाजपा ने पूराजोर लगा दिया था। मुख्‍यमंत्री चुनाव  प्रचार के आखिर तीन दिन तक चित्रकूट में ही जमे रहे, उसके बाद भी भाजपा यह सीट हथियाने में असफल रही। वहीं दूसरी तरफ नेता प्रतिपक्ष अजय सिंह ने चित्रकूट में ही लगातार कैंप किया और सारे समीकरण को अपने पक्ष में कर कांग्रेस को एक बार फिर संजीवनी दे दी। यहां भाजपा को वर्ष 2008 में ही कामयाब मिली थी, तब सुरेंद्र सिंह गहरवार ने कांग्रेसके प्रेमसिंह को 722 मतों से हरा दिया था।

पिछले के मुकाबले बढ़ा जीत का अंतर

पिछले विधानसभा चुनाव में यहां से कांग्रेस के प्रेम सिंह विजयी हुए थे, उन्‍होंने भाजपाके सुरेंद्र सिंह गहरवार को 10970 वोटों से पराजित किया था, लेकिन उपचुनाव में सहानुभूति के रथ पर सवार कांग्रेस ने नीलांशु चतुर्वेदी पर दांव लगाया था जो कामयाब रही। न सिर्फ कामयाब रही, बल्कि पिछले चुनाव के मुकाबले जीत के अंतर को और बढ़ा दिया।

कांग्रेस उम्‍मीदवार को मिले 66810 मत

कांग्रेस उम्‍मीदवार नीलांशु चतु‍र्वेदी को जहां 66810 मत मिले। वही भाजपा के शंकरदयाल त्रिपाठी को महत 52677 वोटों से ही संतोष करना पड़ा। इन दोनों ही उम्‍मीदवारों के अलावा 9 निर्दलीय सहित कुल 10 उम्‍मीदवारों की जमानत जब्‍त हो गई। यहां भाजपा और कांग्रेस के बाद नोटा को सबसे अधिक 2455 वोट मिले। कांग्रेस उम्‍मीदवार को 41.73 फीसदी मत ही मिले। नोटा को 1.94 और बाकी को कुल वोटों का महज 3.37 फीसदी वोट ही मिल सका।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *