[10:10 PM, 12/7/2017] News4indai: अब यूपी पर ऐसा हुआ, कि | News 4 India

अब यूपी पर ऐसा हुआ, कि

लखनऊ न्‍यूज 4 इंडिया। भाजपा ने उत्‍तरप्रदेश में 2014 के लोकसभा और 2017के विधानसभा चुनावों का शानदार प्रदर्शन कयाम रखा है। यूपी में 1 दिसंबर को स्‍थानीय निकाय चुनावों के नतीजे आए। भाजपा ने 16 नगर निगमों में से 14 जीत लिए हैं। 2 बसपा ने कब्‍जा जमाया है। सपा ने अपने समर्थन वाली एक सीट में गंवा दी, जबकि कांग्रेस पहले जैसे ही खाली हाथ रही। भाजपा ने 198 नगरपालिका में और 438 नगर पंचायत सीटों पर भी कब्‍जा जमाया है। इस चुनाव में वोटिंग के लिए ईवीएम और बैलेट पेपर दोनों का इस्‍तेमाल हुआ था। नतीजों के विश्‍लेषण से यहां जिन वार्डों में ईवीएम से वोटिंग हुई वहां भाजपा ने 45 प्रतिशत जीत दर्ज की। और जहां बैलेट से वोट हुए हैं वहां भाजपा की जीत 14 प्रतिशत रही। यहां यह भी ध्‍यान होगा कि 16 नगर निगमों के जिन 1300 वार्डों में ईवीएम से वोटिंग हुई, वह शहरी इलाके हैं। नगरपालिका और नगर पंचायत के 10 हजार 707 वार्ड में बैलेट पेपर से वोट डले। ये कस्‍बाई इलाका है।

पहली बार सबसे अधिक 7 महिलाएं मेयर बनीं हैं। पिछली बार 4 थीं 2012 में 12 निगमों में चुनाव हुए थे। इनमें से 10 भाजपा ने जीती थी। इस बार 4 नए निगम जोड़े गए। चारों में भाजपा का परचम लहराया।

जहां योगी ने वोट दिया वहां भाजपा हारी और राहुल के संसदीय क्षेत्र अमेठी में कांग्रेस की हार

यूपी सीएम योगी के वार्ड में भाजपा हार गई। इस वार्ड में योगी ने वोट दिया था। यहां से निर्दलीय नादिरा खातून विजयी रहीं।

राहुल के संसदीय क्षेत्र अमेठी में कांग्रेस नगर पालिका अध्‍यक्ष की दोनों सीटें हार गई है गौरीगंज में सपा और जायस सीट पर भाजपा प्रत्‍याशी विजयी हुए हैं। डिंपल यादव के संसदीय क्षेत्र कन्‍नौज में नगरपालिका अध्‍यक्ष की तीनों सीटें सपा हार गई है। यहां एक सीट पर भाजपा और एक सीट पर बसपा और निर्दलीय उम्‍मीदवार जीते हैं।

डिप्‍टी सीएम केशव मौर्या के गृह क्षेत्र कौशांबी की सभी छह नगर पंचायतों में भाजपा हार गई है।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *