[10:10 PM, 12/7/2017] News4indai: पुलिस प्रशासन के बाद अब जिला प्रशासन के अधिकारी अपर कलेक्टर का नया कारनामा | News 4 India

पुलिस प्रशासन के बाद अब जिला प्रशासन के अधिकारी अपर कलेक्टर का कारनामा

इंदौर। सड़क किनारे खड़ी गाड़ी को देखकर पुलिस को शक हुआ और पुलिस रूटीन जांच के लिए गाड़ी के करीब पहुंची बाद में जो खुलासा हुआ उसने प्रशासनिक जगत में हलचल मचा दिया जी हां खबर तो यह मिली है कि राज्य प्रशासनिक सेवा के अधिकारी झाबुआ के अपर कलेक्टर दिलीप कापसे को इंदौर पुलिस ने सड़क किनारे गाड़ी में बैठकर शराब पीते पकड़ा। जब कापसे एवं उसके साथी को पहचान पत्र मांगा तो शराब के नशे में धुत्त कापसे पुलिस कर्मचारी के साथ मारपीट पर उतारू हो गया है। उससे असंसदीय शब्दों का प्रयोग भी किया। यह पूरा वाक्या प्रधान आरक्षक ने कैमरे में कैद कर लिया और अपने आला अफसरों को भेज दिया। घटना को रोजनामचे में भी दर्ज किया। चूंकि मामला अपर कलेक्टर से जुड़ा है, इसलिए पुलिस भी खानापूर्ति में जुटी है।

बताया कि जिस कार में बैठकर अपर कलेक्टर शराब पी रहे थे, वह खनिज कारोबारी की थी। जब पुलिस ने खनिज कारोबारी मुकेशसिंह गौड़ को पूछताछ के लिए तलब किया। उसने फोन पर बताया कि उसके साथ झाबुआ में पदस्थ अपर कलेक्टर दिलीप कापसे गाड़ी में थे। दोनों उदयपुर से लौट रहे थे। गोल चौराहा पर किसी जरूरी काम से रुके थे तब पुलिसकर्मियों ने अभद्र व्यवहार किया। पुलिसकर्मियों का आरोप है कि दोनों शराब पार्टी मना रहे थे।

जानकारी के मुताबिक घटना शनिवार रात करीब 9.30 बजे की है। पीसीआर-5 की टीम राऊ व गोला चौराहा के आसपास संदेहियों की चेकिंग कर रही थी। इस दौरान सड़क पर कार(एमपी 09एनजी 0500) दिखाई दी। प्रधान आरक्षक मेवालाल को उन पर संदेह हुआ। उन्होंने कार के कांच खुलवाए तो दोनों व्यक्ति शराब पीते दिखाई दिए। पूछताछ करने पर ड्राइविंग सीट पर बैठा व्यक्ति अभद्रता करने लगा। हेड कांस्टेबल ने पूरी घटना का वीडियो बनाया और वायरल कर दिया। कुछ देर बाद थाने पहुंचा और रोजनामचे में रिपोर्ट भी डाल दी।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *