[10:10 PM, 12/7/2017] News4indai: चाय वाले ने कर दी ,चाय वाले प्रधानमंत्री मोदी की भविष्यवाणी | News 4 India

चाय वाले ने कर दी ,चाय वाले प्रधानमंत्री मोदी की भविष्यवाणी

कानपुर. जब कांग्रेस के एक नेता ने अपने बयान में कहा था कि चाय वाला प्रधानमंत्री तो नहीं, हां संसद के बाहर दुकानदार बनकर बैठ सकता है। इसी के बाद से पूरे देश में बवंडर मच गया और हजारों चायवाले पीएम नरेंद्र मोदी के साथ खड़े हो गए और इसी नारे के बल पर करोड़ों लोगों के दिल में पीएम ने बस जगह बना ली। लोकसभा चुनाव में एक चायवाले को देश की जनता ने दिल्ली की कुर्सी पर बैठा दिया। इस दौरान सैकड़ों चायवाले पीएम मोदी के प्रसंशक बन गए।
पीएम मोदी ही गुजरात के महारथी
ऐसा ही एक समर्थक अनिल कुमार पोरवाल कानपुर के इंद्रानगर में भी है, जो अपने चाय के स्टॉल के बाहर एक बैनर पर रोजाना मन की बात लिखकर प्रधानमंत्री के विचारों को लोगों तक पहुंचा रहा है। अनिल कहते हैं कि सुबह की शुरूआत मन की बात लिखने के साथ होती है। हर दिन दर्जनों लोग दुकान आते हैं और चाय के साथ निशुल्क देश और महापुरूषों के इतिहास की जानकारी पाते हैं। अनिल ने कहा कि पीएम मोदी गुजरातियों के दिल में राज करते हैं और वे ही वहां के महारथी हैं। मोदी के बल पर 18 दिसंबर को गांधीनगर में कमल खिलेगा।

लोगों तक पहुंचाते हैं मन की बात
मूल रूप से कालपी निवासी अनिल करीब 40 साल पहले कानपुर के इंदिरानगर में आकर बस गए थे। यहां उन्होंने भारतीय स्टेट बैंक के सामने चाय की दुकान खोल रखी है। अनिल बताते हैं कि पंद्रह साल पहले हम सूरत गए थे, तब हमने वहां के तत्कालीन मुख्यमंत्री नरेंद्र मोदी के नाम और काम के बारे में सुना। लोगों ने जब उनके काम करने के तरीके के बारे में बताया तो हम पीएम मोदी के प्रशंसक हो गए। 2013 लोकसभा चुनाव के वक्त जब वे भाजपा से पीएम पद के लिए उम्मीदवार बने और उन्होंने अपने को चाय वालों से जोड़ा तो हम भी उनके साथ खड़े हो गए। अनिल ने बताया कि सूरत, अहमदाबाद, भुज सहित कई शहरों का में जा चुके हैं और चाय की दुकनों, ठेलों और बस्तियों में पीएम मोदी को लोग दिल से पसंद करते हैं। राहुल गांधी और हार्दिक पटेल को गुजरात के लोग देखने तो आ रहे होंगे, पर जब वोट देने की बारी आएगी तो बटन कमल का ही दबाएंगे।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *