[10:10 PM, 12/7/2017] News4indai: पूर्व सीएम पर नहीं चलेगा केस | News 4 India

पूर्व सीएम पर नहीं चलेगा केस

मुंबई न्‍यूज 4 इंडिया। 2जी घोटाले में सभी आरोपियों के बरी होने के एक दिन बाद कांग्रेस के लिए एक और अच्‍छी खबर है। बॉम्‍बे हाईकोर्ट ने महाराष्‍ट्र के पूर्व मुख्‍यमंत्री अशोक चव्‍हाण पर मुकदमा चलाने के राज्‍यपाल सी विद्यासागर के आदेश को खारिज कर दिया है। अब आदर्श हाउसिंग सोसाइटी घोटाला मामले में चव्‍हाण पर कोई केस नहीं चलेगा।

चव्‍हाण उन 14 लोगों में शामिल हैं, जिन्‍हें आदर्श घोटाले में आरोपी बनाया गया। चव्‍हाण पर भ्रष्‍टाचार के साथ ही आपराधिक साजिश और धोखाधड़ी के मामले दर्ज किए गए थे। उन्‍होंने राज्‍यपाल के आदेश को हाईकोर्ट में चुनौती दी थी। आदर्श घोटाला 2010 में सामने आया था।

सीबीआई पर टिप्‍पणी

जस्टिस रंजीत मोरे और साधना जाधव की बैंच ने कहा कि सीबीआई ने ऐसे कोई नए साक्ष्‍य नहीं दिए, जिसे अदालत विश्‍वसनीय मान सके। इसलिए राज्‍यपाल के आदेश को बरकरार नहीं रखा जा सकता। सीबीआई ने राज्‍यपाल से अनुमति मांगते समय चव्‍हाण के खिलाफ नए सबूत होने का दावा किया था, लेकिन सुनवाई के दौरान वह इसे देने में नाकाम रही। बैंच ने सीबीआई के वकील की यह दलील भी नहीं मानी कि इस मामले में ट्रायल कोर्ट ही फैसला कर सकती है। हाईकोर्ट ने फैसले की रिपोर्ट और एकल बैंच के आदेश को भी विश्‍वसनीय साक्ष्‍य में नहीं बदला जा सकता।

राज्‍यपाल पर

बेंच ने राज्‍यपाल विद्यासागर पर टिप्‍पणी करते हुए कहा कि मुकदमे की मंजूरी देने वाली अथॉरिटी एक स्‍वतंत्र निकाय है, वह किसी की राय से प्रभावित नहीं हो सकती। राज्‍यपाल को पूर्व राज्‍यपाल के फैसले की समीक्षा या पुनर्विचार करने का अधिकार है, लेकिन नए सबूत सामने आने के आधार पर मुकदमा चलाने की मंजूरी देने का अधिकार नहीं है। वह भी तब, जब पूर्व राज्‍यपाल ने सीबीआई की ऐसी मांग खारिज कर दी थी।

अशोक चव्‍हारण, पूर्व सीएम और महाराष्‍ट्र कांग्रेस अध्‍यक्ष का कहना है कि सत्‍य की जीत हुई है। राज्‍यपाल सी विद्यासागर राव का आदेश पूरी तरह राजनीति से प्रेरित और पक्षतापूर्ण था। मैंने पहले भी कहा है कि मैं निर्दोष हूं।

संजय निरूपम, मुंबई कांग्रेस अध्‍यक्ष का कहना है कि 2जी की तरह आदर्श कोई घोटाला नहीं था। कांग्रेस को बदनाम करने के लिए भाजपा ने यह चाल चली थी। जमीन महाराष्‍ट्र सरकार की है। यह सामान्‍य प्रोजेक्‍ट की तरह था।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *