[10:10 PM, 12/7/2017] News4indai: फर्जी लोकायुक्‍त के खातों की पड़ताल | News 4 India

फर्जी लोकायुक्‍त के खातों की पड़ताल

भोपाल न्‍यूज 4 इंडिया। भोपाल लोकायुक्‍त के हत्‍थे चढ़े फर्जी लोकायुक्‍त निरीक्षक मामले में 5 जनवरी को भी जाचं जारी रही। लोकायुक्‍त ने आरोपी रामकुमार को कोर्ट में पेश किया। जहां से पांच दिन की रिमांड पर लिया है। शिकायतकर्ता ने सागर लोकायुक्‍त में तैनात सिपाहियों के नाम भी मामले में जोड़े हैं। लोकायुक्‍त निरीक्षक बनकर ठगी करने के आरोप में शहर की कौशलपुरी कॉलोनी निवासी रामकुकार विश्‍वकर्मा को लोकायुक्‍त भोपाल की टीम ने 4 जनवरी को उसके घर से छापामार कार्रवाई कर गिरफ्तार किया था। देहात थाना में रामकुमार से पूछताछ की गई। लोकायुक्‍त ने रामकुमार के सहयोगी मानस बादल के साथ आरोपी के कर्मचारी राजीव चौरसिया, कम्‍प्‍यूटर ऑपरेटर अंजू पटैरिया व संगीता झा से भी पूछताछ की। आरोपी और उसके परिजनों के बैंक खाते भी खंगाले हैं। वहीं शिकायतकर्ता विजय विश्‍वकर्मा ने रामकुमार द्वारा सागर लोकायुक्‍त में पदस्‍थ विजय कुमार परस्‍ते और प्रदीप खरे से मोबाइल से बात कराए जाना बताया गया है। भोपाल लोकायुक्‍त डीएसपी नरेंद्र सिंह राठौर ने बताया कि दस्‍तावेज खंगाले जा रहे हैं। सागर लोकायुक्‍त एसपी ने कहा कि विजयपरस्‍तेऔर प्रदीप खरे नाम से सिपाही महकमें में हैं। किसी भी तरह की संलिप्‍तता साबित होने पर मुख्‍यालय के आदेश अनुसार कार्रवाही की जाएगी।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *