[10:10 PM, 12/7/2017] News4indai: गुटबाजी काबू करने में जुटी कांग्रेस – News 4 India

गुटबाजी काबू करने में जुटी कांग्रेस

नई दिल्‍ली न्‍यूज 4 इंडिया। राहुल गांधी के कांग्रेस अध्‍यक्ष बनने के बाद पार्टी के अहम पदों पर नियुक्तियों से पहले राज्‍यों में संगठन को दुरूस्‍त करने के साथ ही गुटबाजी पर काबू पाने की कवायद शुरू हो गई है। 2018 में जिन राज्‍यों में चुनाव होने हैं, उनमें असमंजस दूर करने के लिए सभी प्रदेशों को कहा गया है कि जहां बदलाव होने हैं, उसकी प्रक्रिया चल रही है और शेष प्रदेश मौजूदा नेतृत्‍व के साथ काम करते समय रहेंगे।

हटेंगे कई नेता

कार्यसमिति में अभी पिछले अध्‍यक्ष के करीबी नेताओं का बोलबाला है इनमें कई ऐसे उम्रदराज भी हैं जिनकी सेहत मौजूदा राजनीतिक हालात को देखते हुए बहुत अधिक भागदौड़ की इजाजत नहीं देती। इसी तरह दो से तीन ऐसे महासचिव हैं जिनके प्रभार वाले कई राज्‍यों का चुनाव हारकर पार्टी हाशिए पर आ पहुंची है।

पहला बदलाव छत्‍तीसगढ़ में

पार्टी अध्‍यक्ष ने गुजरात के बाद पहला बदलाव छत्‍तीसगढ़में किया है, जहां प्रदेश अध्‍यक्ष भूपेश बघेल को बरकरार रखा है, लेकिन आदिवासी बहुल प्रदेश में गुटबाजी समाप्‍त करने के लिए रामदयाल उइके और शिवकुमार धारिया को कार्यकारी अध्‍यक्ष बनाया है। इसी तरह चुनाव वाले राज्‍यों में कार्यकारी अध्‍यक्ष बनाने की तैयारी की गई है।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *