[10:10 PM, 12/7/2017] News4indai: क्षति पहुंचा तान दी बिल्डिंग – News 4 India

क्षति पहुंचा तान दी बिल्डिंग

छिन्‍दवाड़ा न्‍यूज 4 इंडिया। शहर का सबसे चर्चित मामला कमानिया गेट पर हाल ही में हुआ बिल्डिंग निर्माण प्रकरण में अजीत कुमार जैन ने भूतल और प्रथम तल पर 513-513 वर्गफिट के निर्माण की अनुमति ली थी कुल 1026वर्गफिट का निर्माण किया जाना था लेकिन यहां 4092 वर्गफिट पर निर्माण कर लिया गया है। अधिकारियों ने जांच में ये भी पाया था कि कंस्‍ट्रक्‍शन एरिया से लगे ऐतिहासिक स्‍थल कमानिया गेट को भी तोड़कर निर्माण कर लिया गया है। इस मामले में दर्जनों नोटिस जारी कर चुके हैं लेकिन भोपाल के बड़े नेता का फोन आला प्रशासनिक अधिकारियों के पास फोन पर पूरी कार्रवाई रोक दी गई है। दबाव के बाद निगम की ओर से औपचारिक कार्रवाई की तैयारी की जा रही है।

अगस्‍त में जारी हुए तोड़ने के आदेश

अगस्‍त 2017 में निगम आयुक्‍त ने आदेश जारी करते हुए निर्माण को पूरी तरह अवैध माना था साथ ही ये भी आदेश दिया था कि 7 दिन के अंदर अवैध निर्माण हटाया जाए, लेकिन इन आदेशों के बाद भी मामला ठंडे बस्‍ते में है।

दूसरा मामला गांधी गंज डॉ. बिंद्रा के क्लिनिक के पास का है। जहाँ बिना मद परिवर्तन किए ही यहां आलीशान कॉम्‍प्‍लेक्‍स का निर्माण किया जा रहा था ये जमीन नगर निगम की थी आवास की अनुमति दी गई थी लेकिन व्‍यावसायिक निर्माण किया जा रहा था इस मामले में अधिकारियों ने नोटिस जारी किया लेकिन आगे भी कार्रवाई नहीं की। जिसके बाद ये मामला भी गांधीगंज सुर्खियां बना हुआ है। ये जमीन किसी संजय महाजन के नाम पर है।

नगरनिगम के नियमों के अनुसार व्‍यावसायिक अनुमति के लिए टीएनसीपी के अलावा मद परिवर्तन की राशि जमा करनी होती है। नियमानुसार जमीन की मॉर्केट वेल्‍यू के अनुसार 2 प्रतिशत प्रीमियम जमीन मालिक अदा करना होता है लेकिन इन नियमों की परवाह किए बगैर निर्माण किया जा रहा था।

कमानिया गेट रतन ज्‍वेलर्स ने अपनी गलती मानते हुए कार्रवाई के लिए पत्र दिया है वे बिना अनुमति अतिक्रमण तुड़वाने और शुल्‍क देने के लिए तैयार हैं।

आयुक्‍त नगरनिगम, इच्छित गढ़पाले का कहना है कि गांधीगंज वाले मामले में नगर निगम ने नोटिस जारी किए हैं इस मामले में प्रशासनिक दस्‍तावेज तैयार किए जा रहे हैं। सख्‍त कार्रवाई की जाएगी।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *