सी सी टीवी कैमरे की निगरानी में चल रहा था अवैध कारोबार

छिंदवाड़ा पुलिस अधीक्षक गौरव तिवारी की बड़ी कार्रवाई,
आईपीएल पर सट्टा लगाने वाले अन्तर्राज्यी गिरोह का भंडाफोड़
छिन्दवाड़ा //आईपीएल मैचों के दौरान कोयलांचल मे क्रिकेट सटटा खेले जाने की बात लम्बे समय से चर्चा का विषय रही है परन्तु कही न कही इन सटोरियों को उच्च स्तर से मूक सहमति दिये जाने के कारण सटटा का कारोबार फलफूल रहा था ।किन्तू छिन्दवाडा के अति सवेंदनशील पुलिस अधीक्षक गौरव तिवारी द्वारा स्थानीय पुलिस को सूचना दिये बगैर ही जिले की टीम द्वारा चांदामेटा के तथाकथित राजनैतिक दल के नेता एवं दो बार जिला बदर हो चुका सटटा माफिया लवकुश अग्रवाल के घर छापामारी की गई ।जिसमे पुलिस को बड़ी सफलता हासिल हुई।
और अंतर्राज्यीय सटटा गिरोह का खुलासा हुआ। छापामार कार्यवाही में 40 मोबाइल 1लाख नगद, टीवी 2, लेपटाप 1, कम्प्यूटर 1,पेनड्राईभ 2, बैटरी के साथ आधुनिक उपकरण मिले । मुख्य आरोपी लवकुश पिता पतिराम अग्रवाल, आकश पिता लवकुश अग्रवाल,विजय पिता दिलीप गांगोली, भूरा उर्फ सलमान पर मामला पंजीबद्व किया गया है वही सलमान उर्फ भूरा छापामारी के दौरान दिवाल कूदकर फरार हो गया है।
ज्ञात हो की आरोपी लव कुश अग्रवाल अपने ही घर से अपने साथियों के साथ मिलकर आईपीएल क्रिकेट का सट्टा संचालित करता आ रहा है जिसने बड़ी चालाकी पूर्वक पुलिस से पकड़े जाने से बचने के लिए अपने मकान के चारों ओर ऊंची दिवार बना रखी हैं साथ ही साथ अपने मकान के चारों ओर सीसीटीवी कैमरा भी लगा रखा है और अपने घर के सामने सुरक्षा हेतु प्राइवेट गार्ड भी लगा रखा है जिसके चलते पुलिस आरोपी को पकड़ने में नाकामयाब होती रही, किंतु पुलिस अधीक्षक गौरव तिवारी के मार्गदर्शन में पुलिस द्वारा बड़ी सूझबूझ के साथ दबिश देकर इस चालक आरोपी को धर दबोचा गया।
पूरी कारवाही
पुलिस अधीक्षक गौरव तिवारी के निर्देशन में उपनिरिक्षक बृजेश मिश्रा उपनिरीक्षक दीपक यादव पी एस आई ज्योति दुबे ,पी एस आई प्रिंसी साहू तथा संयुक्त टीम द्वारा छापा मार कारवाही की गई।

पुलिस के अनुसार इनके तार अजमेर मुम्बई दिल्ली से जुड़े हैं पुलिस ने बताया कि लवकुश अग्रवाल के घर के चारो तरफ सी सी टी वी कैमरे लगे होने के चलते कायर्वाही के पहले ही खबर लग जाती थी जिससे आज तक वो रंगे हाथ नही पकड़ाया इस कारण मेहमान बनकर दबिश दी गई और पीछे से पुलिस अंदर चली गई और आरोपी रंगे हाथ पकडे गये।पुलिस अधीक्षक गौरव तिवारी ने बताया कि इसके तार छत्तीसगढ़ से भी जुड़े हुए है।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *