चलते-चलते दो टुकड़ों में बंट गई ट्रेन

लखनऊ. चारबाग स्टेशन से रवाना होकर लखनऊ मेल जैसे ही आलमबाग फाटक पहुंची, ट्रेन दो हिस्सों में बंट गई। कप्लर खुल जाने की वजह से इंजन बोगियों को पीछे छोड़कर रवाना हो गया। मामला देर रात का है। लखनऊ से दिल्ली जाने वाली ट्रेन संख्या 12229 लखनऊ मेल चारबाग रेलवे स्टेशन से रात 10.15 बजे रवाना हुई। ट्रेन कुछ दूरी तय करने के बाद रात 10.36 बजे आलमबाग गेट के पास पहुंची। यहां इंजन बोगियों से कट गया। सूचना पर रेलवे अधिकारियों ने दोबारा इंजन को बोगियों से जोड़कर करीब 21 मिनट ट्रेन को रवाना कर दिया।
बोगियों के इंजन से अलग हो जाने से ट्रेन की रफ्तार कम होती रही और धीरे-धीरे बोगियों के पहिए थम गए। जानकारी होते ही यात्रियों ने हंगामा शुरू कर दिया। यात्रियों का आरोप था कि रेलवे की लापरवाही से बोगियां पटरी से उतर सकती थीं, जिससे बड़ा हादसा हो सकता था। जब इंजन बोगियों से अलग हुआ ट्रेन की रफ्तार 15 से 20 किलोमीटर प्रति घंटा थी।
एक किमी आगे निकल गया था इंजन
मिली जानकारी के मुताबिक, लोको पायलट इंजन को लेकर एक किलोमीटर दूर पहुंच गया था। डीआरएएम कार्यालय से फोन जाने के बाद ही पायलट इंजन को रिवर्स कर बोगियों तक लाया। रेलवे अधिकारियों ने बताया कि यह डिकप्लिंग की वजह से हुआ है और सही समय पर सूचना मिलने से स्थिति को कंट्रोल कर लिया गया।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *