तस्करी के तार

*छिन्दवाड़ा ब्रेकिंग*
छिन्दवाड़ा //एस पी गौरव तिवारी के निर्देशन में कल रात पुलिस के अधिकारियों एवं वन विभाग की टीम ने गुरैया स्थित एक घर मे मुखबीर की सुचना पर दबिश दी ,
जहाँ से बाघ की खाल बरामद की गई।
इस मामले में 4 आरोपियों को हिरासत में लिया गया एवं 1 आरोपी फरार है।
पुलिस फरार आरोपी की तलाश में है।
जिसका आज छिन्दवाड़ा एस पी गौरव तिवारी सी सी एफ ,एवं डी एफ ओ रविन्द्र त्रिपाठी ने पत्रकार वार्ता कर किया खुलासा।

J
चूंकि छिंदवाड़ा के पास पेंच एवं सतपुड़ा राष्ट्रीय उद्यानों की सीमाएं हैं अतः मामले की गंभीरता को देखते हुए पुलिस अधीक्षक गौरव तिवारी द्वारा नगर पुलिस अधीक्षक छिंदवाड़ा CS P बघेल एवं वन विभाग की टीम के नेतृत्व में एक टीम गठित की गई वह वन्य अधिनियम का मामला होने से सूचना वन विभाग को दी गई टीम द्वारा लगातार संदिग्धों की धरपकड़ के लिए सूचना संकलन की गई ।मुखबीर द्वारा जो सूचना मिली थी कि दो व्यक्ति एक मोटरसाइकिल बाइक Activa से संदीप उर्फ मोनू अहिरवार की रानीकामथ मूल निवास पर आकर योजना बनाकर उसके पास रखी टाइगर की खाल लेकर बाजार में किसी को बेचने के लिए जाने वाले हैं सूचना पर तत्काल मौके पर पुलिस बल रवाना किया गया और आरोपी के घर आने जाने वाले रास्तों को उसके घर के आस-पास छुपकर पुलिस बल तैनात किया गया लगातार आरोपियों के घर पर नजर रखी गई करीब 8 से 10 घंटे बाद जब मोनू के घर पर कुछ संदेही मोटर साइकिल से पहुंचे तब उनकी तस्दीक सूचना संकलन से करा कर मौके पर मौजूद स्टाफ की मदद से घेराबंदी कर संदीप उर्फ मोनू मोनू अहिरवार के मकान पर दबिश दी गई ।जो चार लोग टाइगर की खाल रखकर शहर में बेचने की योजना बनाते पकड़े गये जिनके पास से टाइगर की खाल हथियार वाहन जप्त किए जा कर उनकी गिरफ्तारी की गई मामले में गिरफ्तार आरोपियों द्वारा घटना में एक अन्य आरोपी को शामिल होना बताया जा रहा है जिसकी तलाश की जा रही है साथ ही मामले में आरोपियों से गहन पूछताछ की जा रही है।

पुलिस खाल तक तो पहुँच गई है,पर अभी भी मामले की गुत्थी नहीं सुलझी है।अब देखना यह है कि जब इस मामले में बाल की खाल निकाली जाएगी तो कौन कौन से अंतराष्ट्रीय तस्करो के चेहरे सामने आएंगे

 

One Comment

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *