असमंजस, रेणु जोगी किस पार्टी से लडेंगी चुनाव

न्‍यूज 4 इंडिया।रायपुर. छत्तीसगढ़ की राजनीति में इस समय सबसे अधिक संशय अगर है तो वह रेणु जाेगी के भविष्य पर। उनको चुनाव लड़ाना है या नहीं यह ना तो कांग्रेस तय कर पाई है और न ही जोगी कांग्रेस में तय है कि रेणु को अवसर देना है। दरअसल रेणु के कदम को लेकर जोगी परिवार में ही एकमत नहीं दिख रहा है और न ही कांग्रेस में स्पष्ट कोई राय सामने आई है।

दोनों पार्टियों के खींचतान में फंसीं रेणु

  1. दैनिक भास्कर ने इस मामले की पड़ताल की तो मजेदार तथ्य सामने आया कि रेणु को लेकर जोगी परिवार व कांग्रेस में दो राय है। अजीत जोगी ने अपनी पार्टी का बसपा से गठबंधन करवा लिया। कांग्रेस की दूर की कौड़ी को भांपते हुए उन्होंने पहले दांव खेलकर कांग्रेस की रणनीति को पलट दिया।
  2. दूसरी ओर कांग्रेस ने भी अजीत जाेगी को बाहर जाने और उनके बेटे विधायक को पार्टी से निष्कासित करने में कोई संकोच नहीं किया। पर रेणु जोगी के मामले में यहां भी कोई स्पष्ट फैसला नहीं आ पाया। विधायक दल के उपनेता के पद से हटाकर एक संदेश जरूर दिया गया था, लेकिन बाद में टिकट वितरण के लिए बनाए गए पैनल में उनका नाम कोटा विधानसभा से पहले स्थान पर है।
  3. इसलिए टिकट देना नहीं चाहते कांग्रेस के स्थानीय नेता

    पार्टी सूत्रों का कहना है कि रेणु जोगी को कांग्रेस टिकट नहीं देना चाह रही है। एेसा इसलिए क्योंकि जोगी परिवार आैर कांग्रेस के बीच रेणु एक कड़ी का काम कर रही हैं। यदि वे कांग्रेस में रहती हैं तो कहीं न कहीं पार्टी आैर जोगी परिवार का कनेक्शन बना रहेगा।

  4. स्क्रीनिंग कमेटी तय करेगी

    प्रदेश की सभी 90 सीटों के दावेदारों की सूची स्क्रीनिंग कमेटी के पास भेज दी गई है। स्क्रीनिंग कमेटी के सदस्यों को ही तय करना है कि किसे टिकट देना है किसे नहीं। चूंकि वर्तमान में वे ‌विधायक हैं तो पैनल में उनका नाम है। -टीएस सिंहदेव, नेता प्रतिपक्ष

  5. हाईकमान जैसा बोलेगा वैसा करेंगे

    रेणु जोगी जी के बारे में हमने आलाकमान को स्थानीय नेताआें की मंशा से अवगत करा दिया है। स्क्रीनिंग कमेटी के पास नामों की सूची भी है। वहां से जैसा निर्णय होगा वैसा करेंगे। –डा.चरणदास महंत, प्रमुख चुनाव अभियान समिति 

  6. मैं राजनीतिक महिला नहीं हूं- रेणु जोगी

    मैं स्थानीय कार्यक्रमों में शामिल होने यहां आई हूं। अभी यहां की विधायक होने के कारण मैं जनसंपर्क कर लोगों से मुलाकात कर रही हूं। देखते हैं आगे क्या रणनीति बनती है। मैं राजनीतिक महिला हूं नहीं। मैं नौकरी में खुश थी। अब राजनीति में आ गई तो काम कर रही हूं। भविष्य में क्या होगा देखा जाएगा। मैं तो टिकट के बारे में सोच भी नहीं रही। रेणु जोगी, विधायक कोटा 

  7. यह कांग्रेस का आंतरिक मामला

    यह उनकी पार्टी का आंतरिक मामला है। वो पार्टी उन्हें टिकट देती है या नहीं मैं कुछ नहीं कहूंगा। जहां तक हमारी पार्टी की बात है तो अब टिकट के बारे में निर्णय गठबंधन के नेता ही लेंगे। -अमित जोगी, रेणु जोगी के बेटे 

Related posts

Leave a Comment