[10:10 PM, 12/7/2017] News4indai: डॉक्टर की शर्मनाक हरकत  | News 4 India

डॉक्टर की शर्मनाक हरकत 

छिन्‍दवाड़ा न्‍यूज 4 इंडिया। परिवार नियोजन शिविर में डॉक्‍टरों की एक बड़ी लापरवाही सामने आई है डॉक्‍टरों ने गर्भवती महिला की नसबंदी कर दी। पांढुर्ना विकासखंड के ग्राम बिरोली निवासी एक महिला की पांढुर्ना सीएचसी में गर्भवती होने के बावजूद नसबंदी करने का मामला सामने आया है। अब परिजन नसबंदी करने वाले चिकित्‍सक सहित नसबंदी का प्रकरण लाने वाली आंगनबाड़ी कार्यकर्ता पर जान पर खिलवाड़ करने का आरोपल लगाते हुए कार्रवाई की मांग कर रहे हैं लक्ष्‍य पर पूरा करने के चक्‍कर में चिकित्‍सक और अन्‍य मैदानी कार्यकर्ता इस हद तक चल जायेंगे, यह बात काफी चिंताजनक है। एसडीएम को सौंपी शिकायत में ग्राम बिरोली निवासी नारायण धोटे ने बताया कि 29 नवंबर को गांव की आंगनबाड़ी कार्यकर्ता ने पत्‍नी चंद्रमणी को सरकारी अस्‍पताल में लाकर जांच कराई, जिसमें एक महीने का गर्भ होना पाया गया। इस दौरान महिला चिकित्‍सक ने जबरन गर्भपात करने और नसबंदी करने का दबाव बनाया।

यहीं नहीं मना करने पर नसबंदी का लक्ष्‍य पूरा करने की बात कहते हुए जबरन नसबंदी भी करा दी। 1 फरवरी को नसबंदी करने वाली महिला चिकित्‍सक के क्‍लीनिक में ही जांच कराई तो चार महीने का गर्भ होना पाया गया। अब महिला चिकित्‍सक प्रसव के दौरान खतरा होने का डर बताते हुए गर्भपात करने की बात कह रही है और दस हजार रूपए मांग रही है इस घटनाक्रम से पूरा परिवार परेशान है।

सरकारी अस्‍पताल के चिकित्‍सकों की इस शर्मनाक हरकत से स्‍वास्‍थ्‍य व्‍यवस्‍था पर सवालिया निशान उठ रहे हैं चंद रूपयों के खातिर चि‍कित्‍सक किसीकी जान से खिलवाड़ करने से भी बाज नहीं आ रहे हैं इस संबंध में बीएमओ का कहना है कि परिवार नियोजन शिविर में किस स्‍तर पर यह लापरवाही हुइ है, इसकी जांच कराई जाएगी।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *