[10:10 PM, 12/7/2017] News4indai: मध्य प्रदेश – Page 103 – News 4 India

मध्य प्रदेश

क्या है शिवराज सिंह चौहान के दिल में 

क्या है शिवराज सिंह चौहान के दिल में 

मध्य प्रदेश
भोपाल न्‍यूज 4 इंडिया। मुख्‍यमंत्री शिवराज सिंह चौहान के 11 फरवरी को प्रसारित कार्यक्रम ‘दिल से’ में जनता को प्रदेश के विकास और नव-निर्माण में सर्वश्रेष्‍ठ योगदान के लिये अनुकरणीय व्‍यक्तित्‍व, पवित्र पर्व और योजनाओं तथा कार्यक्रमों की भावनाओं एवं उद्देश्‍य को स्‍पष्‍ट करते हुए प्रेरित किया। उन्‍होंने सरकार द्वारा गरीब, किसान, वनवासी कल्‍याण के कार्यक्रमों, स्‍वास्‍थ्‍य, शिक्षा के कार्यों, एकात्‍म यात्रा, नर्मदा जयंती, स्‍वच्‍छता सर्वेक्षण, परीक्षाएं, कैंसर दिवस, अंतर्राष्‍ट्रीय महिला दिवस, महाशिरात्रि पर्व आदि सम-सायमिक विषयों पर विचार व्‍यक्ति किये। मुख्‍यमंत्री ने प्रेरणादायी व्‍यक्तियों का जिक्र करते हुये जीवन मूल्‍यों को स्‍पष्‍ट किया। श्री चौहान ने नागरिकों से सीधा-संवाद करते हुए उनकी अपेक्षाएं और उनकी उपलब्धियों पर बातचीत की।
उपभोक्ताओं को लगेगा अब करंट 

उपभोक्ताओं को लगेगा अब करंट 

मध्य प्रदेश
भोपाल न्‍यूज 4 इंडिया। प्रदेश की बिजली कंपनियों में पदस्‍थ अफसरों व कर्मचारियों की लापरवाहियों की वजह से कंपनी का घाटा लगातार बढ़ता ही जा रहा है। जिसकी वजह से कंपनियां लगातार आर्थिक संकट से जूझ रही हैं यह हाल तब हैं जब इन कंपनियों द्वारा तरह-तरह के बहाने बिजली की दरों में मौके-बेमौके पर वृद्धि करती रहती हैं खास बात यह है कि यह कंपनियां विद्युत नियामक आयोग के मानकों पर भी खरी नहीं उतर पा रही हैं। घाटे पर काबू करने में सबसे ज्‍यादा फिसड्डी भोपाल स्थित मध्‍य क्षेत्र विद्युत वितरण कंपनी साबित हो रही हे। ऐसे में पुराने मानक को ही अगले दो हफ्ते के लिए फिक्‍स किया है इसे नए टैरिफ में शामिल किया जाएगा। तो उपभोक्‍ताओं को बड़ा झटका लगना तय है बिजली कंपनियों को छूट मिलेगी जिसका बोझ उपभोक्‍ताओं पर दर वृद्धिके रूप में पड़ेगा। पिछड़ने के कारण इन कंपनियों पर जुर्माना लगना चाहिए। पुराने मानक ही अगले द
अंडरग्राउंड हुए विधायक एसआईटी पड़ी पीछे

अंडरग्राउंड हुए विधायक एसआईटी पड़ी पीछे

मध्य प्रदेश
भोपाल न्‍यूज 4 इंडिया। राजधानी के चर्चित हनी ट्रेप मामले के पीडि़त और दुष्‍कर्म के आरोपी कांग्रेस विधायक हेमंत कटारे की तलाश में एसआईटी ने 11 फरवरी को आधा दर्जनसे ज्‍यादा ठिकानों पर दबिश दी। भोपाल स्थित भारती निकेतन, अरेरा कालोनी के जूना जिम सहित भिंड जिले में कई ठिकानों पर रेड मारी गई। इसके साथ एसआईटीके दल ने कटारे ब्‍लैकमेंलिंग मामले के फरार आरोपी विक्रमजीत के अशोका गार्डन पंजाबी बाग स्थित घर पर दबिश दी। जानकारी अनुसार एसआईटी के तीन अलग-अलग दलों ने कांग्रेस विधायक हेमंत कटारे की तलाश में एक साथ दो शहरों में दबिश दी थी भोपाल स्थित भारती निकेतन पहुंची टीम ने ड्रायवर, गनमैन से पूछताछ की और हेमंत के भाई के बयान दर्ज किए। इसके बाद अरेरा कालोनी स्थि‍त कटारे के जूना जिम पहुंची टीम ने करीब एक घंटे तक दस्‍तावेज खंगाले और कई अहम सबूत बरामद किए हैं। जिम के पार्टनर गार्ड से पूछताछ की गई। सीसीटीव
ओला प्रभावित किसानों के खेतों पर पहुंचे कलेक्टर , किसानों से कहा किंचित पर विचलित होने के नही आवश्यकता प्रशासन आपके साथ

ओला प्रभावित किसानों के खेतों पर पहुंचे कलेक्टर , किसानों से कहा किंचित पर विचलित होने के नही आवश्यकता प्रशासन आपके साथ

मध्य प्रदेश
  ओला प्रभावित किसानों के खेतों पर पहुँचे सीहोर कलेक्टर तरुण कुमार पिथोडे =लक्ष्मी नारायण अग्रवाल नसरूल्लागंज= नेता अधिकारियों ने देखी ओलों सॆ खरब फसलें कृषकों को विचलित होने की आवश्यकता नहीं, कलेक्टर के निर्देश राजस्व और कृषि अमला मैदान मे सीहोर जिले के विभिन्न क्षेत्रों मे 11फरवरी2018रविवार को ओलावृष्टि की सूचना पर तत्काल कार्यवाही करते हुए कलेक्टर श्री तरुण कुमार पिथोडे ने सभी प्रभावित क्षेत्रों मे राजस्व विभाग एवं कृषि विभाग के अमले को अपने-अपने क्षेत्र मे सर्वे के निर्देश दिये हैं।उन्होंने जिले के कृषकों से आग्रह किया है कि किंचित भी विचलित होने की आवश्यकता नहीं हर स्थिति मे शासन आपके साथ है।ओलावृष्टि से हुआ नुकसान, चिंता न करे किसान- राज्यमंत्री दर्जा प्राप्त वन विकास निगम अध्यक्ष पं गुरुप्रसाद शर्मा मौसम ने ली करवट और किसान की चिंता बढ़ गयी, नसरुल्लागंज के आसपा
आई  टी कम्पनियों  का इनकार ,सरकार को लौटाई ज़मीन 

आई  टी कम्पनियों  का इनकार ,सरकार को लौटाई ज़मीन 

मध्य प्रदेश
भोपाल न्‍यूज 4 इंडिया। प्रदेश के आईटी पार्कोंमें जरूरी सुविधाएं नहीं होने के कारण 20 कंपनियों ने इंडस्‍ट्री लगाने से हाथ खींच लिया। उन्‍होंने सरकार को जमीन लौटा दी। सूचना एवं प्रौद्योगिकी विभाग इन पार्कों में प्‍लाट विकसित किए बिना ही कंपनियों पर इंडस्‍ट्री लगाने का दबाव बना रहा था साथ ही विकास शुल्‍क लेने के लिए उन्‍हें नोटिस भी जारी कर दिए थे। आईटी पार्क बिल्डिंग मे स्‍पेस बुकिंग में भोपाल की स्थिति खराब है। इसकी अपेक्षा ग्‍वालियर और जबलपुर ठीक है। भोपाल, इंदौर और जबलपुर के आईटी पार्क के ज्‍यादातर प्‍लाटों पर गड्ढे हैं इन्‍हें पाटने में ही कंपनियों को भारी खर्च करना पड़ता। दोबारा ठेका देने की तैयारी आईटी कंपनियां एक के बाद एक अपना करार वापस लेने लगी, तो आईटी डिपार्टमेंट ने इस पर गंभीरता से विचार किया। इसके बाद हाउसिंग बोर्ड को पार्क विकसित करने और तमाम अत्‍याधुनिक सुविधाएं उ
आखिरकार रिलीज़ हो  ही गई  

आखिरकार रिलीज़ हो  ही गई  

मध्य प्रदेश
भोपाल न्‍यूज 4 इंडिया। राजधानी के कुछ सिनेमाघरों में 10 फरवरी को कड़ी सुरक्षा के बीच फिल्‍म पद्मावत दिखाई गई। फिल्‍म की स्‍क्रीनिंग 2 मल्‍टीप्‍लेक्‍स और 4 टॉकीजों में हुई। भोपाल सिने एसोसिएशन के सचिव अजीजउद्दीन ने बताया कि 11 फरवरी से अन्‍य टॉकीजों में भी फिल्‍म का प्रदर्शन होगा। उधर, करणी सेना के जिलाध्‍यक्ष धर्मेंद्र सिंह चौहान ने कहा सरकार और सिनेमाघर संचालकों ने हमें सहयोग का वादा किया था, लेकिन अब चुपके से फिल्‍म दिखा रहे हैं। हम इसे बर्दाश्‍त नहीं करेंगे। संस्‍कृति से खिलवाड़ करने वालों की मनमर्जी नहीं चल पाएगी। फिल्‍म एसोसिएशन इंदौर के अध्‍यक्ष ओपी गोयल ने बताया कि शहर में 11 मल्‍टीप्‍लेक्‍स और अनूप टॉकिज में फिल्‍म 11 फरवरी को लगेगी। सतना में भी प्रदर्शन होगा। इसकी पुष्टि आई म्‍यूजिका प्रबंधन ने की है।
विभाग का फरमान 

विभाग का फरमान 

मध्य प्रदेश
भोपाल न्‍यूज 4 इंडिया। प्रदेश में सरकारी स्‍कूलों के शिक्षक अब यूनिफार्म में दिखाई देंगे। महिला शिक्षक महरून और पुरूष शिक्षक नेवी ब्‍ल्‍यू रंग की जैकेट पहनकर स्‍कूल में आएंगे। यूनिफार्म पर शिक्षक का नाम और राष्‍ट्र निर्माता की पट्टिका भी होगी।यह ड्रेसकोड मप्र पंचायत अध्‍यापक संवर्ग नियम 2008 के तहत लागू किया है। आदेश अप्रैल में नए सत्र से प्रभावी होंगे। स्‍कूल शिक्षा विभाग की ओर से जारी आदेश में कहा गया है कि यूनिफार्म की एकरूपता से न केवल व्‍यक्ति का अपनी सेवाओं से जुड़ावा होता है, बल्कि वैयक्तिक अंतर भी समाप्‍त होता है। गुणवत्‍ता सुधारते मप्र शिक्षक कांग्रेस के महामंत्री आशुतोष पांडे ने कहा, शिक्षा में गुणवत्‍ता बढ़ाने की बजाय सरकार शिक्षकों की यूनिफार्म का रंग तय करने में लगी है। राज्‍य अध्‍यापक संघ के प्रांताध्‍यक्ष जगदीश यादव ने कहा, इस तरह के अनुचित आदेश से कुछ नहीं होता।
एस आई टी को मिले विधायक के खिलाफ सबूत

एस आई टी को मिले विधायक के खिलाफ सबूत

मध्य प्रदेश
भोपाल न्‍यूज 4 इंडिया। छात्रा से दुष्‍कर्म और उसकी मां के अपहरण के मामले में विशेष जांच दल को विधायक हेमंत कटारे के खिलाफ सबूत मिल गये हैं। मेडिकल रिपोर्ट में छात्रा के साथ दुष्‍कर्म की पुष्टि हुई है, वहीं गवाहों के बयान में पीडि़ता की मां के अपहरण की पुष्टि हुई है। इस मामले में विधायक कटारे की गिरफ्तारी जल्‍द हो सकती है। गिरफ्तारी से पहले एसआईटी विधायक कटारे और पीडि़ता के मोबाइल कॉल रिकार्ड की रिपोर्ट को और देखना चाहती है। ताकि उसकी भूमिका पर सवाल खड़ा नहीं हो सके। वह इन कॉल रिकार्ड और मोबाइल लोकेशन के जरिए यह देखेगी कि पीडि़ता और उसकी मां जिस तारीख का दुष्‍कर्म और अपहरण की घटना बता रही है, तब विधायक घटना स्‍थल पर मौजूद थे या नहीं। मां के अपहरण के मामले में गवाहों के बयान में पहले ही इसकी पुष्टि हो चुकी है। सिंधिया को लिखा पत्र पीडि़त छात्रा ने पूर्व केंद्रीय मंत्री ज्‍योतिरादित
पकौड़े बेचकर भी बना जा सकता है बड़ा आदमी

पकौड़े बेचकर भी बना जा सकता है बड़ा आदमी

मध्य प्रदेश
  छिंदवाड़ा न्‍यूज 4 इंडिया। ‘पकौड़े’ चल रही सियासी बयानबाजी के बीच राज्‍यपाल आनंदीबेन पटेल ने 10 फरवरी को कहा कि इस छोटे से काम से कोई भी व्‍यक्ति बड़ा बन सकता है। पकौड़ा बनाना भी कौशल विकास का एक हुनर है। पहले दो साल में भले ही कम सफलता मिले, लेकिन तीसरे साल वह रेस्‍टारेंट और आगे चलकर होटल का मालिक भी बन सकता है। राज्‍यपाल ने यह बात 10 फरवरी को छिंदवाड़ा से 100 किमी दूर हर्रई तहसील में आयोजित गोंड महासभा के तीन दिवसीय राष्‍ट्रीय अधिवेशन के शुभारंभ अवसर पर कही। आनंदीबेन ने कहा कि सभी को सरकारी नौकरी नहीं मिल सकती।बेरोजगारों को कौशल विकास के प्रति प्रोत्‍साहन दिया जाना चाहिए। कोई काम छोटा नहीं होता। छोटे-छोटे काम करके ही देश के अनेक उद्योगपति विदेशों तक पहुंच गए हैं। अंबानी या अदानी इसका उदाहरण हैं। पकौड़ा पॉलिटिक्‍स पर केंद्रीय सामाजिक न्‍याय मंत्री थावरचंद गहलोत ने कहा
इसे कहते है पहल ,कोई पूछे न इसलिए एस डी एम ने करवाई नसबंदी

इसे कहते है पहल ,कोई पूछे न इसलिए एस डी एम ने करवाई नसबंदी

मध्य प्रदेश
मुलताई न्‍यूज 4 इंडिया। कर्मचारियों को नसबंदी कराने की समझाइश देने तथा नसबंदी का लक्ष्‍य देने से पहले हमेशा लगता था कि किसी कर्मचारी ने यदि पूछ लिया कि सर आपने नसबंदी कराई की नहीं तो उन्‍हें क्‍या जवाब देंगे। इसलिए मेरा भी नसबंदी कराना आवश्‍यक था ताकि अब कर्मचारियों को निर्देश देते समय कोई झिझक नहीं होगी। यह कहना है एसडीएम राजेश शाह(45) का जिन्‍होंने 10 फरवरी को सरकारी अस्‍पताल में नसबंदी कराते हुए अन्‍य कर्मचारियों को भी नसबंदी कराने का कहा। एसडीएम शाह ने बताया कि 26 जनवरी को सभी कर्मचारियों को नसबंदी के आदेश दिए गए थे अभी तक कुल दिए लक्ष्‍य 1090 में से 645 नसबंदी हो पाई हैं। मुलताई एसडीएम राजेश शाह द्वारा 25 जनवरी को बैठक लेकर सभी शासकीय कर्मचारियों को नसबंदी कराने के निर्देश दिए गए थे इसी दौरान लोगों द्वारा भी सवाल उठाए जाते थे कि पहले यह बताओं कि एसडीएम साहब ने नसबंदी करवाई की न