Author: NEWS INDIA

आपके बारे में क्या कहती है आपके हाथ की सूर्य रेखा

आपके बारे में क्या कहती है आपके हाथ की सूर्य रेखा

ज्योतिष
व्यक्ति के हाथ में अनेकों रेखाएं होती हैं, ये रेखाएं व्यक्ति के व्यक्तित्व के अलग-अलग तथ्यों को दर्शाती हैं। कोई रेखा व्यक्ति की लंबी उम्र को इंगित करती है तो कोई रेखा उसके भाग्य के बारे में जानकारी देती है। व्यक्ति के हाथ में स्थित सूर्य रेखा उसके जीवन के किस पहलू को दर्शाती है आइए आपको बताते हैं इसके बारे में..... जिस व्यक्ति के हाथ में सूर्य रेखा मणिबंध या उसके समीप से आरंभ होकर भाग्य रेखा के निकट समानान्तर अपने स्थान पर होती है वह व्यक्ति जिस काम में हाथ डालता है उसमें उसे सफलता मिलती है। ऐसा व्यक्ति प्रतिभा एवं भाग्य का मेल होने से हमेशा समृद्ध होता है। जिस व्यक्ति के हाथ की सूर्य रेखा चन्द्रक्षेत्र से आरंभ होती है तो ऐसे व्यक्ति का भाग्य चमकता तो है पर ये दूसरों की इच्छा पर निर्भर करता है। जिस व्यक्ति के हाथ की सूर्यरेखा चन्द्रक्षेत्र से आरंभ होकर अनामिका उंगली तक पहुंचती है
देश और दुनिया के इतिहास में 1 अगस्त की महत्वपूर्ण घटनाएं

देश और दुनिया के इतिहास में 1 अगस्त की महत्वपूर्ण घटनाएं

सामान्य ज्ञान
देश और दुनिया के इतिहास में 1 अगस्त कई कारणों से महत्वपूर्ण है, जिनमें से ये सभी प्रमुख हैं ... 1831: नए लंदन ब्रिज को यातायात के लिए खोल दिया गया। 1883: ग्रेट ब्रिटेन में अंतर्देशीय डाक सेवा शुरू की गयी। 1920: महात्मा गांधी ने असहयोग आंदोलन की शुरुआत की। यह भी पढ़े: ऑपरेशन हुर्रियत, NIA को मिला आतंक का कैलेंडर 1953: क्यूबा के पूर्व राष्ट्रपति फिदेल कास्त्रो को गिरफतार किया गया। 1957: नेशनल बुक ट्रस्ट की स्थापना हुई। 1960: पाकिस्तान की राजधानी कराची से बदलकर इस्लामाबाद कर दिया गया। 1999: बंगाली तथा अंग्रेजी लेखक निरद.सी. चौधरी का ब्रिटेन में निधन हो गया।
एस. पी. की पत्नी ने किसे लिया गोद

एस. पी. की पत्नी ने किसे लिया गोद

मध्य प्रदेश
भोपाल। खंडवा पुलिस अधीक्षक नवनीत भसीन की पत्नी शुभांगी भसीन ने जिले के खालवा ब्लॉक के कुपोषण प्रभावित आदिवासी बाहुल्य गांव सांवलीखेड़ा को गोद लिया है। बच्चों में कुपोषण दूर करने के लिए यह दंपति हर हफ्ते ग्रामीणों के बीच पहुुुंचकर लोगों को कुपोषण मिटाने की समझाइश देते हैं। साथ ही चिकित्सक एवं अन्य स्वयं सेवी संस्थाओं की मौजूदगी में बच्चों को फल, खिलौने एवं पाठ्य सामग्री आदि का वितरण करते हैं। हाल ही में सांवलीखेड़ा में ग्रामीणों के बीच शुभांगी भसीन ने आदिवासी महिलाओं को बच्चों की साफ-सफाई रखने और स्वस्थ रखने की जानकारी दी। इस दंपति का कहना है कि वे दो महीने के भीतर गांव के माथे से कुपोषण का दंश मिटा देंगे। उनके अनुसार कुपोषण देश की तरक्की में कैंसर की तरह है।
पुलिस अधिक्षक ने किससे कही अपने मन की बात ?

पुलिस अधिक्षक ने किससे कही अपने मन की बात ?

मध्य प्रदेश
सिवनी//पुलिस अधीक्षक तरूण नायक ने आज अपने मन की बात किसानों से कही उन्होंने किसान संघ के सदस्य किसानों से चर्चा करते हुए शांति व कानून व्यवस्था में सहयोग देने की अपेक्षा व्यक्त की। एसपी नायक ने कहा कि किसान इस देश का अन्नदाता है और अक्सर आपसी विवाद के कारण वह अपने मूल कार्य कृषि से दूर हो जाता है, जिसके कारण उसके परिवार को परेशानी का सामना करना पड़ता है। ऐसे में अगर कोई व्यक्ति मध्यस्तता करते हुए आपसी विवादों को निपटाने में सहयोग करता है तो किसान पुन: अपने कार्य में लग सकता है और उसे कृषि कार्य से इतनी आय तो हो ही सकती है। जिसमें वह अपने परिवार का भरण पोषण कर सके। श्री नायक ने कहा कि पहले बच्चे के गलती करने पर बड़े उनके कान खिंचते थे और बुजुर्ग दादा-दादी की डांट पड़ती थी। लेकिन अब वह दौर नही रहा अगर बच्चों में बड़ों के प्रति भय बना रहे तो निश्चित ही बच्चे अपने मार्ग से नही भटक सकते। अ
क्यों दी महिला ने आत्मदाह की चेतावनी

क्यों दी महिला ने आत्मदाह की चेतावनी

छिंदवाड़ा अप्डेट्स
• छिंदवाड़ा/ 22 सालों से वेकोलिबसे मिलने वाली मॉनिटरिंग कंपनसेशन के लिए भटक रही, एक दिवंगत वेकोलि कर्मी की पत्नी ने महाप्रबंधक कार्यालय के सामने आत्मदाह की चेतावनी दी है इस संबंध में महिला ने कलेक्टर को पत्र लिखकर सूचना प्रेषित की है । वेकोलि कामगार स्वर्गीय शिवराम की पत्नी पार्वती ने आरोप लगाया है कि उसके पति की मृत्यु को 22 साल हो गए हैं पति की मृत्यु के बाद उसने पुत्र को नौकरी दिलाने के लिए आवेदन दिया था पर वह मेडिकल अनफिट हो गया जिसके बाद वेकोलि के नियम अनुसार महिला को मॉनिटरिंग कंपनसेशन देना था जो अब तक नहीं दिया गया है इस मामले में उच्च न्यायालय ने भी महिला के पक्ष में आदेश दिया है फिर भी महा प्रबंधक ने अब तक महिला के खाते में राशि नहीं डलवाई है बसों में मॉनिटरिंग कंपनसेशन के लिए भटक रही महिला ने 21 अगस्त को महाप्रबंधक कार्यालय के सामने डूंगरिया में आत्मदाह करने की चेतावनी दी है।
पांचवा  आरोपी भी हुआ गिरफ्तार

पांचवा आरोपी भी हुआ गिरफ्तार

छिंदवाड़ा अप्डेट्स
• *बाघ खाल मामले का पांचवा आरोपी गिरफ्तार* छिंदवाडा गत सप्ताह रानी कामथ में पकड़ाई बाघ की खाल के मामले में फरार आरोपी को पुलिस और फॉरेस्ट की टीम ने गिरफ्तार कर लिया है। चार आरोपियों से पूछताछ के दौरान पांचवें आरोपी का नाम सामने आया ,तभी से आरोपी फरार चल रहा था। जिसे मुखबिर की सूचना पर पुलिस की टीम ने गिरफ्तार कर लिया ।मुख्य आरोपी की गिरफ्तारी के बाद बाघ का शिकार कहां किया गया, इसकी जानकारी पुलिस और फॉरेस्ट को हासिल हो सकेगी । इस संबंध में डीएफओ, दक्षिण मंडल ,रविंद्र मणि त्रिपाठी का कहना है कि पुलिस और फॉरेस्ट की टीम ने लोधी खेड़ा से फरार आरोपी को गिरफ्तार कर लिया है आरोपी से पूछताछ में इस मामले में अन्य संदिग्धों की धरपकड़ शुरू की जाएगी ।आरोपी की तलाश में लगातार छापामार कार्रवाई की जा रही है ,अगर सूत्रों की माने तो मुख्य आरोपी की लिंक नागपुर के तस्करों से जुडी होने की संभावना है क्यो
व्हाट्सएप्प को सपॉर्ट नहीं करेगा आपका फोन

व्हाट्सएप्प को सपॉर्ट नहीं करेगा आपका फोन

मनोरंजन
मुंबई। रिलायंस जियो के जिस जियो फोन का बेसब्री से इंतजार कर रहे हैं, उसके बारे में एक खास बात जान लें। रिलायंस इंडस्ट्रीज लिमिटेड के चेयरमैन मुकेश अंबानी ने 21 जुलाई को इस फीचर फोन लाॅन्चिंग की घोषणा कर दी थी लेकिन अब पता चला है कि ये जियो फोन व्हाट्स ऐप को सपोर्ट नहीं करेगा। कंपनी के मुताबिक ग्राहकों को यह फोन एक तरह से मुफ्त में मिलेगा। जियो फोन 1,500 रुपए देने होंगे, जो 3 साल बाद वापस मिल जाएंगे। यह फीचर फोन जियो एप्स जैसे जियो चैट, जियो टीवी, जियो सिनेमा और कई पाॅपुलर थर्ड पार्टी एप्स जैसे फेसबुक और यूट्यूब के साथ आएगा। डिफाॅल्ट एप्स में पीएम नरेंद्र मोदी का नमो एप भी होगा। लेकिन सबसे पाॅपुलर एप व्हाट्स ऐप इसमें शामिल नहीं होगा। चूंकि जियो फोन KAI OS पर रन होगा जो कि FireFox OS का Forked OS वर्जन है। अभी तो यह व्हाट्स ऐप को सपोर्ट नहीं करेगा। हालांकि कुछ सूत्रों के मुताबिक, हम
आखिर ऐसा क्या हुआ कि कप्तान मिताली राज कैमरा देख शरमा गई

आखिर ऐसा क्या हुआ कि कप्तान मिताली राज कैमरा देख शरमा गई

उत्तर प्रदेश
नई दिल्ली। आईसीसी महिला विश्वकप में कप्तान मिताली राज के नेतृत्व में टीम इंडिया ने शानदार प्रदर्शन किया और अब रविवार को टीम इंग्लैंड के खिलाफ फाइनल में उतरेगी। हाल ही में आईसीसी ने अपने ट्विटर हैंडल पर एक वीडियो शेयर किया है जो कि आस्ट्रेलिया के खिलाफ हो रहे मैच के दौरान का है। इस वीडियो में मिताली राज और वेदा कृष्णमूर्ति डांस करती नजर आ रही हैं। आईसीसी ने इस वीडियो को शेयर करते हुए लिखा है कि मिताली और वेदा इस विश्वकप में अपनी बल्लेबाजी से ही स्टार नहीं, अपना डांस भी दिखाया है। यह वीडियो तब का है जब हरमनप्रीत कौर और दीप्ती शर्मा आस्ट्रेलियाई गेंदबाजों का करारा जवाब दे रही थी। पवेलियन में बैठे मिताली और वेदा एक्साइटेड थीं और बैठे-बैठे डांस कर रही थी। अचानक मिताली की नजर कैमरे पर पड़ी तो वह हंसते हुए शरमा गईं।
इतनी बड़ी मकड़ी से डरा परिवार अपने ही घर में बन गया कैदी

इतनी बड़ी मकड़ी से डरा परिवार अपने ही घर में बन गया कैदी

दुनियामे हलचल
लंदन। क्या किसी मकड़ी को देखकर पूरा परिवार घर में कैद हो सकता है? शायद आपका जवाब न होगा, क्योंकि उसे तो आप झाडू से घर के बाहर कर सकते हैं। मगर, क्वींसलैंड के माउंट कूलम में रहने वाली लॉरेन आंसेल के घर में इतनी विशाल मकड़ी निकली कि पूरा परिवार ही उसे देखकर दहशत में आ गया। घर से सभी सदस्यों ने खिड़की-दरवाजे बंद कर खुद को घर में कैद कर लिया। लॉरेन आंसेल ने फेसबुक पर इस मकड़ी की तस्वीर शेयर की है, जो उनकी डिनर प्लेट से भी बड़ी थी। उन्होंने हैरी पॉटर सीरीज की विशालकाय मकड़ी के नाम पर इसका नाम 'ऐरगॉग' रखा है। आंसेल बताती हैं कि जब अपने पार्टनर के साथ डिनर पका रही थीं, तभी उनकी नजर ग्लास डोर पर गई। वहां एक बड़ी सी मकड़ी थी। आंसेल ने फेसबुक पोस्ट में आगे लिखा कि उन्होंने मकड़ी को वहां से हटाने के लिए कई कोशिशें कीं, लेकिन वह तो टस से मस नहीं हो रही थी। उन्होंने अपनी पालतू बिल्ली से भी मकड़ी को
बिहार के सासाराम रेलवे स्टेशन पर हर शाम 7:00 से 9:00 क्या होता है

बिहार के सासाराम रेलवे स्टेशन पर हर शाम 7:00 से 9:00 क्या होता है

राष्ट्रीय खबर
15साल से चली आ रही है रेलवे स्टेशन पर ग्रुप डिस्कशन की परंपरा 15 सौ छात्रों को मिल चुकी है अब तक नौकरी यह बिहार का सासाराम रेलवे स्टेशन है जहां के प्लेटफार्म नंबर दो पर सरकारी नौकरी की तैयारी में लगे करीब 35 से 40 छात्र रोजाना ग्रुप डिस्कशन करते हैं 15 साल से ऐसे ही परंपरा चली आ रही है जो कि वर्ष 2002 से शुरु हुई थी उस समय सासाराम में बिजली की अनियमितता थी तब 4 छात्रों ने रेलवे स्टेशन पर आ कर पढ़ना शुरू कर दिया इन्हें देखकर दूसरे छात्र भी आने लगे और धीरे-धीरे यह परंपरा बन गई गोवा में बैंक की नौकरी कर रहे विकास कुमार भी यहीं आकर चर्चा किया करते थे उनका कहना है कि यह डिस्कशन करने वाले रोहतास जिले के अब तक करीब 15 सौ छात्रों को नौकरी मिल चुकी है। वाह भाई क्या बात है मानना पड़ेगा जिन्हें आगे बढ़ना हो वह किसी ना किसी तरह बड़ ही जाते हैं।