[10:10 PM, 12/7/2017] News4indai: मुख्य समाचार | News 4 India - Part 2

मुख्य समाचार

दाती  मांग रहे मोहलत

दाती  मांग रहे मोहलत

मुख्य समाचार, राष्ट्रीय खबर
नई दिल्‍ली न्‍यूज 4 इंडिया। दुष्‍कर्म का संगीन इल्‍जाम लगने के बाद अब दाती महाराज पुलिस से बचते दिख रहे हैं 18 जून को उन्‍हें पूछताछ के लिए क्राइम ब्रांच चाणक्‍यपुरी स्थित आफिस पहुंचना था, लेकिन वे पेश नहीं हुए। उनके वकील जरूर पुलिस के पास पहुंचे जिन्‍होंने जांच में शामिल होने के लिए एक सप्‍ताह की मोहलत मांगी।इसे पुलिस ने नहीं माना और आरोपी के नाम पर दूसरा वारंट जारी कर उन्‍हें पूछताछ में शामिल होने के लिए 20 जून को बुलाया गया है। इस सब‍के बीच क्राइम ब्रांच के एक अधिकारी ने कहा कि अगर अबकी बार भी आरोपी जांच में शामिल नहीं होते हैं तो फिर उस स्थिति में इनके खिलाफ गैर जमानती वारंट भी जारी किया जा सकता है। दाती महाराज मामले में अग्रिम जमानत की कोशिश में पुलिस से बचते फिर रहे हैं उन्‍हें डर है कि कहीं जांच में शामिल होने पर उनका अंजाम भी आसाराम की तरह ना हो जाए। ऐसे में वह कानूनी सलाह ल
किसी के घर में घुसकर हड़ताल नहीं कर सकते

किसी के घर में घुसकर हड़ताल नहीं कर सकते

मुख्य समाचार, राष्ट्रीय खबर
नई दिल्‍ली न्‍यूज 4 इंडिया। दिल्‍ली के उपराज्‍यपाल के दफ्तर में आठ दिन से जारी सीएम अरविंद केजरीवाल के धरने पर दिल्‍ली हाईकोर्ट ने 18 जून को कई सवाल उठाए। कोर्ट ने कहा कि किसी के घर-दफ्तर में घुसकर कोई भी हड़ताल या धरना नहीं दे सकता। इसकी इजाजत किसने दी। इस पर दिल्‍ली सरकार के वकील ने कहा कि प्रदर्शन का फैसला केजरीवाल और कैबिनेट सहयोगियों ने निजी हैसियत में लिया है संविधान ने उन्‍हें इसका अधिकार दिया है कोर्ट ने 18 जून को कोई अंतरिम आदेश जारी नहीं किया है अगली सुनवाई 22 जून को होगी। जस्टिस एके चावला और नवीन चावला की बेंच ने 18 जून को दो याचिकाओं पर सुनवाई की। एक एलजी के दफ्तर में धरने के विरोध में है जबकि दसूरी आईएएस अधिकारियों की कथित हड़ताल के खिलाफ। कोर्ट ने दिल्‍ली सरकार के व‍कील से कहा हम समझ नहीं पा रहे हैं कि यह धरना है या हड़ताल। इसकेलिए मुख्‍यमंत्री को अनुमति किसने दी। यह उ
एसआईटी का दावा वाघमारे ने की थी हत्‍या

एसआईटी का दावा वाघमारे ने की थी हत्‍या

मुख्य समाचार, राष्ट्रीय खबर
बेंगलुरू न्‍यूज 4 इंडिया। पत्रकार गौरी लंकेश हत्‍याकांड में गिरफ्तार छठे संदिग्‍ध परशुराम वाघमारे ने ही हत्‍या की थी। हत्‍याकांड की जांच कर रही एसआईटीने 15 जून को दावा किया कि वाघमारे ने ही गौरी लंकेश को गोली मारी थी एसआईटी के एक वरिष्‍ठ अधिकारी ने बताया कि वाघमारे दक्षिणपंथी गुटों के लोगोंको शामिल कर बनाए गए एक गिरोह से जुड़ा है बिना नाम के इस गिरोह में 60 सदस्‍य हैं, जो कम से कम पांच राज्‍यों में फैले हैं अधिकारी ने कहा- मप्र, गुजरात, महाराष्‍ट्र, गोवा और कर्नाटक में इस गिरोह का नेटवर्क है अभी तक उत्‍तरप्रदेश से उनके संपर्क का पता नहीं चला है। अधिकारी ने कहा कि इस गिरोह ने महाराष्‍ट्र की हिंदू जागृति समिति और सनातन संस्‍था जैसे कट्टरपंथी हिंदुत्‍ववादी संगठनों से लोग भर्ती किए थे लेकिन जरूरी नहीं कि यह संस्‍थाएं सीधे तौर पर हत्‍या में शामिल रही हों। अधिकारी ने बताया कि सुजीत कुमार
देश छोड़कर भाग सकता है

देश छोड़कर भाग सकता है

मुख्य समाचार, राष्ट्रीय खबर
नई दिल्‍ली न्‍यूज 4 इंडिया। दुष्‍कर्म मामले में घिरे शनिधाम के संस्‍थापक दाती मदन के दिल्‍ली में असोला स्थित मंदिर में 15 जून को भी क्राइम ब्रांच का सर्च अभियान जारी रहा। इस बीच, दिल्‍ली पुलिस ने देश छोड़कर भागने की आशंका जताते हुए दाती के खिलाफ लुकआउट नोटिस जारी किया है पुलिस का मानना है कि दाती गुमराह करने के लिए पूछताछ के लिए हर समय उपलब्‍ध होने जैसे बयान दे रहा है। उधर दाती 15 जून को भी पाली के आलावास स्थित बालग्राम में ही रहे। उन्‍होंने दोहरया कि उन पर लगाए गए आरोप झूठे हैं और पुलिस जब उन्‍हें पूछताछ के लिए बुलाएगी, वे हाजिर हो जाएंगे। पुलिस अधिकारियों के अनुसार पीडि़ता ने बताया कि उसके साथ दिल्‍ली और पाली के आश्रम में चार बार दुष्‍कर्म किया गया। वह दो साल तक सदमें में थी, इस कारण पुलिस में शिकायत नहीं दी। डॉक्‍टरों का भी कहना है कि पीडि़ता अभी भी डिप्रेशन में है संयुक्‍त पुलिस आय
आईएसआई ने करवाई हत्‍या

आईएसआई ने करवाई हत्‍या

मुख्य समाचार, राष्ट्रीय खबर
नई दिल्‍ली न्‍यूज 4 इंडिया। वरिष्‍ठ पत्रकार और अंग्रेजी अखबार राइजिंग कश्‍मीर के संपादक शुजात बुखारी और उनके दो पीएसओ की हत्‍या के मामले में जम्‍मू-कश्‍मीर पुलिस ने 15 जून को एक संदिग्‍ध को गिरफ्तार किया। एक वीडियो में जुबैर कादरी नाम का यह शख्‍स हमले के बाद एक पीएसओ की पिस्‍तौल उठाकर भागता दिखा था कश्‍मीर के आईजी एसपी पाणी ने बताया कि पिस्‍तौल बरामद होने और घटनास्‍थल पर मौजूदगी को लेकर उससे पूछताछ की जा रही है उससे कोई ठोस जवाब नहीं मिला है। इसी बीच केंद्र सरकार ने इस हत्‍याकांड के पीछे पाक खुफिया एजेंसी आईएसआई का हाथ बताया। केंद्रीय मंत्री आरकेसिंहने एक चैनल पर कहा बुखारी की हत्‍या आतंकियों की हरकत है और उनका आका आईएसआई है। घाटी में जब भी कोई सही आवाज उठी है आतंकियों ने उसे चुप करा दिया। 14 जून के आतंकी हमले में मारे गए बुखारी को 15 जून को उनके पैतृक गांव बारामूला के खेरी में सुप
देश के 60 करोड़ लोग जूझ रहे हैं, बाकि भी नहीं बचेंगे

देश के 60 करोड़ लोग जूझ रहे हैं, बाकि भी नहीं बचेंगे

मुख्य समाचार, राष्ट्रीय खबर
नई दिल्‍ली न्‍यूज 4 इंडिया। भारत अपने इतिहास में सबसे गंभीर जल संकट से गुजर रहा है। पानी की कमी से लाखों लोगों और उनकी आजीविका खतरे में है देश में 60 करोड़ लोगों को पानी की गंभीर किल्‍लत झेलनी पड़ रही है। 75 प्रतिशत आबादी को पीने के पानी के लिए दूर-दूर तक जाना पड़ता है। इसके बावजूद जल प्रबंधन को लेकर कई राज्‍य गंभीर नहीं हैं ये बात नीति आयोग की रिपोर्ट में सामने आई है रिपोर्ट में बताया गया हैकि गांवों में 84 प्रतिशत आबादी जलापूर्ति से वंचित है। जिन्‍हें पानी मिल रहा है, उसमें 70 प्रतिशत प्रदूषित है। वैश्विक जल गुणवत्‍ता सूचकांक में 122 देशों में भारत 120वें स्‍थान पर है। नदी विकास, जल संसाधन एवं गंगा संरक्षण मंत्री नितिन गडकरी और नीति आयोग के मुख्‍य कार्यकारी अधिकारी अमिताभ कांत तथा उपाध्‍यक्ष राजीव कुमार ने समेकित जल प्रबंधन सूचकांक नाम से 14 जून को यह रिपोर्ट जारी की है। इसमें जल

पत्रकार की गोली मारकर हत्या

मुख्य समाचार, राष्ट्रीय खबर
श्रीनगर न्‍यूज 4 इंडिया। ईद से ऐन पहले 14 जून को आतंकियों ने कश्‍मीर में दो बड़े हमले किए। छुट्टी लेकर ईद मनाने घर जा रहे सेना के जवान औरंगजेब को शोपियां से अगवा कर बर्बरता से हत्‍या कर दी। वह हिजबुल आतंकी समीर टाइगर को एनकाउंट में मारने वाली टीम में शामिल था। 14 जून को सुबह अपहरण के बाद रात करीब आठ बजे औरंगजेब का गोलियों से छलनी शव मिला। दूसरी तरफ, श्रीनगर में अंग्रेजी अखबार राइजिंग कश्‍मीर के संपादक शुजात बुखारी की आफिस के सामने गोली मारकर हत्‍या कर दी गई। शाम करीब सवा सात बजे वह इफ्तार पार्टी में जाने के लिए आफिस से निकले थे। इसी बीच केंद्र सरकार के सूत्रों ने संकेत दिए कि ईद के बाद कश्‍मीर में आतंकियों के खिलाफ एकतरफा संघर्ष विराम खत्‍म हो जाएगा। संघर्ष विरामके दौरान आतंकी हमलों में कई गुना इजाफा हुआ है। इस मुद्दे पर 14 जून को गृहमंत्री राजनाथ सिंह ने बैठक बुलाई थी। हालांकि अभी
अब पीएचडी धारक ही बनेंगे यूनिवर्सिटी में शिक्षक ,एपीआई सिस्टम खत्म

अब पीएचडी धारक ही बनेंगे यूनिवर्सिटी में शिक्षक ,एपीआई सिस्टम खत्म

मुख्य समाचार, राष्ट्रीय खबर
  नई दिल्‍ली न्‍यूज 4 इंडिया। उच्‍च शिक्षा की गुणवत्‍ता बढ़ाने के लिए केंद्र सरकार ने 13 जून को शिक्षकों की नियुक्ति और पदोन्‍नति से जुड़े नियमों में कई बदलाव किए। कॉलेज शिक्षकों के लिए एपीआई प्रणाली खत्‍म कर दी गई है। 2021-22 से यूनिवर्सिटी में शिक्षकोंकी नियुक्ति के लिए पीएचडी अनिवार्य होगी। सिर्फ राष्‍ट्रीय पात्रता परीक्षा यानी नेट क्‍वालीफाई करना ही पात्रता का पैमाना नहीं होगा। मानव संसाधन विकास मंत्री प्रकाश जावड़ेकर ने कहा यूनिवर्सिटी में नई नियुक्तियां सिर्फ पीएचडी धारकों की होंगी। इसके लिए तीन वर्ष का समय दे रहे हैं 2021 से असिस्‍टेंट प्रोफेसर बनने के लिए पीएचडी जरूरी होगी। मौजूदा व्‍यवस्‍था में मास्‍टर्स डिग्री के साथ पीएचडी धारक या नेट क्‍वालिफाई लोग असिस्‍टेंट प्रोफेसर के लिए आवेदन कर सकते हैं।
जुर्म साबित ,पर नहीं हुई गिरफ्तारी

जुर्म साबित ,पर नहीं हुई गिरफ्तारी

मुख्य समाचार, राष्ट्रीय खबर
पाली न्‍यूज 4 इंडिया। दिल्‍ली के फतेहपुर बेरी स्थित शनिधाम मंदिर के संस्‍थापक दाती मदन राजस्‍थानी के खिलाफ दर्ज दुष्‍कर्म मामले की फाइल 12 जून की रात क्राइम ब्रांच को सौंप दी गई। इस बीच, आरोपी दाती 13 जून को राजस्‍थान के पाली जिले के आलावास स्थित श्रीआश्‍वासन बाल ग्राम में दिनभर साधकों के साथ मीडियाकर्मी से भी मिलते रहे। 13 जून की शाम तक उनके पास पुलिस या दिल्‍ली क्राइम ब्रांच से किसी भी अधिकारी ने संपर्क नहीं किया और न ही उन्‍हें कोई नोटिस मिला। दूसरी ओर, दाती ने दोहराया कि वे निर्दोष हैं और उन्‍हें झूठा फंसाया जा रहा है वे हर तरह की जांच के लिए तैयार हैं दाती महाराज को पूछातछ के लिए बुलाने के सवाल पर क्राइम ब्रांच के ज्‍वांइट कमिश्‍नर आलोक कुमार ने कहा कि यह जांच की प्रक्रिया है।
छात्रों को मिलेंगे कंपनसेटरी मार्क्स 

छात्रों को मिलेंगे कंपनसेटरी मार्क्स 

मुख्य समाचार, राष्ट्रीय खबर
नई दिल्‍ली न्‍यूज 4 इंडिया। कॉमन लॉ एडमिशन टेस्‍ट(क्‍लैट) में तकनीकी खामियों से प्रभावित 4,690 परीक्षार्थियों को सुप्रीम कोर्ट ने 13 जून को बड़ी राहत दी। कोर्टने इन्‍हें कम्‍पनसेटरी मार्क्‍स देने का आदेश दिया है परीक्षा करवाने वाली कोच्चि स्थित नेशनल यूनिवर्सिटी ऑफ एडवांस्‍ड लीग स्‍टडीज(एनयूएएलएस) को 16 जून तक रिवाइज्‍ड मेरिट लिस्‍ट जारी करने होगी। जस्टिस यूयू ललित और दीपक गुप्‍ता की बेंच ने कहा कि यह रिवाइज्‍ड रिजल्‍ट प्रथम चरण की काउंसलिंग को प्रभावित नहीं करेगा। दूसरे चरण की काउंसिलिंग रिवाइज्‍ड मेरिट लिस्‍ट के आधार पर होगी। उल्‍लेखनीय है कि देश की 19 लॉ यूनिवर्सिटीज में दाखिले के लिए 13 मई को क्‍लैट-2018 आयोजित हुआ था। एनयूएएलएस प्रभावित 4690 अभ्‍यर्थियों को कम्‍पनसेटरी मार्क्‍स दे। रिवाइज्‍ड मेरिट लिस्‍ट 16 जून को वेबसाइट पर डालें। 4690 छात्रों में से किसी को पहले वाले रि